विवाह बंधन में बंधे तीरंदाज दीपिका कुमारी और अतनु दास, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिया आशीर्वाद  

Deepika Kumari and Atanu Das Marriage: विश्व पटल पर तीरंदाजी में भारत का परचम लहराने वाली दीपिका कुमारी और अतनु दास मंगलवार को रांची में विवाह बंधन में बंध गए।

dipika kumari atanu das
dipika kumari atanu das  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • 28 वर्षीय दीपिका कुमारी और 28 वर्षीय अतनु दास विवाह बंधन में बंधे
  • साल 2018 में दोनों के बीच हुई थी सगाई
  • झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शादी में शिरकत कर दिया नवदंपत्ति को आशीर्वाद और शुभकामनाएं

रांची: झारखंड की राजधानी रांची की विश्व विजेता तीरंदाज 26 वर्षीया दीपिका कुमारी मंगलवार कोलकाता के रहने वाले 28 वर्षीय प्रसिद्ध तीरंदाज अतनु दास से यहां वैवाहिक बंधन में बध गयीं। दोनों विश्वस्तरीय भारतीय तीरंदाजों का विवाह रांची के मोरहाबादी इलाके में वृंदावन विवाह घर में पारंपरिक ढंग से संपन्न हुआ जिसमें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समेत अनेक प्रमुख लोगों ने हिस्सा लिया।

सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन आज यहां अंतरराष्ट्रीय तीरंदाज दीपिका कुमारी और अतनु दास के विवाह समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने मोरहाबादी स्थित वृंदावन विवाह घर में आयोजित विवाह समारोह में वर-वधु को शादी की बधाई व सुखद दाम्पत्य जीवन के लिए शुभकामनाएं दीं। दीपिका रांची के रातू रोड इलाके की रहने वाली हैं और एक आटो चालक की पुत्री हैं। उन्होंने गरीबी से ऊपर उठकर पिछले कुछ वर्षों में दुनिया की अनेक स्पर्धाएं अपने नाम की हैं। 

समारोह में रखा गया सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल
कोरोना वायरस के कहर के कारण विवाह समारोह सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए संपन्न हुआ। विवाह समारोह के दौरान मास्क, सेनेटाइजर की वयवस्था के साथ-साथ सामाजिक दूरी बनाए रखने के अन्य उपाय भी किए गए थे। शादी के कार्ड में भी कोविड-19 महामारी से जुड़े सरकार के निर्देशों को पालन करने की गुजारिश की गयी थी। समारोह के केवल सिर्फ 60 निमंत्रण कार्ड छपे थे र मेहमानों को रिसेप्शन में शामिल होने के लिए शाम को दो अलग-अलग समय दिये गये थे ताकि सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेने की जा सके।


 
शानदार रहा है दोनों का करियर 
दीपिका और अतानु का करियर शानदार रहा है दोनों ही खिलाड़ियों ने देश के लिए तीरंदाजी में शानदार प्रदर्शन किया है। दुनिया की नंबर एक तीरंदाज रह चुकीं दीपिका ने तीरंदाजी विश्व कप में कुल पांच स्वर्ण पदक और विश्व चैंपियनशिप में दो रजत पदक जीते। वहीं राष्ट्रमंडल खेलों में भारत के लिए दो स्वर्ण पदक और एशियाई खेलों में एक कांस्य पदक जीत चुकी हैं। ओलंपिक ही एकमात्र बड़ी स्पर्धा है जिसमें वो कोई पदक अबतक नहीं जीत सकी हैं। अतनु दास भी भारत के लिए विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक सहित कई अंतरराष्ट्रीय पदक जीते हैं।  

अगली खबर