Sex Dolls in stadium: खाली स्टेडियम में दर्शकों के अहसास के लिए रखे 'सेक्स डॉल', मचा हड़कंप

Sex Dolls in football stadium: लॉकडाउन और कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच भी कुछ खेलों को शुरू किया जा रहा है। कोरिया में फुटबॉल शुरू हुआ तो शुरू होते ही बड़ा विवाद खड़ा हो गया।

Sex dolls in Korean stadium
Sex dolls in Korean stadium  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • लॉकडाउन के बाद खाली स्टेडियम में शुरू हुआ फुटबॉल मैच
  • दर्शकों का अहसास दिलाने के लिए दर्शक दीर्घा में रख दिए सेक्स डॉल
  • दक्षिण कोरिया में फुटबॉल मैच के बाद मचा हड़कंप

सियोलः इन दिनों पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से भूचाल आया हुआ है, आर्थिक स्थिति खराब हो चुकी है, लोगों में खौफ है, स्वास्थ्य समस्याएं बढ़ चुकी हैं और खेल गतिविधियां भी पूरी तरह से ठप्प हैं। लेकिन इसके बावजूद कहीं-कहीं खेल जगत की गतविधियां शुरू करने के लिए इतनी जल्दबाजी हो रही है कि उसमें लोग अजीबोगरीब हरकतें करने से भी पीछे नहीं हट रहे। ऐसा ही कुछ दक्षिण कोरिया में हुआ, जहां मैच तो खाली स्टेडियम में कराया गया लेकिन दर्शक दीर्घा में दर्शकों के अहसास के लिए सेक्स डॉल रख दिए गए।

कोरिया पेशेवर फुटबाल लीग (के लीग) में हाल ही में एक मैच के दौरान स्टैंड्स को भरने के लिए सेक्स डॉल्स का इस्तेमाल किया गया। इस मामले के सामने आने के बाद के-लीग के क्लब एफसी सियोल पर 10 करोड़ वोन (81,500 डॉलर) का जुर्माना लगाया गया है। 17 मई को हुए मैच के दौरान क्लब ने अपने घरेलू मैदान की दर्शक दीर्घाओं को मानवीय पुतलों से भरकर समर्थकों की भारी भीड़ होने का अहसास अपने खिलाड़ियों को देने की कोशिश की।

28 महिला, दो पुरुष

पहल पर किसी ने सवाल नहीं उठाया था लेकिन बाद में तब हड़कंप मच गया जब यह पाया गया कि इनमें से कई पुतले वास्तव में सेक्स डॉल्स हैं। कुल 30 डॉल्स रखी गईं, जिसमें से 28 महिला पुतले और दो पुरुष पुतले थे। इन पुतलों के हाथों में प्लेकार्ड भी पकड़ाए हुए थे और ये अलग-अलग अंदाज में बैठे नजर आए। पुतलों के चेहरों पर मास्क भी लगे थे।

Sex doll

इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

गोल डॉट कॉम ने के-कोरियाई लीग के हवाले से कहा, 'अनुशासन समिति ने इस घटना की गंभीरता से लेते हुए कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का फैसला किया, जो असली डॉल्स के कारण हुआ।' लीग ने कहा, क्लब की इस हरकत से महिला प्रशंसकों और परिवारों की भावनाएं आहत हुई हैं। इस तरह की हरकत को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता और आगे इस तरह की घटना को रोकने लिए क्लब पर जुमार्ना लगाया जाता है।

Sex doll in South Korea football match

क्लब ने सोशल मीडिया पर मांगी माफी

बयान में कहा गया है कि एफसी सियोल ने मैच से पहले डॉल्स को नहीं हटाकर बहुत बड़ी गलती की। हालांकि विवाद को बढ़ता देख क्लब ने इसके लिए सोशल मीडिया पर माफी मांग ली थी। एफसी सियोल ने इंस्टाग्राम पर एक बयान में कहा था, 'हम अपने फैंस से माफी मांगते हैं। हमें बेहद खेद है। हमारा इरादा इस कठिन समय में दिल हल्का करने के लिए कुछ करने का था। हम इस बात पर पूरा विचार करेंगे कि ऐसी चीजें दोबारा नहीं होने देना सुनिश्चित करने के लिए हमें क्या करने की जरूरत है।

अगली खबर