नई दिल्ली से पटना स्पेशल ट्रेन: जानिए टाइम टेबल और कहां-कहां है स्टॉपेज

New Delhi-Patna special train : देशव्यापी लॉकडाउन के बीच 12 मई से यात्री ट्रेन सेवा शुरू हो रही है। जानिए दिल्ली और पटना के चलाई जानी वाली ट्रेन के बारे में।

New Delhi to Patna Jn Special Train
नई दिल्ली से पटना स्पेशल ट्रेन (फोटो सौजन्य-Pixabay) 

मुख्य बातें

  • भारतीय रेलवे ने 12 मई से शुरू करने का ऐलान कर दिया है
  • टिकटों की बुकिंग आज शाम से शुरू हो रही है
  • बिहार जाने के लिए नई दिल्ली से एक स्पेशल ट्रेन चलाई गई है

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की वजह से 25 मार्च को देशव्यापी लॉकडाउन शुरू हुआ और इसे दो बार बढ़ाकर 17 मई तक कर दिया गया। तब से लेकर अपने शुरुआत से कभी नहीं थमने वाली भारतीय ट्रेन ठहरी हुई है। लेकिन अब भारतीय रेलवे ने फिर से कल यानी 12 मई से शुरू करने का ऐलान कर दिया है। यात्री ट्रेन चलने का ऐलान होने के साथ ही देशवासियों में खुशी की लहर उमड़ पड़ी। लॉकडाउन की वजह से देश के विभिन्न भागों में फंसे लोग अपने घरों के लिए बेताब है। उनके लिए बड़ी राहत की बात है। बिहार जाने के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाई गई है जो दिल्ली से चलकर पटना के राजेंद्र नगर स्टेशन तक जाएगी। नीचे जानिए यह कब और कहां से चलेगी। इसकी स्टॉपेज कहां कहां होगी।

12 मई को पटना के राजेंद्र नगर से शाम सात बजे चलेगी ओर सुबह 07 बजकर 40 मिनट में दिल्ली पहुंचेगी। दूसरे दिन यानी 13 मई को वही ट्रेन नई दिल्ली से शाम 5 बजकर 15 मिनट में चलेगी और अगले दिन सुबह 5 बजकर 30 मिनट पर राजेंद्र नगर पहुंचेगी। खुशी की बात यह है कि ये ट्रेन रोज चलेंगी। यात्रा के दौरान ये ट्रेन पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज जंक्शन, कानुपर सेंट्रल में रूकेगी। और किसी अन्य स्टेशनों पर स्टॉपेज नहीं दी गई है।

इन जगहों के लिए चलेंगी स्पेशल ट्रेन
गौर हो कि ये स्पेशल ट्रेनें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलेंगी और डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी को जाएंगी। भारतीय रेल ने कहा कि शुरुआत में सभी 15 राजधानी ट्रेनों के रूटों पर एसी सेवाएं शुरु होंगी और उनका किराया सुपर-फास्ट ट्रेनों के समान होगा।

उधर केंद्र सरकार ने रविवार को सभी राज्यों से अपील की कि फंसे हुए श्रमिकों के लिए और स्पेशल रेलगाड़ियों के संचालन को अनुमति दें ताकि वे अगले चार दिनों के अंदर अपने घर पहुंच सकें। रेलवे ने कहा कि एक मई से इसने अभी तक 366 ऐसी 'श्रमिक स्पेशल' ट्रेनों का संचालन किया है और करीब 4 लाख प्रवासियों को उनके घर तक पहुंचाया है।  
  

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर