Makar Sankranti 2021: मकर संक्रांति पर भूलकर भी ना करें ये काम, वरना बुरे हो सकते हैं परिणाम

Makar Sankranti 2021 Do and Don'ts: मकर संक्रांति बेहद अहम त्यौहारों में से एक है और इस दिन आपको कुछ बातों का ध्यान रखते हुए भूल से भी वह काम नहीं करने चाहिए।

What not to do on Makar Sankranti 2020
मकर संक्रांति पर ना करें ये काम 

मुख्य बातें

  • सूर्य के उत्तरायण में जाने का प्रतीक है मकर संक्रांति 2021 का त्योहार।
  • पर्व के मौके पर कुछ चीजों का रखना चाहिए विशेष ध्यान।
  • मकर संक्रांति के अवसर पर वर्जित बताई गई हैं ये चीजें।

Makar Sankranti 2021: मकर संक्रांति के त्योहार के साथ सूर्य की गति उत्तरायण की ओर हो जाती है। इस दिन कुछ कार्यों का विशेष महत्व है जिसमें दान के साथ-साथ पूजा-पाठ सहित तमाम चीजें शामिल हैं। मान्यता के अनुसार इस त्योहार के दिन दान देने से कई गुना अधिक फल प्राप्त होता है।

14 जनवरी को मनाई जा रही मकर संक्रांति को खिचड़ी का त्योहार भी कहा जाता है। इस दिन खिचड़ी खाने के साथ-साथ पतंग उड़ाना शुभ माना जाता है। ये तो हुई बात मकर संक्रांति पर क्या होता है लेकिन कुछ चीजें ऐसी भी हैं जो त्योहार के दिन नहीं करनी चाहिए और इनको करना मकर संक्रांति के दिन वर्जित बताया गया है।

तामसी भोजन: मकर संक्रांति के दिन तामसी भोजन जैसे- प्याज, लहसुन, मांस जैसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे आपके अंदर अधिक गुस्सा और नकारात्मक ऊर्जा आती है।

नशे से दूरी: इस दिन किसी भी तरह के नशा से दूरी बनाए रखना भी जरूरी है। हो सके तो एल्कोहाल या स्मोकिंग करने सहित किसी भी तरह के नशे से बचें। 

गुस्सा: मकर संक्रांति के दिन अपनी वाणी को पवित्र रखना चाहिए। पूरा दिन किसी को अपशब्द ना कहें और ना किसी पर गुस्सा करें। सभी के साथ मधुरता के साथ समय बिताएं। इसके साथ ही बड़े लोगों का सम्मान करते हुए उनसे आशीर्वाद भी लें।

स्नान के बाद ही खाएं खाना: रोजाना आम तौर पर कई लोग बिना नहाए चाय, नाश्ता जैसी चीजें कर लेते है लेकिन मकर संक्रांति के दिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार इस दिन स्नान-दान और पूजा-पाठ के बाद ही किसी चीज या भोजन का सेवन करना चाहिए।

इन चीजों का करे सेवन: मकर संक्रांति के दिन चावल और मूंगदाल के साथ तिल  का सेवन करना शुभ माना जाता है।

सूर्य ढलने के बाद न करे भोजन: अगर सूर्य देव की कृपा पाना चाहते हैं तो इस दिन संध्या काल यानी सूरज ढलने के बाद अन्न का सेवन न करे।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर