Strawberry Moon 2021: "स्ट्राबेरी मून" गुरूवार 24 जून को आएगा नजर,जानें इससे जुड़ी अहम जानकारियां

Strawberry Moon in India 2021: 24 जून को एक बार फिर हम सब अद्भुत खगोलीय घटना की दीदार करेंगे,इस दिन स्ट्राबेरी मून दिखाई देगा।

strawberry moon, strawberry moon 2021, strawberry moon in india 2021, strawberry moon india, straberry moon 2021 time,
24 जून को नजर आएगा स्ट्राबेरी मून, जानें अहम जानकारियां 

मुख्य बातें

  • 24 जून यानी गुरूवार को को नजर आएगा स्ट्राबेरी मून
  • पृथ्वी से ज्यादा निकट होने की वजह से यह बड़ा और गुलाबी रंग का दिखाई देता है।
  • दुनिया के अलग अलग हिस्सों में इसे हॉट मून या हनी मून भी कहा जाता है।

Strawberry Moon News 24 जून यानी गुरूवार को को समर सोलिस्टिक यानी  ग्रीष्म संक्राति के बाद की पहली पूर्णिमा है और यह दिन खास होने वाला है। आसमान में हम सब अनोखी खगोलीय घटना के साक्षी बनेंगे क्योंकि इस दिन स्ट्राबेरी मून (Strawberry Moon) दिखाई देगा।  आसमान में चांद स्ट्रॉबेरी यानी गुलाबी रंग (Pink Color) में दिखाई देगा।  इस दिन चांद धरती के करीब होगा और बड़ा दिखाई देगा। पूर्णिमा के दिन निकलने वाले इस चांद को कुछ जगहों पर हॉट मून या हनी मून के नाम से भी जाना जाता है। 

क्या है स्ट्राबेरी मून (What isStrawberry Moon)

दरअसल चांद अपनी कक्षा में पृथ्वी के करीब आता है और दूरी कम होने की जगह से चंद्रमा का आकार सामान्य से बड़ा दिखाई देता है।इस वजह से इसे स्ट्राबेरी मून का नाम दिया गया है। स्ट्राबेरी मून का नाम अमेरिकी जनजातियों से नाम मिला है, जिन्होंने स्ट्राबेरी की खेती खासतौर पर कटाई की शुरुआत के साथ पूर्णिमा के दिन देखा था। स्ट्राबेरी मून एक स्थानीय अमेरिकी नाम है। यूरोप में स्ट्राबेरी मून को रोज मून कहते हैं, जो गुलाब की कटाई का प्रतीक है। उत्तरी गोलार्ध में इसे गर्म चंद्रमा  कहा जाता है, दरअसल भूमध्य रेखा के उत्तर में गर्मी के मौसम की शुरुआत होती है। 

स्ट्राबेरी मून को इस नाम से भी जानते हैं

  1. ब्लूमिंग मून
  2. ग्रीन कॉर्न मून
  3. एग लेयिंग मून
  4. हैचिंग मून
  5. होएर मून
  6. बर्थ मून
  7. मीड मून 

भारत में नजर नहीं आएगा स्ट्राबेरी मून

भारत में स्ट्रॉबेरी मून नहीं देख पाएंगे इसके पीछे वजह यह है कि  चंद्रमा  स्टैंडर्ड टाइम के मुताबित 11.15 बजेनिकलता है। आंशिक तौर पर 11.15 बजे ग्रहण शुरू होगा और भारतीय समय के अनुसार 2.35 बजे तक चलेगा।

कई खगोलीय घटना की गवाह बनी दुनिया

स्ट्राबेरी मून वसंत की आखिरी पूर्णिमा या गर्मियों की पहली तारीख को दिखता है। स्ट्राबेरी मून एक रात से अधिक समय तक दिखाई देगा।अगर बात हाल की कुछ खगोलीय घटनाओं की करें तो सुपर मून, ब्लड मून, चंद्र ग्रहण और फिर रिंग ऑफ फायर यानि सूर्य ग्रहण के हम सब साक्षी बन चुके हैं। हिंदू पंचांग के मुताबिक स्ट्राबेरी मून वसंत ऋतु की अंतिम पूर्णिमा और ग्रीष्म ऋतु की पहली पूर्णिमा का प्रतीक है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर