Pensioners Life Certificate: एनआरआई पेंशनर्स कैसे जमा कर सकते हैं लाइफ सर्टिफिकेट, पूरी जानकारी

बिजनेस
ललित राय
Updated Oct 08, 2021 | 07:43 IST

पेंशनभोगियों के लिए जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन या व्यक्तिगत रूप से बैंकों या डाकघरों में जमा किया जा सकता है। पेंशनभोगी इसके लिए घर-घर सेवाओं का भी लाभ उठा सकता है।

pensioners life certificate,pensioners life certificate online,
एनआरआई पेंशनर्स कैसे जमा कर सकते हैं लाइफ सर्टिफिकेट, पूरी जानकारी 

केंद्र सरकार के पेंशनभोगियों को पेंशन प्राप्त करना जारी रखने के लिए अनिवार्य रूप से वर्ष में एक बार जीवन का प्रमाण प्रस्तुत करना आवश्यक है। पेंशनभोगियों को नवंबर माह में वार्षिक जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा। 80 वर्ष से अधिक आयु वालों को 1 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच इसे जमा करने के लिए एक अतिरिक्त महीना मिलता है।यह प्रमाणपत्र ऑनलाइन या व्यक्तिगत रूप से बैंकों या डाकघरों में जमा किया जा सकता है। पेंशनभोगी इसके लिए घर-घर सेवाओं का भी लाभ उठा सकता है।

​पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग की तरफ से खास इंतजाम
पेंशन और पेंशनभोगी कल्याण विभाग (DoPPW) ने विभिन्न तरीकों को सूचीबद्ध किया है कि पेंशनभोगी जीवन प्रमाण पत्र कैसे जमा कर सकते हैं।यदि पेंशनभोगी शारीरिक रूप से पीडीए के समक्ष उपस्थित होता है, तो पेंशन संवितरण बैंकों (पीडीए) द्वारा जीवन प्रमाण पत्र दर्ज किए जा सकते हैं। हालांकि, पेंशनभोगी की व्यक्तिगत उपस्थिति की आवश्यकता नहीं है, अगर पेंशनभोगी किसी 'नामित अधिकारी' द्वारा हस्ताक्षरित जीवन प्रमाण पत्र फॉर्म जमा करता है। एक पेंशनभोगी जो निर्दिष्ट व्यक्तियों द्वारा हस्ताक्षरित निर्धारित फॉर्म में जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत करता है, उसे व्यक्तिगत उपस्थिति से छूट दी जाती है।

डिजिटल तरीके से पेश किया जा सकता है लाइफ सर्टिफिकेट
पेंशनभोगी जीवन प्रमाण पोर्टल, पेंशनभोगियों के लिए बायोमेट्रिक-सक्षम डिजिटल सेवा के माध्यम से घर से जीवन प्रमाण पत्र ऑनलाइन जमा कर सकते हैं। पोर्टल के माध्यम से प्रमाण पत्र जमा करने की प्रक्रिया https://youtu.be/nNMIkTYqTF8 पर देखी जा सकती है।यूआईडीएआई ने सभी बायोमेट्रिक उपकरणों का विवरण प्रदान किया है जो किसी व्यक्ति के बायोमेट्रिक्स को कैप्चर करने के लिए अनुमत हैं। विभाग ने कहा कि पेंशनभोगी ऐसे सभी उपकरणों की जानकारी के लिए वेबसाइट www.uidai.gov.in पर जा सकते हैं।

डोरस्टेप सर्विस फॉर डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट थ्रू पोस्टमैन'
एक पेंशनभोगी इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) और एमईआईटी की 'डोरस्टेप सर्विस फॉर डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट थ्रू पोस्टमैन' के माध्यम से नवंबर 2020 में शुरू की गई सेवाओं का भी लाभ उठा सकता है। यह योजना डाकियों और ग्रामीण डाक सेवकों के विशाल नेटवर्क का उपयोग डोरस्टेप प्रदान करने में करती है। डिजिटल रूप से जीवन प्रमाण पत्र जमा करने के लिए पेंशनभोगियों को संग्रह की सुविधा। आईपीपीबी के 1,89,000 से अधिक डाकिया और ग्रामीण डाक सेवक दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने के लिए स्मार्टफोन और बायोमेट्रिक उपकरणों से लैस हैं। मोबाइल के जरिए इस सेवा का इस्तेमाल करने के लिए पेंशनभोगी को गूगल प्ले स्टोर से पोस्ट इन्फो एप डाउनलोड करना होगा। डाकिया के माध्यम से डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र जमा करने की प्रक्रियाhttps://voutu.be/cERwM U7g54 पर देखी जा सकती है।

जो भारत आने में असमर्थ उनके लिए भी इंतजाम
एनआरआई पेंशनभोगियों के मामले में, पारिवारिक पेंशनभोगी जो व्यक्तिगत पहचान के लिए भारत आने में असमर्थ हैं, वे उस देश में भारतीय दूतावास, भारतीय उच्चायोग या भारतीय वाणिज्य दूतावास के एक अधिकृत अधिकारी द्वारा जारी किया गया प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर सकते हैं जहां पेंशनभोगी निवास कर रहा है। .यह प्रमाण पत्र पेंशनभोगी, पारिवारिक पेंशनभोगी के पीपीओ में फोटोग्राफ के आधार पर या पासपोर्ट पर चिपकाए गए फोटोग्राफ या ऐसे किसी अन्य दस्तावेज के आधार पर जारी किया जाना है।

यदि पेंशनभोगी, या पारिवारिक पेंशनभोगी दूतावास, वाणिज्य दूतावास का दौरा करने में असमर्थ है, तो आवश्यक दस्तावेज डाक द्वारा दूतावास, वाणिज्य दूतावास को प्रस्तुत किए जा सकते हैं, जिसमें पेंशनभोगी की व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने में असमर्थता दर्शाने वाला डॉक्टर का प्रमाण पत्र भी शामिल है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर