Budget 2022: क्या है हलवा सेरेमनी, इसका इतिहास और महत्व, जानें सबकुछ

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jan 26, 2022 | 13:59 IST

Union Budget 2022-23, Halwa Ceremony: हलवा सेरेमनी के बाद वित्त मंत्रालय के करीब 100 कर्मचारी नॉर्थ ब्लॉक के बेसमेंट में रहते हैं।

Budget 2022: All you need to know about the customary Halwa Ceremony
Budget 2022: क्या है हलवा सेरेमनी? क्या है इसका इतिहास और महत्व, जानें सबकुछ  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • हर साल बजट की प्रिंटिंगसे पहले वित्त मंत्रालय में हलवा बनाया जाता है और बांटा जाता है।
  • वित्त मंत्री खुद हलवा सेरेमनी की अगुवाई करते हैं।
  • वित्त मंत्रालय के अन्य अधिकारी भी इस रस्म में शामिल होते हैं।

Budget 2022, Halwa Ceremony: बजट 2022 (Budget 2022) पेश होने में कुछ ही दिन बाकी हैं। हर साल बजट से पहले 'हलवा सेरेमनी' की रस्म मनाई जाती है। इसके बाद ही आधिकारिक तौर पर बजट की छपाई शुरू होती है। परंपरा के तहत हलवा एक बड़े बर्तन में तैयार किया जाता है और इसे बजट तैयार करने में शामिल वित्त मंत्रालय के अधिकारियों और सहायक कर्मचारियों को परोसा जाता है।

कौन होता है हलवा सेरेमनी में मौजूद?
हलवा सेरेमनी वित्त मंत्रालय द्वारा आयोजित की जाती है। इसमें वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) सहित मंत्रालय के अन्य अधिकारी मौजूद होते हैं।

Budget 2022: ये महारथी तैयार कर रहे हैं देश का बजट, जानें वित्त मंत्री की टीम की विशेषता

कहां होती है हलवा सेरेमनी?
हलवा सेरेमनी नॉर्थ ब्लॉक (North Block) में आयोजित होती है। हर साल सरकार बजट पेश होने से कुछ दिन पहले हलवा समारोह आयोजित करने की वार्षिक परंपरा का पालन करती है।

Budget 2022: कैसे बनता है देश का बजट? डिटेल में जानें पूरा प्रोसेस

हलवा सेरेमनी का इतिहास
जहां तक ​​हलवा सेरेमनी के इतिहास का सवाल है, तो इस बात की कोई ऐतिहासिक पुष्टि नहीं है कि यह पहली बार कब शुरू हुई थी, लेकिन यह एक परंपरा बन गई है जो दशकों से चली आ रही है। यह समारोह एक महत्वपूर्ण कार्य शुरू करने से पहले कुछ मीठा खाने की भारतीय परंपरा के एक भाग के रूप में किया जाता है।

Budget 2022: बजट को आसानी से समझने के लिए जानें इन शब्दों के अर्थ, नहीं आएगी कोई दिक्कत

हलवा समारोह का महत्व
हलवा तैयार होने और परोसने के बाद, वित्त मंत्रालय के 100 से अधिक कर्मचारी नॉर्थ ब्लॉक के बेसमेंट में रहते हैं। वे बजट पेश होने तक नॉर्थ ब्लॉक कार्यालय में रहते हैं। प्रक्रिया में शामिल अधिकारी केवल नामित मोबाइल फोन के माध्यम से अपने परिवारों से ही संपर्क कर सकते हैं। इस परंपरा के पीछे मुख्य उद्देश्य बजट दस्तावेजों की गोपनीयता बनाए रखना है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर