News Ki Pathshala: आपके Smart Phone पर किसकी नजर है ? वो App जो तुरंत डिलीट कर दीजिए

Who is watching your Smartphone: 'न्यूज की पाठशाला' में देखिए टेक्नोलॉजी की क्लास, और इस क्लास में मोबाइल फोन को साइबर अटैक से बचाने वाले चैप्टर को जानिए। 

smartphone app security
इन Apps से आपके Personal Details Leak होने का खतरा बढ़ जाता है 

आजकल लगभग सभी लोग Smartphone Apps का इस्तेमाल करते हैं। तमाम तरह के Apps हैं, जो आपके कार्यों को आसान बनाने के काम करते है। तो कुछ ऐसे भी ऐप्स हैं जो आपके फोन के लिए सही नहीं होता है। इन Apps से आपके Personal Details Leak होने का खतरा बढ़ जाता है, तो सावधान रहिए और ऐसे Apps तुरंत Delete कीजिए। 

मोबाइल फोन में हम सब कई तरह के Apps Install करते हैं, मैसेजिंग Apps, ऑनलाइन शॉपिंग Apps, फूड डिलिवरी या ऑनलाइन टैक्सी Apps। इन सारे Apps से हमारी लाइफ भले ही Smooth हो जाए लेकिन ये और इस तरह के कई Apps जो मोबाइल में  Install होते हैं वो कितने खतरनाक साबित हो सकते हैं इसका अंदाजा आपको नहीं होगा। साइबर सिक्योरिटी को लेकर एक रिपोर्ट हाल ही में आई है जिस में कहा गया है कि भारत के टॉप 100 एंड्रॉएड Apps में 75% Apps डेटा सुरक्षा के लिए खतरा है । 

सबसे पहले ये समझिए कि आपके स्मार्टफोन में क्या क्या स्टोर रहता है। और ये कितना जरूरी है-

  • -आपके बैंक की डीटेल्स होती हैं
  • -नेट बैंकिंग, Mail अकाउंट के पासवर्ड होते हैं
  • -पैसों के लेन देन की जानकारी होती है 
  • -डेबिट और क्रेडिट कार्ड की जानकारी होती है
  • -दोस्तों, रिश्तेदारों की कॉन्टैक्ट डीटेल होती है
  • -मोबाइल फोन में ट्रैवल हिस्ट्री भी स्टोर होती है
  • -किस से कब कितनी बात की ये डेटा रहता है
  • -आपके फोटो और वीडियो भी स्टोर होते हैं 

-------
स्मार्टफोन में कई तरह के Apps लोग इंस्टॉल करते हैं। जरा सोचिए कि इन Apps के जरिए आपके स्मार्टफोन में Save अहम जानकारियां अगर लीक हो जाएं तो... 

ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि मोबाइल सिक्योरिटी टेस्टिंग और एनालिसिस करने वाली कंपनी Appknox ने एक रिपोर्ट तैयार की है, जिसके मुताबिक 

  • -टॉप 100 Apps में से 75% Apps में सिक्योरिटी रिस्क हैं
  • -इनमें 90% Apps में गंभीर सुरक्षा खतरे हैं
  • -इस से कस्टमर और कंपनियों के सेंसेटिव डेटा हैक होने का खतरा है 
  • -79% Apps गलत configuration से प्रभावित हैं
  • -78% Apps में Coding के स्तर पर Clearity नहीं है
  • -42% Apps में ट्रांसपोर्ट लेयर प्रोटेक्शन पर्याप्त नहीं है 
  • -इसका मतलब ये है कि Apps के जरिए भेजा  गया डेटा सुरक्षित नहीं है 

इसका मतलब ये भी है कि मोबाइल में सेव आपकी फाइनेंशियल जानकारी, कॉन्टैक्ट डीटेल, फोटो, वीडियो सब लीक हो सकता है। Appknox ने भारत के टॉप 100 एंड्राएड Apps की टेस्टिंग की, ये Apps कितने सुरक्षित हैं, उस आधार पर स्कोरिंग की गई। ये रिसर्च सिर्फ  एंड्रॉयड Apps के लिए ही है। 

75% Apps से अगर फोन की सुरक्षा, डेटा हैक या लीक होने का खतरा है तो ये चिंता की बात है क्योंकि-

  • भारत में 74 करोड़ से ज्यादा लोगों के पास स्मार्टफोन है 
  • -भारत में प्रति 100 में से 18 लोगों की Contact Detail लीक होती है 
  • -2021 में 35 लाख स्मार्टफोन साइबर अटैक का शिकार हुए थे
  • -दुनिया में 10 में से 4 मोबाइल फोन में आसानी से साइबर अटैक हो सकता है 
  • -10 में से 1 मोबाइल फोन पर Malware अटैक होता है। 

--------
आपके मोबाइल पर साइबर अटैक कैसे और किस तरह से होता है, जो हैकर या Data के लुटेरे इन तरीकों से आपके मोबाइल में सेंध लगाते हैं-

  • -App के जरिए Malware अटैक
  • -Malware के जरिए अटैक
  • -वेबसाइट लिंक के जरिए अटैक
  • -Ransomware अटैक
  • -Phishing ईमेल से Link भेजना
  • -Untrusted Apps इंस्टॉल 

-----

मोबाइल Apps देश की सुरक्षा के लिए भी खतरनाक साबित हो सकते हैं। साइबर सिक्योरिटी के इसी खतरे को देखते हुए मोदी सरकार कई बार मोबाइल Apps पर बैन भी लगा चुकी है-

  • -14 फरवरी 2022 को 54 Apps को बैन किया
  • -2 दिसंबर 2020 को 118 Apps बैन किए गए
  • -नवंबर 2020 में 43 Apps पर बैन लगाया 
  • -27 जुलाई 2020 को 47 Apps को बैन किया 
  • -29 जून 2020 को 59 Apps पर बैन लगाया 

---------
इनमें से ज्यादा मोबाइल Apps चाइनीज थे, इन पर आरोप था कि ये सभी एप्लीकेशन भारतीय डेटा चीन और दूसरे देशों को भेजने के साथ लीक भी कर रहे थे। IT एक्ट की धारा 69A के तहत इन सभी एप्लीकेशन को बैन किया गया था। 
--------

Apps को सुरक्षित बनाने की जरूरत है क्योंकि भारत में स्मार्टफोन एप्लीकेशन का मार्केट तेजी से बढ़ रहा है। 

  • -गूगल Play Store पर 30 लाख 43 हजार से ज्यादा Apps हैं
  • -इसमें से 1 लाख 59 हजार से ज्यादा Apps भारतीय हैं
  • -इन Apps को 30 हजार 399 भारतीय कंपनियों ने बनाया है 
  • -Forbes के मुताबिक App Install करने और Use करने में भारत नंबर 1 है 
  • -भारत में एंड्रॉएड Apps का बाजार 13 हजार 283 करोड़ रुपये का है 
  • -जो 2026 तक 18 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का होगा। 
Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर