Sovereign Gold Bonds: क्या है गोल्ड बांड स्कीम, जानें ऑनलाइन कैसे कर सकते हैं इसमें निवेश

SGB Online: भारतीय रिजर्व बैंक ने सॉवरेन गोल्ड बांड्स की तीसरी किश्त जारी की है। आप भी इसमें इंटरनेट बैंकिंग या अपने डीमैट अकाउंट के जरिए ऑनलाइन निवेश कर सकते हैं।

Sovereign Gold Bonds
क्या है गोल्ड बांड स्कीम 

मुख्य बातें

  • सॉवरेन गोल्ड बांड्स की तीसरी किश्त जारी कर दी गई है।
  • जानिए क्या है सॉवरेन गोल्ड बांड स्कीम।
  • ऑनलाइन निवेश के लिए इन बातों का रखें ध्यान

गोल्ड बांड स्कीम की तीसरी किस्त को 8 जून से पांच दिन के लिए खोला जा रहा है। ऐसे में लोग शुक्रवार, 12 जून तक ये बॉन्ड खरीद सकते हैं। वहीं बांड अगले सप्ताह मंगलवार 16 जून को जारी किए जाएंगे। इससे पहले दो सीरीज में निवेश हो चुका है।  विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (FEMA) के तहत कोई भी निवासी एसजीबी में निवेश कर सकता है। वहीं अर्थव्यवस्था की खराब हालत में सोना में निवेश करना बेहतर माना जाता है, क्योंकि इसमें निवेश करने से जोखिम कम होता है और रिटर्न अच्छा मिलता है। 

क्या है सॉवरेन गोल्ड बांड स्कीम
सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम यानी सोने में निवेश करना। यह ​भारत सरकार की ओर से भारतीय रिजर्व बैंर द्वारा जारी किया जाता है। इस स्कीम का मकसद भौतिक सोने की मांग को कम करना है, ताकी भारत में सोने के आयात पर नजर रखी जा सकें और संसाधनों का प्रभावी तरीके से उपयोग किया जा सकें। यह भौतिक सोना रखने के लिए एक बेहतर ऑप्शन हैं। बता दें कि सोने के बाजार दर के साथ सोनो के बांड का मूल्य बढ़ता है। वहीं निवेशकों को जारी मूल्य का भुगतान नकद में करना होगा और बांडों को परिपक्वता पर नकदी में भुनाया जाएगा। अगर आप भी सोना में निवेश करना चाहते हैं तो मोदी सरकार आज (8 जून) से एक बार फिर सोने में निवेश का मौका दे रही है।

ऑनलाइन निवेश के लिए इन बातों का रखें ध्यान

गोल्ड बांड स्कीम पब्लिक से लेकर प्राइवेट सेक्टर के लोग भी निवेश कर सकते हैं। यहां तक ​​कि माता-पिता की देखरेख में नाबालिग भी इसमें निवेश कर सकते हैं। हालांकि एक एनआरआई इस बॉन्ड में निवेश नहीं कर सकता है, लेकिन इन बांड्स को एक निवासी निवेशक के नामित के रूप में रखने की अनुमति है। एसजीबी ​​खरीदने के लिए केवाईसी दस्तावेज जैसे वोटर आईडी, आधार कार्ड / पैन या टैन / पासपोर्ट की आवश्यकता होती है।

एसजीबी ​​के लिए आवेदन न्यूनतम एक ग्राम में और एक ग्राम के गुणक में अधिकतम स्वीकार्य सीमा तक किया जाना है। एक व्यक्ति अधिकतम सीमा 4 किलोग्राम प्रति व्यक्ति खरीद सकते हैं। अन्य पात्र संस्थाएं एक साल में 20 किलोग्राम तक निवेश कर सकती हैं। निवेशक किसी व्यक्ति के पक्ष में उसके द्वारा खरीदे गए या खरीदे गए बांड के संबंध में नामांकन कर सकते हैं। बांड बैंकों, स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन, डाकघरों और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंजों से खरीदे जा सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग के जरिए SGB में ऐसे करें निवेश

  • अगर आपका बैंक आपको सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने की अनुमति देता है, तो चेक करने के लिए इस लिंक https://bit.ly/2VFHnEA को खोलें।
  • अगर हां , तो अपने इंटरनेट बैंकिंग अकाउंट में लॉगिन करें।
  • प्रदान की गई सेवाओं की जांच करें और सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड योजना चुनें। रजिस्ट्रेशन पेज पर, आप अपना डिटेल यानी जैसे नाम, पता, पैन आदि प्रदान करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए डिटेल की पुष्टि करें।
  • नामांकित व्यक्ति जोड़ें। (यह कदम कुछ बैंकों में वैकल्पिक हो सकता है।)
  • आपका बैंक अब आपको एसजीबी की एक इकाई की वर्तमान कीमत दिखाएगा। उन इकाइयों की संख्या दर्ज करें जिन्हें आप खरीदना चाहते हैं और आगे बढ़ना चाहते हैं।
  • भुगतान करें। (आप खरीदी गई यूनिटों की जांच कर सकते हैं।)

डीमैट अकाउंट के जरिए एसजीबी में ऐसे करें निवेश

  • सबसे पहले अपने डीमैट अकाउंट में लॉगिन करें।
  • इसके बाद बांड खरीदने के लिए ऑनलाइन फॉर्म भरें।
  • भुगतान ऑनलाइन करें, इसके बाद एसजीबी यूनिट को आपके डीमैट अकाउंट में जमा किया जाएगा।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर