सौरव घोषाल ने रचा इतिहास, राष्ट्रमंडल खेलों में जीता स्क्वाश में पदक

भारत के स्क्वाश प्लेयर सौरव घोषाल ने राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों की एकल स्पर्धा में कांस्य पदक जीतकर इतिहास रच दिया है।

Saurav-Ghosal
सौरव घोषाल  |  तस्वीर साभार: Twitter

बर्मिंघम: भारत के स्टार स्कावश खिलाड़ी सौरव घोषाल ने बुधवार को बर्मिंघम में चल रहे 22वें राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों की एकल स्कावश स्पर्धा में इतिहास रच दिया। वो राष्ट्रमंडल खेलों में स्क्वाश में एकल पदक जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। उन्होंने इंग्लैंड के जेम्स विलस्ट्रॉप को 3-0 से (11-6, 11-1, 11-4) से मात देकर कांस्य पदक पर कब्जा कर लिया। 

राष्ट्रमंडल खेलों में भारत का पहला एकल पदक
दुनिया के 15वें नंबर के खिलाड़ी घोषाल ने मेजबान देश के दुनिया के 24वें नंबर के खिलाड़ी के खिलाफ आसान जीत दर्ज की। राष्ट्रमंडल खेलों में स्क्वाश एकल स्पर्धा में भारत का यह पहला पदक है। घोषाल का राष्ट्रमंडल खेलों में यह दूसरा पदक है। उन्होंने साल 2018 में ऑस्ट्रेलिया के गोल्डकोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में दीपिका पल्लीकल के साथ मिलकर मिश्रित युगल स्पर्धा में रजत पदक जीता था।

शुरुआत से ही घोषाल ने बनाया दबदबा
घोषाल ने विल्सट्रॉप के खिलाफ शुरुआत से ही दबदबा बनाया और इंग्लैंड के खिलाड़ी के पास उनके खेल का कोई जवाब नहीं था। विल्सट्रॉप ने पहले गेम में घोषाल को टक्कर देने की कोशिश की लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने उन्हें अंक बनाने के अधिक मौके नहीं दिए।

दूसरे में घोषाल ने मचाया धमाल, देखते रह गए विल्सट्रॉप
दूसरे गेम में तो विल्सट्रॉप की भूमिका सिर्फ एक दर्शक जैसी रही और मेजबान देश का खिलाड़ी पूरे गेम में सिर्फ एक ही अंक जुटा पाया। तीसरे गेम में भी स्थिति में अधिक बदलाव देखने को नहीं मिला और घोषाल ने दबदबा कायम रखते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर