योगी सरकार ने किया टोक्यो ओलंपिक में देश का गौरव बढ़ाने वालों का सम्मान 

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने गुरुवार को टोक्यो ओलंपिक में देश का गौरव बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को विशेष समारोह में सम्मानित किया.

UP Govt Hounded Olympians
उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा टोक्यो के पदकवीरों का सम्मान  

मुख्य बातें

  • विशेष समारोह में उत्तर प्रदेश सरकार ने किया टोक्यो के भारतीय पदकवारों का सम्मान
  • उत्तर प्रदेश के खिलाड़ियों को दी गई विशेष प्रोत्साहन राशि
  • चौथे पायदान पर रही भारतीय महिला हॉकी टीम का भी किया प्रोत्साहन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ में एक विशेष समारोह में टोक्यो ओलंपिक में शानदार प्रदर्शन से देश का मान बढ़ाने वाले खिलाड़ियों का सम्मान किया। राज्य सरकार की ओर से लखनऊ के भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी इकाना क्रिकेट स्टेडियम में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया था।

स्टेडियम में उपस्थित हजारों लोगों की उपस्थिति में राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की उपस्थिति में खिलाड़ियों को स्मृति चिन्ह और पुरस्कार राशि प्रदान की। योगी सरकार ने ओलंपिक खेलों के समापन के बाद ही टोक्यो ओलंपिक में देश का मान बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को राज्य सरकार द्वारा पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की थी।

इन खिलाड़ियों को मिला सम्मान
टोक्यो ओलंपिक में स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा को 2 करोड़ रुपये, भारोत्तोलक मीराबाई चानू (रजत पदक) को 1।5 करोड़,  पहलवान रवि दहिया (रजत पदक) को 1।5 करोड़, बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (कांस्य पदक) 1 करोड़, महिला बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन (कांस्य पदक) 1 करोड़ और पहलवान बजरंग पुनिया 1 करोड़ की राशि दी गई। 

इसके अलावा कांस्य पदक जीतने वाले पुरुष हॉकी टीम के प्रत्येक खिलाड़ी को 1 करोड़ रुपये की राशि दी गई। इसके अलावा हॉकी टीम के मुख्य प्रशिक्षक को 25 लाख रुपये और अन्य अतिरिक्त प्रशिक्षक को कुल 7 सदस्य- 10 लाख रुपये/सदस्य को दिए गए।  

चौथे स्थान पर रही महिला हॉकी टीम की भी हुई चांदी
टोक्यो में कांस्य पदक से चूकने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम के कुल 19 सदस्यों को 50 लाख रुपये प्रति खिलाड़ी राज्य सरकार की ओर से दिए गए। इसके अलावा टीम के मुख्य प्रशिक्षक को 25 लाख रुपये व अन्य छह प्रशिक्षकों को 10 लाख/सदस्य दिए गए। इसके अलावा उत्तर प्रदेश की रहने वाली वंदना कटारिया को 50 लाख रुपये की अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि दी गई। 

टोक्यो में पदक से चूकने वाले लेकिन भारत का मान बढ़ाने वाले खिलाड़ियों को भी समारोह में सम्मानित किया गया। चौथे पायदान पर रहीं गोल्फर अदिति अशोक को 50 लाख रुपये की राशि दी गई वहीं चौथे पायदान पर रहे रेसलर दीपक पुनिया को भी 50 लाख रुपये की राशि दी गई।

उत्तर प्रदेश के खिलाड़ियों को मिली अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि 
टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले उत्तर प्रदेश के प्रतिभागी खिलाड़ियों को प्रोत्साहन राशि सरकार की ओर से दी गई। प्रोत्साहन राशि पाने वालों में ललित कु उपाध्याय(25 लाख), वंदना कटारिया(25 लाख), प्रियंका गोस्वामी(25 लाख), अन्नू रानी(25 लाख), सीमा पुनिया(25 लाख) सौरभ चौधरी (25 लाख), मेराज अहमद खान(25 लाख), अरविंद सिंह( 25 लाख), सतीश सिंह(25 लाख), शिवपाल सिंह(25 लाख) का पुरस्कार दिया गया। 

भारत ने टोक्यो में जीते कुल 7 पदक 
टोक्यो ओलंपिक खेलों में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक स्वर्ण, 2 रजत और 4 कास्य पदक सहित कुल 7 पदक अपने नाम किए थे। जिसमें नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। वहीं मीराबाई चानू ने भारोत्तोलन में रजत और रवि दहिया ने कुश्ती में रजत पदक हासिल किया था। इसके अलावा पीवी सिंधू ने बैडमिंटन में, बजरंग पुनिया ने कुश्ती में और लवलीना बोरगोहेन ने बॉक्सिंग में कांस्य पदक जीता था। वहीं भारतीय पुरुष हॉकी टीम 41 साल बाद ओलंपिक पदक जीतने में कामयाब रही है। वहीं महिला टीम शानदार प्रदर्शन करते हुए चौथे पायदान पर रही। 
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर