तालिबान के डर से 7 महिला ताइक्वांडो खिलाड़ियों ने छोड़ा अफगानिस्तान, इस देश में ली शरण

स्पोर्ट्स
भाषा
Updated Sep 22, 2021 | 14:30 IST

Female Afghan Taekwondo athletes: तालिबान के डर से अफगानिस्तान की सात महिला ताइक्वांडो खिलाड़ियों ने देश छोड़ दिया। इन महिला खिलाड़ियों ने ऑस्ट्रेलिया में शरण ली है।

female taekwondo athletes
सांकेतिक फोटो  |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • तालिबान अफगानिस्तान में सत्ता पर काबिज हो गया है
  • तालिबान के डर से लोग देश छोड़कर जा रहे हैं
  • अब महिला ताइक्वांडो खिलाड़ियों ने ऐसा किया है

मेलबर्न: Seven female Afghan taekwondo athletes resettle in Australia: तालिबान के नियंत्रण वाले अफगानिस्तान की सात महिला ताइक्वांडो खिलाड़ी मेलबर्न में बस गई हैं। ऑस्ट्रेलियाई ताइक्वांडो संघ की मुख्य कार्यकारी हीथर गैरियोक ने यह जानकारी दी। गैरियोक ने बुधवार को कहा कि इन महिला खिलाड़ियों ने पृथकवास का समय पूरा कर लिया है। इनमें से अधिकतर खिलाड़ियों की पहचान उजागर नहीं की गई है। टोक्यो ओलंपिक में अफगानिस्तान की किसी महिला ताइक्वांडो खिलाड़ी ने हिस्सा नहीं लिया था।

'हमें खुशी है कि महिला खिलाड़ी सुरक्षित हैं'

गैरियोक ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान क्रेग फोस्टर ने इन खिलाड़ियों को अफगानिस्तान से बाहर निकालने में ऑस्ट्रेलियाई सरकार, ऑस्ट्रेलियाई ताइक्वांडो और ओसेनिया ताइक्वांडो के साथ मिलकर काम किया। उन्होंने कहा, 'हमें वास्तव में खुशी है कि ये महिला खिलाड़ी सुरक्षित हैं और अफगानिस्तान से बाहर निकालने में मदद करने के लिए ऑस्ट्रेलियाई सरकार और ओसेनिया ताइक्वांडो की आभारी हैं। इन महिला खिलाड़ियों की जान खतरे में थी।'

'ऑस्ट्रेलिया आकर अच्छा महसूस कर रही हूं'

इन खिलाड़ियों में से एक फातिमा अहमदी ने अफगानिस्तान से बाहर निकालने में मदद करने वाले सभी पक्षों का आभार व्यक्त करते हुए कहा, 'मैं ऑस्ट्रेलिया आकर बहुत अच्छा महसूस कर रही हूं। हम यहां बिना किसी खतरे के सुरक्षित हैं।' अफगानिस्तान की महिला फुटबॉल टीम की खिलाड़ी उन दर्जनों खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्हें रिपोर्टों के अनुसार ऑस्ट्रेलिया में रहने के लिए वीजा दिया गया था।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर