Tokyo Olympics: महिला हॉकी टीम ने मैच हारकर भी जीते दिल, हरियाणा सरकार देगी ₹ 50-50 लाख

टोक्‍यो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम भले ही पदक से चूक गई, लेकिन उनके शानदार खेल ने करोड़ों देशवासियों के दिल जीत लिए। PM मोदी ने इसे गौरवान्वित करने वाला बताया तो हरियाणा सरकार ने पुरस्कारों की घोषणा की।

Tokyo Olympics: पदक से चूकी महिला हॉकी टीम, पर जीता दिल, हरियाणा करेगा पुरस्‍कार, PM मोदी बोले- आप पर गर्व है
Tokyo Olympics: पदक से चूकी महिला हॉकी टीम, पर जीता दिल, हरियाणा करेगा पुरस्‍कार, PM मोदी बोले- आप पर गर्व है  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • टोक्‍यो ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम ने शानदार खेल दिखाया
  • हालांकि टीम जीत हासिल नहीं कर पाई, ब्रिटेन के हाथों 4-3 से हार गई
  • पीएम मोदी ने टीम को बधाई देते हुए कहा कि यह गौरवान्वित करने वाला है

टोक्‍यो : जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक (Tokyo Olympics) खेलों में भारतीय महिला हॉकी टीम भले पदक हासिल करने से चूक गई, पर टीम ने शानदार खेल दिखाया, जिसने देशवासियों के दिल जीत लिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महिला हॉकी टीम के शानदार प्रदर्शन को गौरवान्वित करने वाला बताया है तो हरियाणा सरकार ने प्रदेश की नौ महिला हॉकी खिलाड़‍ियों को 50-50 लाख रुपये का पुरस्‍कार देने की घोषणा की है।

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भारत की महिला हॉकी टीम में शामिल हरियाणा की 9 बेटियों को 50-50 लाख रुपये का पुरस्‍कार देने की घोषणा शुक्रवार को की। उनका यह ऐलान ओलंप‍िक खेलों में भारतीय महिला हॉकी टीम की दावेदारी समाप्‍त हो जाने के बाद आई। हरियाणा के सीएम ने कहा, 'भारतीय महिला हॉकी टीम रानी झांसी की तरह अंत तक लड़ी। मैं भारतीय टीम के शानदार प्रदर्शन पर उन्‍हें बधाई देता हूं।'

'हमें इस टीम पर गर्व है'

ओलंपिक में भारतीय महिला हॉकी टीम के प्रदर्शन को पीएम मोदी ने गौरवान्वित करने वाला बताया और कहा कि यह देश की बेटियों को हॉकी खेलने को प्रेरित करेगा। उन्‍होंने कहा, 'इस टीम पर हमें गर्व है। हम टोक्‍यो ओलंपिक 2020 में अपनी महिला हॉकी टीम के शानदार प्रदर्शन को हमेशा याद रखेंगे। हम पदक से चूक गए, लेकिन इस टीम ने न्‍यू इंडिया की स्प्रिरिट दिखलाई है। #Tokyo2020 में उनकी सफलता अन्‍य बेटियों को भी हॉकी खेलने के लिए प्रेरित करेगी।'

यहां उल्‍लेखनीय है कि टीम शुक्रवार को हुए मुकाबले में 4-3 से ब्रिटेन से हार गई, जिसके कारण वह कांस्‍य पदक से चूक गई। हालांकि पूरे खेल के दौरान टीम का प्रदर्शन शानदार रहा। पहले हाफ में पिछड़ने के बावजूद भारतीय टीम ने दूसरे और तीसरे हाफ में शानदार वापसी करते हुए 3-3 की बराबरी कर ली थी, लेकिन चौथा और अंतिम क्वार्टर शुरू होते ही ब्रिटेन ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील करते हुए स्कोर 4-3 कर दिया, जिसके बाद अंत तक उसकी बढ़त बनी रही।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर