पाकिस्तान में कहर बरपा रही है महंगाई, एक ही झटके में 19 रुपये तक बढ़े पेट्रो प्रोडक्ट्स के दाम

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jul 01, 2022 | 17:31 IST

Pakistan petroleum prices: अप्रैल 2022 में शहबाज शरीफ (Shehbaz Sharif) सरकार के सत्ता संभालने के बाद से पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स में चार बार बढ़ोतरी की जा चुकी है।

Pakistan hikes petroleum prices deal with IMF petrol price in Pakistan
Pakistan petroleum prices: पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमतों में लगी आग! (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • आईएमएफ ने राहत पैकेज फिर से शुरू करने के लिए सख्त शर्तें रखी हैं।
  • 22 जून को पाकिस्तान ने रुके हुए छह अरब डॉलर के पैकेज को बहाल करने के लिए राह खोलने के लिए समझौता किया था।
  • 22 जून को पाकिस्तान ने रुके हुए छह अरब डॉलर के पैकेज को बहाल करने के लिए राह खोलने के लिए समझौता किया था।

Pakistan petroleum prices: भारत में महंगाई से जनता काफी परेशान है, लेकिन अगर आपको पड़ोसी देश पाकिस्तान में महंगाई स्थिति पता चलेगी, तो आप हैरान रह जाएंगे। पाकिस्तान में महंगाई इस कदर बढ़ चुकी है वहां की सरकार भी महंगाई पर काबू पाने के लिए लगातार असफल हो रही है। अब आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने बड़ा कदम उठाया है। पड़ोसी मुल्क में पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स की कीमतों में भारी बढ़ोतरी कर दी है। दरअसल अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की ओर से रखी गई शर्तों के अनुरूप पाकिस्तान की सरकार ने यह बढ़ोतरी की है।

कितनी हुई बढ़ोतरी?
पड़ोसी मुल्क में अब सभी पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत में करीब 14 रुपये प्रति लीटर से 19 रुपये प्रति लीटर तक की बढ़ोतरी हो गई है। इस संदर्भ में पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय की ओर नोटिफिकेशन जारी जारी की गई, जिसके अनुसार सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपये प्रति लीटर और हाई स्पीड डीजल (HSD) पर पांच रुपये प्रति लीटर पेट्रोलियम शुल्क लगाया है। इसके अलावा केरोसिन और हल्के डीजल तेल (LDO) पर भी पांच रुपये प्रति लीटर का पेट्रोलियम शुल्क लगाया गया है। अब पाकिस्तान में पेट्रोल की कीमत (Petrol Price in Pakistan) में 14.85 रुपये, एचएसडी में 13.23 रुपये, मिट्टी के तेल में 18.83 रुपये और एलडीओ में 18.68 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है, जिसके बाद पाकिस्तान में पेट्रोल की एक्स-डिपो कीमत 248.74 रुपये प्रति लीटर हो गई। एचएसडी 276.54 रुपये, केरोसिन 230.26 रुपये और एलडीओ 226.15 रुपये का हो गया है।

पेट्रोल, डीजल और ATF के निर्यात पर लगी एक्साइज ड्यूटी, इससे आपको फायदा होगा या नुकसान?

पाकिस्तान की सरकार ने क्यों लिया ये फैसला?
नकदी की कमी के बीच आईएमएफ की ओर से 6 अरब डॉलर का राहत पैकेज बहाल करने की उम्मीद में सरकार ने यह कदम उठाया है। वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल (Miftah Ismail) ने कहा कि इमरान खान (Imran Khan) की अगुआई वाली सरकार के समझौतों से मुकर जाने के बाद निलंबित कर दिए गए अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष राहत कार्यक्रम को बहाल करने के लिए यह किया गया है।

झटका! अब सोना खरीदना होगा और भी महंगा, सरकार ने बढ़ा दी है इंपोर्ट ड्यूटी

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर