CM योगी की मुहिम लाई रंग, ग्रेटर नोएडा में कैंपस खोलेगी माइक्रोसॉफ्ट

बिजनेस
आलोक राव
Updated Jun 29, 2020 | 23:26 IST

Microsoft to open a campus in Greater Noida : यूपी में विदेशी निवेश लाने की सीएम योगी आदित्यनाथ की मुहिम रंग दिखा रही है। सॉफ्टवेयर की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ग्रेटर नोएडा में अपना कैंपस खोलने जा रही है।

Big boost for foreign investment Microsoft to open a campus in Uttar Pradesh
ग्रेटर नोएडा में 4000 की क्षमता वाला कैंपस खोलेगी माइक्रोसॉफ्ट। 

मुख्य बातें

  • विदेशी निवेश आकर्षित करन में यूपी की योगी सरकार को मिली बड़ी सफलता
  • ग्रेटर नोएडा में 4000 कर्मचारियों की क्षमता वाला अपना कैंपस खोलेगी माइक्रोसॉफ्ट
  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह कंपनी के फैसले में दी जानकारी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश विदेश कंपनियों के निवेश का नया स्थल बन गया है। विदेश की नामी-गिरामी कंपनियां अब यूपी का रुख करने लगी हैं। सूचना प्रौद्योगिकी एवं सॉफ्टवेयर की दिग्गज कंपनी माइक्रोसाफ्ट अब ग्रेटर नोएडा में अपना कैंपस खोलेगी। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार को इसके बारे में जानकारी दी। माइक्रोसाफ्ट इंडिया का ग्रेटर नोएडा में अपना कैंपस खोलने का फैसला राज्य में विदेशी निवेश लाने के योगी सरकार के प्रयासों पर मुहर लगाता है। ग्रेटर नोएडा में सॉफ्टवेयर की दिग्गज कंपनी 4000 कर्मचारियों की क्षमता वाला कैंपस खोलेगी।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने दी जानकारी
सिद्धार्थ नाथ सिंह ने माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के इस फैसले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कंपनी ने अपना ग्रेटर नोएडा में अपना कैंपस खोलने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार से बातचीत की है। उन्होंने कहा, 'मैंने माइक्रोसॉफ्ट इंडिया को भरोसा दिया कि उसका स्वागत रेड कॉर्पेट से किया जाएगा।' एमएसएमई मंत्री सिंह की वर्चुअल बैठक माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के एमडी राजीव कुमार के साथ हुई। इस अहम बैठक में कैंपस खोलने के बारे में विस्तार से चर्चा हुई। कंपनी शीघ्र ही कैंपस खोलने के लिए ग्रेटर नोएडा में साइट का दौरा करेगी। 

राज्य में विदेशी निवेश की राह आसान बनाएगी योगी सरकार
ईटी से बातचीत में सिंह ने कहा कि सरकार माइक्रोसॉफ्ट का कैंपस खुलने में किसी तरह का अवरोध पैदा नहीं होने देगी। सिंह ने कहा, 'सरकार पहले ही कह चुकी है कि सरकार राज्य में निवेश करने के इच्छुक उद्यमियों के लिए राह आसान बनाएगी। सरकार उद्यमियों को एक्सप्रेस-वे के दोनों तरफ एक किलोमीटर के दायरे में जमीन उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।'  

शीघ्र ही ग्रेनो में साइट का दौरा करेगी कंपनी
वहीं, कंपनी का कहना है कि वह अपना नॉर्थ इंडिया कैंपस ग्रेटर नोएडा में ले आना चाहती है। कंपनी की एक टीम शीघ्र ही ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस-वे का दौरा करेगी। इसके बाद वह अपना प्रस्ताव तैयार कर राज्य सरकार के पास भेजेगी। सिंह ने हालांकि यह नहीं बताया कि कंपनी फिलहाल इस कैंपस में कितना निवेश करेगी।

ग्रेनो में माइक्रोसॉफ्ट का होगा तीसरा कैंपस
भारत में अभी माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के दो कैंपस हैं। एक कैंपस हैदराबाद में है जिसकी क्षमता 5000 है जबकि दूसरा कैंपस बेंगलुरू में है। बेंगलुरु में कंपनी की क्षमता 2000 कर्मचारियों की है। उत्तर प्रदेश सरकार की योजना आने वाले समय में यमुना एक्सप्रेस-वे के साथ जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास एक इलेक्ट्रानिक मैन्युफैक्चरिंग पार्क विकसित करने की है। यमुना एक्सप्रेस-वे ग्रेटर नोएडा को आगरा के साथ जोड़ता है। इस क्षेत्र में अपना कैंपस खोलने वाली कंपनियों को राज्य सरकार की तरफ से छूट एवं इंसेटिव देने का प्रावधान है। उत्तर प्रदेश सरकार टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज (टीसीएस), विप्रो और हायर जैसी दिग्गज कंपनियों को निवेश के लिए नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा में कैंपस खोलने के लिए लगातार प्रोत्साहित  कर रही है। 
 

अगली खबर