अगले साल से कर पाएंगे Jhunjhunwala की सस्ती एयरलाइंस से सफर, दिए 72 प्लेन के ऑर्डर

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Nov 17, 2021 | 09:56 IST

Rakesh Jhunjhunwala’s Akasa Air: राकेश झुनझुनवाला की कंपनी अकासा एयर ने 72 'मैक्स 737' हवाई जहाजों का ऑर्डर दिया है।

Rakesh Jhunjhunwala
Rakesh Jhunjhunwala की Akasa Air ने दिए 72 प्लेन के ऑर्डर  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • अकासा एयरलाइंस की 2022 की गर्मियों में विमान सेवा शुरू करने की योजना है।
  • कंपनी ने करीब करीब 9 अरब डॉलर के 72 'मैक्स 737' हवाई जहाजों का ऑर्डर दिया।
  • इस ऑर्डर में 737 मैक्स के दो वेरिएंट शामिल हैं।

Rakesh Jhunjhunwala’s Akasa Air: दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला (Rakesh Jhunjhunwala) जल्द ही नई एयरलाइन कंपनी शुरू करने वाले हैं। इसके लिए झुनझुनवाला की कंपनी अकासा एयर (Akasa Air) ने 72 'मैक्स 737' हवाई जहाजों (MAX 737 airplanes) का ऑर्डर दिया है। डील के अनुसार, 72 विमानों की कीमत करीब 9 अरब डॉलर है।

इस संदर्भ में अकासा एयर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) विनय दुबे ने कहा कि, 'हम पहले हवाई जहाज के ऑर्डर के लिए बोइंग (Boeing) के साथ साझेदारी करके खुश हैं। साथ ही अकासा एयर के बिजनेस प्लान और लीडरशिप टीम में उनके विश्वास के लिए उनका धन्यवाद देते हैं। हमें विश्वास है कि हम नए 737 मैक्स हवाई जहाज से एक किफायती और विश्वसनीय एयरलाइन चला पाएंगे और साथ ही यह कंपनी पर्यावरण के अनुकूल होगी।'

अगले साल शुरू होगी कंपनी
अकासा ने 2022 की गर्मियों में वाणिज्यिक उड़ानों की पेशकश करने और पूरे भारत में बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए 737 के अपने नए बेड़े का उपयोग करने की योजना बनाई है। अकासा एयर के ऑर्डर में 737 मैक्स परिवार के दो वेरिएंट शामिल हैं। इनमें 737-8 और उच्च क्षमता वाला 737-8-200 शामिल है। बोइंग ने एक बयान में कहा कि, एयरलाइन को अपना एयर ऑपरेटिंग परमिट प्राप्त करने और अनुसूचित वाणिज्यिक सेवा शुरू करने के लिए पहली डिलीवरी अगले साल की शुरुआत में शुरू होने की उम्मीद है।

Akasa के बोर्ड में इंडिगो के पूर्व प्रेसिडेंट भी शामिल
मालूम हो कि Akasa एयरलाइंस को नागरिक उड्डयन मंत्रालय से NOC मिल चुका है। झुनझुनवाला की नई एयरलाइन के कंपनी के बोर्ड में इंडिगो के पूर्व प्रेसिडेंट आदित्य घोष भी शामिल हैं। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) द्वारा एयरलाइन कंपनियों को मैक्स जेट उड़ाने की अनुमति देने के महीनों बाद अकासा एयरलाइन ने ऑर्डर दिया। उल्लेखनीय है कि पांच महीनों में दो घातक दुर्घटनाओं में 346 लोगों की मृत्यु हो गई थी। करीब ढाई साल बाद नियामक ग्राउंडिंग को समाप्त किया गया।

बोइंग की हालत में सुधार की उम्मीद
9 अरब डॉलर की इस डील से न सिर्फ अकासा एयर को फायदा होगा, बल्कि अमेरिकी ग्लोबल एयरोस्पेस कंपनी बोइंग को भी लाभ होगा। इससे बोइंग की हालत में भी सुधार की उम्मीद है। इंडस्ट्री कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) से अपने सबसे बुरे दौर में चल रही है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर