Times Now Summit 2021: राजीव चंद्रशेखर ने कहा- इंटरनेट यूजर्स की सुरक्षा के लिए नया कानून लाने की सोच रही सरकार

Times Now Summit 2021: टाइम्स नेटवर्क के ऐतिहासिक सम्मेलन में कौशल विकास और उद्यमिता राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि कोरोना वायरस के प्रकोप से पहले 2.20 करोड़ लोगों को कुशल बनाया गया। 2.2 करोड़ कुशल भारतीयों में से 61 फीसदी को नौकरी मिल चुकी है।

Times Now Summit 2021: Rajeev Chandrasekhar, MoS for Skill Development & Entrepreneurship
Times Now Summit 2021: Rajeev Chandrasekhar, MoS for Skill Development & Entrepreneurship  |  तस्वीर साभार: Times Now
मुख्य बातें
  • आज टाइम्स नाउ समिट 2021 का दिल्ली में शानदार आगाज हुआ
  • राजीव चंद्रशेखर ने कहा-भारत में 2020 से पहले 2.20 करोड़ लोगों को कुशल बनाया गया
  • इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की सुरक्षा के लिए सरकार नए कानून लाने पर विचार कर रही है

नई दिल्ली। टाइम्स नाउ समिट 2021 (Times Now Summit 2021) का बुधवार को शानदार शुभारंभ हुआ। इस मौके पर कौशल विकास और उद्यमिता राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि सरकार इंटरनेट यूजर्स की सुरक्षा के लिए नया कानून लाने पर विचार कर रही है। इस मेगा इवेंट के दौरान टाइम्स नाउ के एडिटर इन चीफ एवं एडिटोरियल डायरेक्टर राहुल शिवशंकर से बात करते हुए, चंद्रशेखर ने कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के एल्गोरिदम को नागरिकों के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि 'अगर इंटरनेट खुला हो, तो यह सुरक्षित और उपभोक्ताओं के लिए भरोसेमंद होना चाहिए। इंटरमीडियरी को यूजर्स के प्रति जवाबदेह होना चाहिए। नियम के कुछ रूप प्रभाव में आ गए हैं। भारत में कुछ ऐसी चीजें हैं जिस पर कोई समझौता नहीं हो सकता।'

उन्होंने कहा कि जो कोई भी इंटरमीडियरी (सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक) के आचरण से व्यथित है, उसे शिकायत अधिकारी के पास शिकायत दर्ज कराने के लिए पत्र या ईमेल लिखकर जवाब मांगने का अधिकार है। उन प्लेटफार्म्स को शिकायत का जवाब देना अनिवार्य है। इसलिए जब तक कोई शिकायत अधिकारी उपभोक्ता की शिकायतों का संतोषजनक हल निकाल रहा है तब तक, राज्य की इसमें बहुत कम भूमिका है।'

जानें कौशल विकास पर मंत्री ने और क्या कहा
चंद्रशेखर ने कहा कि भारत में कोरोना वायरस के प्रकोप से पहले, यानी 2020 से पहले 2.20 करोड़ लोगों को कुशल बनाया गया है। 2.2 करोड़ कुशल भारतीयों में से 61 फीसदी को पहले ही नौकरी मिल चुकी है। उन्होंने आगे कहा कि नई शिक्षा नीति में व्यावसायिक प्रशिक्षण को पाठ्यक्रम में शामिल किया गया है।

राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि, 'हम आईटीआई पर निर्भर होने के बजाय कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए डिजिटल तकनीक का उपयोग कर रहे हैं। घोषित की गई नई शिक्षा नीति स्कूलों में और इंजीनियरिंग कॉलेज में कौशल प्रशिक्षण प्रदान करती है।'

टाइम्स नाउ समिट में भारत की सबसे व्यापक कार्य योजना विकसित होगी - Celebrating India @75 | Shaping India @100. कार्यक्रम में राजनीति, अर्थव्यवस्था एवं अन्य क्षेत्रों की दिग्गज हस्तियां शिरकत करेंगी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर