27 साल तक किया इंतजार, पूर्व जूनियर रेसलिंग चैंपियन हत्‍या की कोशिश करने के आरोप में हुआ गिरफ्तार

पुलिस ने बताया कि पूर्व रेसलिंग चैंपियन कुणाल अपने साथी के साथ गिरफ्तार हुआ। उस पर पवन को जाने से मारने की कोशिश का आरोप है, जिसने 27 साल पहले उसके रिश्‍तेदार को बेरहमी से मार डाला था।

kunal
कुणाल  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • पूर्व रेसलिंग चैंपियन कुणाल को एक व्‍यक्ति को जान से मारने की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार किया गया
  • पवन और उसके साथियों- सोमपाल व लक्ष्‍मण को बाइक सवार दो लोगों ने मारा
  • कुणाल ने 2017 में देशव्‍यापी जूनियर बैटलिंग चैंपियन में गोल्‍ड मेडल जीता था

नई दिल्‍ली: पूर्व राष्‍ट्रीय जूनियर रेसलिंग चैंपियन कुणाल को उस व्‍यक्ति को जान से मारने की कोशिश के लिए गिरफ्तार किया गया, जो 27 साल पहले दिल्‍ली में अपने चाचा की मौत में कथित रूप से शामिल था। कुणाल और उसके साथी नवीन ने कथित रूप से अपना चाचा की मौत का बदला लेने के लिए पवन पर गोलीबारी की। एक गोली पवन को लगी और एक लक्ष्‍मण के पेट में जाकर लगी। चोटिल को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।

1993 सदर बाजार मर्डर केस में परोल पर बाहर आया पवन अपने दोस्‍तों सोमपाल और लक्ष्‍मण के साथ शाम करीब साढ़े 5 बजे गली चर्च वाली से जा रहा था जब दो बाइक सवाल युवक पहुंचे और पवन पर गोली चला दी। दिल्ली पुलिस ने पाया कि पवन 3 हत्याओं और एक हत्या की कोशिश के मामलों में फंसा है, और इसलिए यह पता लगाना मुश्किल था कि उसके प्रतिद्वंद्वियों में से किसने उस पर हमला किया। हालांकि, पुलिस ने आखिरकार पूर्व रेसलिंग चैंपियन कुणाल और उसके दोस्‍त नवीन को हमला करने के लिए गिरफ्तार किया।

2017 में राष्‍ट्रीय जूनियर रेसलिंग चैंपियनशिप में गोल्‍ड मेडल जीतने वाले कुणाल ने खुलासा किया कि वह और सह-आरोपी अनिकेत ने इस अपराध को अंजाम दिया और उसी मुताबिक छापे मारे गए थे। पुलिस ने बताया कि कुणाल ने कहा कि उसके चाचा और पवन का 1990 में विवाद हुआ था। कुणाल ने पुलिस को आगे बताया कि पवन कथित अपराधी है, जिसने 1993 में उसके चाचा की हत्‍या की थी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर