Sanitise Currency Notes: करेंसी नोट और सिक्कों से भी है कोरोना का खतरा, संक्रमण से बचने के लिए अपनाएं ये तरीका

How to disinfect your cash: करेंसी नोट और सिक्कों से भी कोरोना वायरस फैलने खतरा हो सकता है। ऐसे में इन्हें इस्तेमाल करने का सुरक्षित तरीका अपनाना बहुत जरूरी हैं।

disinfect your cash
करेंसी नोट और सिक्कों से भी है कोरोना वायरस का खतरा 

मुख्य बातें

  • कोरोना के कारण भारत में डिजिटल पेमेंट तेजी से बढ़ रहा है।
  • इसके बावजूद करेंसी नोट और सिक्कों का अधिक मात्रा में उपयोग किया जाता है।
  • इन पैसों के जरिए कोरोना वायरस घर के अंदर आ सकता है।

कोरोना वायरस की वजह से इन दिनों डिजिटल पेमेंट में बढ़ोतरी हुई है। इसके जरिए आप करेंसी नोट और सिक्कों को सीधे तौर पर इस्तेमाल करने से बच सकते हैं। वहीं इसी बीच ऐसी कई खबरें आईं हैं, जहां लोग करेंसी नोट को सैनिटाइज करने के लिए पानी से साफ कर रहे हैं, इसके अलावा कुछ ऐसे भी लोग हैं जो नोटों को माइक्रोवेव में रख रहे हैं। लेकिन करेंसी नोट और सिक्कों को सैनिटाइज करने का सही तरीका ये नहीं है।

इन दिनों भारत में डिजिटल पेमेंट तेजी से बढ़ रहा है, तब भी करेंसी नोट और सिक्कों का अधिक मात्रा में उपयोग किया जाता है। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल है कि इस परेशानी से निपटने के लिए क्या करना चाहिए। इन पैसों के जरिए कोरोना वायरस घर के अंदर आ सकता है। वहीं जब बात पैसे की आती है तो लोग अधिक सतर्क हो जाते हैं। एक्सपर्ट के मुताबिक कोरोना वायरस सतह पर 24 घंटे तक जीवित रह सकता है।

ऐसे में कुछ तरीकों को अपनाकर इन करेंसी नोट और सिक्कों को न सिर्फ सैनिटाइज कर सकते हैं बल्कि उसे वायरस मुक्त भी रख सकते हैं। करेंसी को साफ करने के लिए सिरका और नमक, साबुन का पानी या यहां तक ​​कि जीवाणुरोधी स्प्रे जैसी चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि ऐसा करते वक्त कुछ बातों का खास ख्याल रखना होगा।

डिजिटल भुगतान पर स्विच करें: 2014 के बाद से मोदी सरकार की सबसे बड़ी पिच कैशलेस अर्थव्यवस्था रही है। देश तेजी से डिजिटल पेमेंट और मोबाइल पेमेंट ऐप जैसे Google Pay, पेटीएम, JIO मनी या Payzapp का इस्तेमाल कर रहा है। आप संपर्क रहित भुगतान के लिए हार्ड कैश पर ऐसे ऐप्स का उपयोग करना बेस्ट ऑप्शन है। जब भी और जहां भी मशीन उपलब्ध हो, आप अपने क्रेडिट कार्ड / डेबिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं और फिर बाद में अपने सैनिटाइजर से कार्ड को साफ कर सकते हैं।

गल्वस पहनें: कोरोना महामारी से बचने के लिए मास्क और गल्वस जरूर पहनें। जब भी आप किसी वेंडर या फिर दुकानदार के संपर्क में आते हैं तो उनके द्वारा दिए गए वस्तु को सीधे तौर पर न छुएं। इससे बचने के लिए गल्वस पहनना एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है। इस तरह आप खुद को दुकानदार के संपर्क में आने से रोक सकते हैं। वहीं इस्तेमाल किए गए गल्वस को से डिब्बा बंद कचरे में फेंके।

पैसों को आयरन करें: कई ऐसी खबरें आईं, जहां लोग अपने पैसों को सैनिटाइज करने के लिए गलत तरीका अपना रहे थे।  वायरस से बचने के लिए पैसों को प्रेस कर सकते हैं। जिस तरह आपको कपड़ों को प्रेस करते हैं, उसकी तरह नोटों को भी प्रेस करें। ऐसा करने के लिए नोटों के ऊपर न्यूजपेपर रखें, उसके बाद उसे प्रेस कर दें। इस दौरान आयरन को अधिक गर्म न रखें।

 

पैसों को रखने के लिए अलग बैग का इस्तेमाल करें: बिना गल्वस पहलें अपने पैसों को टच न करें। अगर आपके पास गल्वस नहीं है तो उन्हें अलग बैग में रखें। बैग को धोया जा सकता है या फिर सैनिटाइज कर सकते हैं।

सिक्के को ऐसे धोएं: नोटों की तुलना में सिक्कों को साफ करना आसान है। इसके लिए इन्हें गर्म पानी में रख दें या फिर आप डिशवॉशिंग डिटर्जेंट का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा टूथब्रश का उपयोग करके उन्हें साफ कर सकते हैं।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर