Commonwealth Games 2022: सातवें दिन भारत की झोली में आए दो पदक, किए कई पदक पक्के

Commonwealth Games 2022 Day Six India's Performence: भारतीय दल ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के सातवें दिन केवल दो पदक जीते। भारत को स्वर्णिम सफलता पैरा पॉवरलिफ्टिंग में मिली थी।

Murli-Shreeshankar-CWG-Silver
राष्ट्रमंडल खेलों की लबी कूद स्पर्धा का रजत पदक जीतने के बाद  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • भारत ने 22वें राष्ट्रमंडल खेलों के सातवें दिन भारत ने जीते दो पदक
  • भारत के पदकों की कुल 20 हुई संख्या जिसमें 6 स्वर्ण, 7 रजत और 7 कांस्य पदक हैं शामिल
  • अंक तालिका में सातवें पायदान पर है काबिज

बर्मिंघम: भारतीय दल के लिए बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों का सातवां दिन शानदार रहा। एक तरफ जहां भारतीय टीम ने कई खेलों में अपनेपदक पक्के किए लेकिन उसकी झोली में केवल दो पदक आए। दिन का पहला पदक रजत के रूप में लंबी कूद में मुरली श्रीशंकर ने 8.08 मीटर लंबी छलांग लगाकर जीता। लेकिन दिन का अंत पैरा पॉवरलिफ्टिंग में सुधीर ने किया। इसके साथ ही भारत के पदकों की संख्या 6 स्वर्ण, 7 रजत और 7 कांस्य पदक के साथ कुल 20 हो गई है। आइए जानते हैं भारत के लिए 22वें राष्ट्रमंडल खेलों का सातवां दिन कैसा रहा। 

मुक्केबाजी: 
बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के सातवें दिन भारतीय मुक्केबाजों ने धमाल मचाते हुए छह पदक पक्के कर दिए। अमित पंघाल, सागर अहलावत, जैसमीन ने सेमीफाइनल में जगह पक्की कर ली। 22 वर्षीय सागर ने पुरुषों के सुपर हैवीवेट(+91 किग्रा) वर्ग के क्वार्टर फाइनल में सेशिल्स के केडी इंवास एग्नेस पर 5-0 की जीत दर्ज की।

वहीं जैसमीन ने महिलाओं के लाइटवेट (60 किग्रा) वर्ग के क्वार्टर फाइनल में न्यूजीलैंड की ट्राय गार्टन को 4-1 के विभाजित फैसले में हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। वहीं अमित पंघाल ने स्कॉटलैंड के मुलीगन को मात देकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। पंघाल ने अपने मजबूत डिफेंस के जरिए स्कॉटिश खिलाड़ी को मात दी। 

लंबी कूद:(पुरुष)
मुरली श्रीशंकर ने गुरुवार को 22वें राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुषों की लंबी कूद स्पर्धा में रजत पदक जीतकर इतिहास रच दिया। मुरली इसके साथ ही राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में लंबी कूद में सिल्वर मेडल जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष बन गए। उन्होंने 8.08 मीटर लंबी छलांग लगाई। भारत के एक अन्य खिलाड़ी मोहम्मद अनस पांचवें पायदान पर रहे। 

बैडमिंटन:

पीवी सिंधू, लक्ष्य सेन और किदाम्बी श्रीकांत ने गुरूवार को राष्ट्रमंडल खेलों की एकल स्पर्धाओं के प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।
दो बार की ओलंपिक पदक विजेता सिंधू ने राउंड 32 के मुकाबले में मालदीव की फातिमा नबाहा अब्दुल रज्जाक को महज 21 मिनट में 21-4, 21-11 से हरा दिया। वहीं पुरुष एकल स्पर्धा में श्रीकांत ने युगांडा के डेनियल वानागालिया को 21-9 21-9 से शिकस्त दी।

विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता 20 साल के लक्ष्य ने अपने से दोगुनी से भी अधिक उम्र के सेंट हेलेना के वर्नन स्मीड को सीधे गेम में 21-4, 21-5 से हराया। स्मीड 45 साल के हैं और उनके पास दुनिया के 10वें नंबर के खिलाड़ी लक्ष्य की गति और तेजतर्रार शॉट का कोई जवाब नहीं था। महिला एकल में आकर्षी कश्यप भी प्री क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में सफल रही। आकर्षी ने राउंड आफ 32 के मुकाबले में पाकिस्तान की माहूर शहजाद के बीच में हटने पर अगले दौर में प्रवेश किया।

पैर पॉवरलिफ्टिंग 
भारत के सुधीर ने गुरुवार को यहां राष्ट्रमंडल खेलों की पैरा पावर लिफ्टिंग स्पर्धा के पुरुष हैवीवेट फाइनल में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन के साथ स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रचा। सुधीर राष्ट्रमंडल खेलों की पैरा पावर लिफ्टिंग स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी है। उन्होंने अपने दूसरे प्रयास में 212 किग्रा वजन उठाकर रिकॉर्ड 134.5 अंक के साथ स्वर्ण पदक जीता। सुधीर हालांकि अपने अंतिम प्रयास में 217 किग्रा वजन उठाने में नाकाम रहे।

हॉकी:
भारतीय पुरुष हॉकी टीम ग्रुप दौर के आखिरी मैच में वेल्स को 4-1 के अंतर से मात देकर पहले पायदान पर रही। इंग्लैंड की टीम दूसरे पायदान पर रही। ऐसे में इंग्लैंड की सेमीफाइनल में 6 बार की चौंपियन ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगी। 

200 मीटर दौड़(महिला): 
भारत की स्टार महिला धावक हिमा दास ने 200 मीटर की हीट में 23.42 सेकेंड का समय निकाला और सातवें स्थान पर रहते हुए सेमीफाइनल में प्रवेश किया। 

स्क्वाश:
सर्वोच्च वरीयता प्राप्त दीपिका पल्लीकल और सौरव घोषाल की जोड़ी ने क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। वहीं जोशना चिनप्पा और हरिंदर को मिक्सड डबल्स के राउंड ऑफ 16 से बाहर का रास्ता देखना पड़ा है। वहीं अनहत-सुनैना और अभय-वेलावन की जोड़ी ने दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

टेबल टेनिस: 
मनिका बत्रा ने महिला एकल में जीत के साथ शुरुआत की है। उन्होंने अपने पहले दौर के मुकाबले में कनाडा की खिलाड़ी को मात देकर सफर की शुरुआत की। 

पॉवर लिफ्टिंग: 
भारत की मनप्रीत कौर और सकीना खातून गुरुवार को पावर लिफ्टिंग स्पर्धा के महिला लाइटवेट फाइनल में चौथे और पांचवें स्थान पर रहते हुए पदक से चूक गईं। वहीं पुरुषों के लाइटवेट फाइनल में परमजीत कुमार तीनों प्रयासों में विफल रहने के बाद अंतिम स्थान पर रहे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर