Train Ticket Reservation: अब रिजर्वेशन काउंटर पर होगा रेल आरक्षण, पोस्ट ऑफिस से भी करा सकते हैं ट्रेन टिकट बुक

बिजनेस
रवि वैश्य
Updated May 22, 2020 | 15:27 IST

Train Ticket Reservation Counters:रेलवे ने फैसला लिया है कि काउंटर से भी टिकट बुक किए जा सकेंगे जिसकी शुरुआत 22 मई यानि शुक्रवार से हो गई है, पहले  ऑनलाइन ही टिकट बुक करने की अनुमति मिली थी।

RAIL RESERVATION COUNTER  NOW OPEN
आरक्षित टिकट की बुकिंग और कैंसिलेशन की सुविधा पोस्ट ऑफिस पर भी उपलब्ध होगी  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • शुक्रवार से चरणबद्ध तरीके से आरक्षण टिकट खुलेंगे जिससे लोगों को सुविधा रहेगी
  • आरक्षित टिकट की बुकिंग और कैंसिलेशन की सुविधा पोस्ट ऑफिस पर भी उपलब्ध होगी
  • रेलवे टिकट एजेटों के जरिए कॉमन सर्विस सेंटर्स से टिकटों के आरक्षण की भी अनुमति देगा

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के चलते लोगों में अपने घर वापसी की होड़ है और वो किसी भी कीमत पर अपने घर जाना चाहते हैं, रेलवे प्रवासी श्रमिकों के लिए स्पेशल ट्रेनें चला रहा है वहीं 1 जून से 200 पैसैंजर ट्रेनें भी चलाने की घोषणा होने के बाद से लोगों ने राहत की सांस ली है, वहीं अब रेलवे ने कहा कि शुक्रवार से चरणबद्ध तरीके से आरक्षण टिकट खुलेंगे जिससे लोगों को सुविधा रहेगी।

रेलवे बोर्ड के आदेश में कहा गया है कि रेलवे शुक्रवार से टिकट एजेटों के जरिए सामान्य सेवा केंद्रों यानी कॉमन सर्विस सेंटर्स से टिकटों के आरक्षण की भी अनुमति देगा। यानि आरक्षित यात्रा के लिए यात्री स्टेशनों, रेलवे परिसरों में काउंटर से टिकटों की बुकिंग करा सकेंगे वहीं  टिकटों की बुकिंग के दौरान सोशल डिस्टेंसिग की जिम्मेदारी जोनल रेलवे की होगी।

आरक्षित टिकट की बुकिंग और कैंसिलेशन की सुविधा पोस्ट ऑफिस पर भी उपलब्ध होगी वहीं IRCTC के आधिकारिक एजेंट्स भी रेल टिकट बुक कर सकेंगे।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि देशभर के करीब 1.7 लाख ‘कॉमन सर्विस सेंटरों’ पर ट्रेन टिकटों की बुकिंग शुक्रवार से बहाल हो जाएगी जिससे ऐसे दूरस्थ स्थानों पर भी सेवाएं उपलब्ध हो सकेंगी जहां कम्प्यूटरों और इंटरनेट की उपलब्धता बहुत कम है या नहीं है। ‘कॉमन सर्विस सेंटर’ ग्रामीण और दूरस्थ स्थानों पर सरकार की ई-सेवाओं को उपलब्ध कराने वाले केंद्र हैं।

गौरतलब है कि पूरे देश में 25 मार्च से रेलसेवा बंद है। एक मई से श्रमिक स्पेशल ट्रेन की शुरुआत की गई वहीं अब 1 जून से 200 ट्रेनें चलाई जा रही हैं। 

ये सेंटर उन स्थानों पर होते हैं जहां कम्प्यूटरों और इंटरनेट की उपलब्धता बहुत कम है या नहीं है। मंत्री ने यह भी कहा कि अगले दो से तीन दिनों में कुछ स्टेशनों में काउंटरों पर भी बुकिंग शुरू होगी।

लोग बड़ी संख्या में लोग एकत्रित न हों इसके लिए प्रोटोकॉल 

गोयल ने कहा कि हमें भारत को सामान्य स्थिति की ओर ले जाना है। हम उन स्टेशनों की पहचान करने का प्रोटोकॉल बना रहे हैं जहां काउंटरों को खोला जा सकता है।

हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि काउंटरों पर टिकट बुक कराने के लिए बड़ी संख्या में लोग एकत्रित न हों इसलिए हम स्थिति का आकलन कर रहे हैं और इसके लिए प्रोटोकॉल बना रहे हैं। 

रेल मंत्री ने कहा कि हम और ट्रेनों को चलाने की जल्द ही घोषणा करेंगे। उन्होंने कहा कि एक मई से श्रमिक विशेष ट्रेनें शुरू करने वाले रेलवे ने तब से ऐसी 2,050 ट्रेनें चलाईं जिनमें करीब 30 लाख प्रवासियों, छात्रों और अन्य फंसे लोगों को ले जाया गया।

अगली खबर