आधार, DBT से 2 लाख करोड़ रु को गलत हाथों में जाने से बचे: पीएम मोदी

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Aug 15, 2022 | 13:52 IST

PM Narendra Modi Independence Day Speech 2022: केंद्र सरकार ने जनता से भारत के 76वें स्वतंत्रता दिवस के समारोह में भाग लेने के लिए 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों में तिरंगा फहराने का आग्रह किया था।

Prime Minister Narendra Modi government saved 2 lakh crore by using Aadhaar Card and mobile
देशभर में जश्न का माहौल, PM ने कहा- आधार, DBT से 2 लाख करोड़ रु को गलत हाथों में जाने से बचे 
मुख्य बातें
  • सोमवार को भारत में 76वां स्वतंत्रता दिवस मनाया जा रहा है।
  • प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया।
  • सरकार ने 'हर घर तिरंगा' सहित कई कार्यक्रम शुरू किए हैं।

Independence Day Speech: प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कहा कि सरकार ने पिछले 8 सालों में आधार कार्ड (Aadhaar Card) और मोबाइल जैसे मॉडर्न सिस्टम का इस्तेमाल करके डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT) के माध्यम से 2 लाख करोड़ रुपये 'गलत हाथों' में जाने से बचाया है। पीएम मोदी ने कहा कि, 'हम गलत हाथों में पड़ने वाले 2 लाख करोड़ रुपये को बचाने और देश की भलाई के लिए इस्तेमाल करने में सक्षम हैं।'

जबकि आधार और डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर दोनों को स्वतंत्र एजेंसियों द्वारा सरकारी योजनाओं के प्रसार में लीकेज को रोकने में भूमिका निभाने के लिए सराहा गया है, कुछ ऐसी घटनाएं भी सामने आई हैं जिनमें सरकारी स्कीम (Government Scheme) को धोखाधड़ी से एक्सेस करने के लिए आधार डेटा का दुरुपयोग किया गया था।

Independence Day 2022: अंबानी परिवार ने मनाया आजादी का जश्न, पोते पृथ्वी ने भी लहराया तिरंगा, देखें वीडियो

पीएलआई स्कीम से हुआ फायदा
मोदी ने विभिन्न उद्योगों के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजना की शुरुआत के माध्यम से विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए अपनी सरकार के प्रयासों पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पीएलआई योजनाओं के माध्यम से, हम दुनिया के विनिर्माण पावरहाउज बन रहे हैं। लोग 'मेक इन इंडिया' के लिए भारत आ रहे हैं।

प्रधान मंत्री ने 76 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले से राष्ट्र को संबोधित करते हुए 'भ्रष्टाचार' और 'भाई- भतीजावाद' को दो बुराइयों के रूप में चिह्नित किया, जिनसे देश को लड़ना है। उन्होंने कहा कि हमें उन लोगों को अवसर देने की आवश्यकता है जो प्रतिभाशाली हैं और राष्ट्र की प्रगति के लिए काम करेंगे। दुनिया जिस तरह से भारत को देख रही है, वह बदल रहा है। भारत से उम्मीद है और इसका कारण 130 करोड़ भारतीयों का कौशल है।

भारत ने समय से पहले हासिल किया पेट्रोल में 10 फीसदी एथनॉल मिलाने का लक्ष्य: पीएम मोदी

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर