Tokyo Olympics 2020 Opening Ceremony: टोक्‍यो ओलंपिक की रंगारंग हुई ओपनिंग सेरेमनी, भारत की परेड ने जीता दिल

Tokyo Olympics 2020 Opening Ceremony: टोक्‍यो ओलंपिक्‍स की ओपनिंग सेरेमनी का रंगारंग कार्यक्रम हुआ। भारतीय दल 21वें स्‍थान पर परेड करने आया। मनप्रीत सिंह और एमसी मैरीकॉम बने भारत के ध्‍वजवाहक।

tokyo olympics 2020 opening ceremony
टोक्‍यो ओलंपिक्‍स 2020 ओपनिंग सेरेमनी  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • टोक्‍यो ओलंपिक्‍स 2020 की ओपनिंग सेरेमनी हो रही है
  • भारत के 20 एथलीट्स शुक्रवार को ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुए
  • एमसी मैरीकॉम और मनप्रीत सिंह जापान नेशनल स्‍टेडियम में भारत के ध्‍वजवाहक होंगे

टोक्‍यो: Tokyo Olympics 2020 Opening Ceremony: टोक्‍यो ओलंपिक्‍स का इंतजार आखिरकार समाप्‍त हुआ। जापान के नेशनल स्‍टेडियम में टोक्‍यो ओलंपिक्‍स की रंगारंग ओपनिंग सेरेमनी पूरी हुई। ओलंपिक्‍स ऐसा खेल इवेंट है, जो युद्ध, बहिष्‍कारों और अब महामारी के बावजूद 125 साल के आधुनिक इतिहास से कायम है। टोक्‍यो ओलंपिक्‍स ने कोरोना वायरस महामारी के कारण 12 महीने के स्‍थगित होने के कारण वैसे ही नया सफर तय किया है। पहली बार ओलंपिक्‍स ऑड नंबर में आयोजित हो रहा है। जापान में दर्शकों को स्‍टेडियम में प्रवेश की अनुमति नहीं है। ऐसे में यह पहला ओलंपिक बन गया है, जहां बिना दर्शकों के खेल स्‍पर्धाओं का आयोजन होगा।

बता दें कि भारत के 20 एथलीट्स ओपनिंग सेरेमनी में देश का प्रतिनिधित्‍व करने के लिए शामिल हुए। दिग्‍गज महिला बॉक्‍सर एमसी मैरीकॉम और भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्‍तान मनप्रीत सिंह जापान नेशनल स्‍टेडियम पर भारत के ध्‍वजवाह की भूमिका निभाई। भारत के टेबल टेनिस खिलाड़‍ियों मनिका बत्रा और अचंता शरत कमल ने ओपनिंग सेरेमनी में शामिल होने से इंकार कर दिया क्‍योंकि अगले दिन उनका उद्घाटन मुकाबला है।


पिछले एक साल से भी अधिक समय से दुनिया को अपनी गिरफ्त में लेने वाली कोविड-19 महामारी के भय के बीच 32वें ओलंपिक खेलों की एक साल की लंबी प्रतीक्षा के बाद शुक्रवार को यहां जापानी संस्कृति और परंपराओं की झलक दिखाने वाले रंगारंग उद्घाटन समारोह के साथ शुरुआत हो गयी। जापान के सम्राट नारूहितो खेलों का उद्घाटन करने के लिये वहां उपस्थित थे। एक महीने पहले ही उन्होंने ओलंपिक के दौरान कोरोना वायरस फैलने को लेकर चिंता जतायी थी।

दर्शकों के बिना आयोजित किये जा रहे ओलंपिक खेलों के उदघाटन समारोह में भी भावनाओं का ज्वार उमड़ता दिखा और ऐसे में 'भावनाओं से एकजुट' की इसकी विषय वस्तु भी कार्यक्रम के अनुकूल रही। टोक्यो में जब रात घिर आयी थी तब यहां का ओलंपिक स्टेडियम दमक रहा था जिससे उठी नयी उम्मीद की धमक पूरे विश्व में सुनायी दे रही थी। महामारी के कारण सभी देशों के कम खिलाड़ियों ने मार्च पास्ट में हिस्सा लिया। कुछ खिलाड़ियों के अगले दिन प्रतियोगिताएं होने और बीमारी के संक्रमण से बचने के लिये समारोह में भाग नहीं लिया।

उदघाटन समारोह के दौरान उन लोगों और पूर्व ओलंपियनों को भी याद किया गया जिनका कोविड-19 महामारी के कारण जान गंवायी। इस दौरान म्यूनिख 1972 ओलंपिक में आतंकवादी हमले में मारे गये इजरायली खिलाड़ियों, 2011 के भूकंप और सुनामी में मारे गये लोगों का भी उल्लेख किया गया। इन सभी की याद में एक मिनट का मौन रखा गया। जापान की प्रसिद्ध गायिका मिसिया ने राष्ट्रगान गाया।


टोक्‍यो ओलंपिक्‍स 2020 ओपनिंग सेरेमनी की लाइव अपडेट्स के लिए हमारे साथ बने रहिए यहां:

थॉमस बाख की बात

आईओसी अध्‍यक्ष थॉमस बाख ने कहा, 'आयोजन समिति और सभी स्‍तर के जापानी अधिकारियों ने शानदार काम किया, जिसके चलते मैं सभी ओलंपिक एथलीट्स की तरफ से आपका धन्‍यवाद करना चाहता हूं। हम सभी अनसंग हीरो, डॉक्‍टर्स, नर्सेस और सभी जापानी लोगों को धन्‍यवाद देते हैं, जिन्‍होंने महामारी को रोकने में योगदान दिया।'

इस बीच भारत के लिए कल बड़ा दिन है। देखिए कल भारत किस-किस खेलों में हिस्‍सा लेगा।


आखिरी शब्‍द

प्रस्‍तुतियां खत्‍म हुईं। 'कल्‍पना' का एक गायन और दुनियाभर के प्रदर्शनों की विशेषता वाला दूसरा गीत प्रदर्शनों में से अंतिम है। टोक्‍यो के ओलंपिक प्रबंधन समिति प्रमुख डायस पर आए। उनके साथ आईओसी प्रमुख थॉमस बाख हैं। 

करीब 10,400 लोग ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुए।
टीम प्रतिनिधिमंडल (एथलीट्स और टीम अधिकारी) : करीब 6,000
खेल हितधारक और सम्मानित अतिथि: करीब 900
मीडिया: करीब 3,500 (प्रसारणकर्ता : 1500/ प्रेस: 2,000)

100 की उम्र में एग्‍नेस केलेटी सबसे उम्रदराज जीवित ओलंपिक चैंपियन है।


जापान स्‍टेडियम में आया

देशों की परेड खत्‍म होने को आई। जापान दल स्‍टेडियम में आया। आखिरी दल बनकर जापान आया।


जापान का राष्‍ट्रगान

मिसिया ने जापान के नेशनल स्‍टेडियम में राष्‍ट्रगान गाया। मिसिया की ड्रेस की बहुत तारीफ हो रही है। बाद में मिसिया ने अपनी एक फोटो सोशल मीडिया पर भी पोस्‍ट की। 


21वें नंबर पर ओलंपिक स्‍टेडियम में भारत ने ली एंट्री

इसरायल, इटली, इराक, इरान और फिर 21वें नंबर पर भारत के परेड की बारी। मनप्रीत सिंह और एमसी मैरीकॉम ने ध्‍वज अपने हाथों में रखा और पूरा दल उनके पीछे आया। भारत 25वीं बार ओलंपिक्‍स में शामिल हो रहा है। ओलंपिक्‍स में भारत ने अब तक का अपने सबसे बड़ा दल भेजा है।


अलग तरह से हुई इन देशों की एंट्री

अर्जेंटीना ने शानदार एंट्री की। गत चैंपियन हॉकी टीम रियो वाली ने अपनी मौजूदगी का एहसास कराया। अर्जेंटीना के बाद अरुबा का छोटा दल आया, जिसमें कुल तीन एथलीट्स आए। फिर नंबर-11 पर अल्‍बानिया और फिर अंगोला। 


ओलंपिक परेड जारी है...

आइसलैंड, आयरलैंड, अजरबैजान और परेड जारी है। एथलीट्स अपने देश का झंडा हाथ में लिए मैदान में आ रहे हैं। बैकग्राउंड म्‍यूजिक से जोश बना हुआ है। अब अफगानिस्‍तान, फिर यूएई और फिर अल्‍जीरिया आएंगे।


ग्रीस सबसे पहले आया

ध्‍वजवाहक एथलीट्स स्‍टेडियम में आना शुरू हो गए हैं। सबसे पहले ग्रीक दल आया। भारत 21वें स्‍थान पर है। रेफ्यूजी टीम आने वाली दूसरी टीम है।


टोक्‍यो 1964 की विरासत टोक्‍यो 2020 तक जिंदा

57 साल पहले जब टोक्‍यो में पहली बार ओलंपिक्‍स हुआ था तब ये ओलंपिक रिंग्‍स पेड़ों से काटकर लकड़‍ियों से बनाई गई थी। 


जापान ने दुनिया के लिए खोला दरवाजा

पिछले ओलंपिक चैंपियन से लेकर यूथ ओलंपिक चैंपियन तक एक बचावकर्मी से लेकर एक रेस्‍क्‍यू वर्कर तक, जापान ने ओलंपिक स्टेडियम में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए इन छहों को सम्मान दिया। जैसे कि खाली स्टैंड समय का प्रतिबिंब नहीं थे, उद्घाटन समारोह एथलीटों के एक असेंबल के साथ शुरू हुआ, जो ज्यादातर अपने घरों में अलगाव में अभ्यास कर रहे थे, कुछ उपकरण की कमी और खेल सुविधाओं तक पहुंच के लिए तात्कालिक तकनीकों का उपयोग कर रहे थे। एक और बार पलक झपकते ही दिखा कि महामारी की मंजूरी के बाद कई एथलीट्स को स्‍टेडियम फ्लोर पर देख गया। एक-दूसरे से दूरी बनाए हुए हैं। अकेले ट्रेनिंग कर रहे हैं। 


जापान का राष्‍ट्रीय ध्‍वज दिखाया गया

जापान के कुछ एलीट एथलीट्स और लोकप्रिय प्रस्‍तुतिकर्ता जापान का झंडा लेकर आए। झंडे के साथ एक व्‍यक्ति चलकर आया, वो जापानी स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी पेशेवर है, मौजूदा समय में इस पेशे की भूमिका का जश्‍न मनाया। सम्राट और उनके करीब आईओसी प्रमुख ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।


प्रस्‍तुति

डांसर्स ने लाल रिबन पकड़कर स्‍टेडियम के बीच में खूबसूरत प्रस्‍तुति दी। इसमें मानव शरीर की कार्यशैली का वर्णन किया गया। योही टानेडा द्वारा सेरेमनी के लिए डिजाइन किया गया प्रमुख मंच सूरज को दिखा रहा है। इसमें जापान का राष्‍ट्रीय ध्‍वज और माउथ फूजी भी नजर आ रहा है। पारंपरिक जापानी थिएटर मंच से प्रेरित है प्रमुख मंच।


स्‍टेडियम के अंदर शो शुरू

ओलंपिक स्‍टेडियम में आतिशबाजी के साथ शुरूआत की। स्‍टेडियम के अंदर शो की शुरूआत हुई। प्रस्‍तुति देने वाले लोग धीरे-धीरे अंदर आए। कुछ ट्रेडमिल पर हैं तो कुछ साइकिल मशीन पर आए, जापानी संगीत गूंज रहा है।


ओपनिंग सेरेमनी शुरू

1964 में टोक्‍यो पहला एशियाई शहर बना था, जिसने ओलंपिक्‍स की मेजबानी की थी। 2021 में वह दोबारा इसकी मेजबानी कर रहा है। सम्राट, जिनके दादा ने पिछली बार सम्मान किया था, टोक्यो में रात होते ही उद्घाटन समारोह का उद्घाटन करेंगे।

शो की शुरूआत मल्‍टीमीडिया प्रेजेंटेशन से हो रही है।


टोक्‍यो में ओलंपिक स्‍टेडियम सज चुका है। देखिए इसका अद्भुत नजारा।


भारत के 22 लोग ओपनिंग सेरेमनी में हिस्‍सा ले रहे हैं। ओपनिंग सेरेमनी में हिस्‍सा लेने वाले भारतीय दल के लोग इस तरह दिख रहे हैं:



ऐसी जानकारी मिली है कि टेनिस खिलाड़ी नाओमी ओसाका ओलंपिक टॉर्च लेकर ओलंपिक सेरेमनी में आएंगी।



Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर