Sharad Purnima Laxmi pujan: शरद पूर्णिमा पर हुआ था मां लक्ष्‍मी का जन्‍म, जानें पूजन व‍िध‍ि और धन लाभ के उपाय

Sharad Purnima Laxmi Puja : शास्त्रों के अनुसार, माता लक्ष्मी का जन्म शरद पूर्णिमा के दिन ही हुआ था इसलिए आज के दिन दुनिया भर के कई हिस्सों में हिंदू धर्म के लोग माता लक्ष्मी की विशेष पूजा-अर्चना करते हैं।

Sharad Purnima Devi Lakshmi janam diwas laxmi pujan vidhi and upay for dhan labh yog
Sharad Purnima Laxmi pujan : Kyon or kaise karein 

मुख्य बातें

  • शरद पूर्णिमा को माता लक्ष्मी का जन्म द‍िवस मनाया जाता है
  • शरद पूर्णिमा पर माता लक्ष्मी की विशेष पूजा का भी व‍िधान है
  • इस दिन माता लक्ष्मी को सफेद कमल का फूल चढ़ाना बेहद शुभ माना जाता है

आज 30 अक्टूबर को शरद पूर्णिमा का त्योहार पूरे हिंदुस्तान में मनाया जाता है, इस दिन माता लक्ष्मी का जन्मदिन भी मनाया जाता है। शास्त्रों के अनुसार, इसी दिन देवी लक्ष्मी का समुद्र मंथन के द्वारा आगमन हुआ था। ऐसा माना जाता है कि अगर भक्त इस दिन माता लक्ष्मी की विशेष तरह से पूजा-अर्चना करें तो उन्हें माता लक्ष्मी धनवान बना देती हैं। हिंदू धर्म में देवी लक्ष्मी को धन और सुख-समृद्धि की देवी कहा गया है।

पूजा करने की विधि (Sharad Purnima Laxmi Pooja Vidhi)
शरद पूर्णिमा के दिन आपको अपने पूजा स्थल को अच्छी तरह से साफ-सुथरा करके एक सुंदर से आसन पर माता लक्ष्मी को विराजमान कराना चाहिए साथ ही आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि उनके साथ भगवान विष्णु की प्रतिमा भी जरूर हो। माता लक्ष्मी की पूजा की थाली फूल, अक्षत, रोली, दीपक, हल्दी इत्यादि चीजों से सजी होनी चाहिए। इस दिन पूजा स्थल में शुद्ध देसी घी का एक अखंड दीपक जलाएं जो कम से कम 24 घंटे तक जलता रहना चाहिए। पूजा में सबसे पहले भगवान श्री गणेश की आराधना करें उसके बाद देवी लक्ष्मी और सभी देवी-देवताओं को ध्यान करते हुए विधिवत तरीके से पूजा संपन्न करें।

दिल खोलकर करें दान (Sharad Purnima Daan)
शास्त्रों के अनुसार, इस दिन अगर आपको माता लक्ष्मी को प्रसन्न करना है तो सबसे अच्छा उपाय है कि आपको गरीबों में भोजन, कपड़े, जरूरत के सामान दान करने चाहिए। पढ़ने वालों को गीता, भागवत, श्री रामचरितमानस इत्यादि धार्मिक पुस्तकें दान करें। इससे माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और आपको सुख समृद्धि प्रदान करती हैं।

इस दिन माता लक्ष्मी करती हैं पृथ्वी का भ्रमण (Sharad Purnima Laxmi Ji Katha)
शास्त्रों के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि शरद पूर्णिमा के दिन देवी लक्ष्मी भगवान विष्णु के साथ गरुण पर बैठकर पूरी पृथ्वी का चक्कर लगाती हैं। इसलिए आज के दिन इस मनोरम दृश्य को देखने स्वर्ग से सभी देवी-देवता गण पृथ्वी पर आ जाते हैं। इसी वजह से शरद पूर्णिमा की रात को प्रकृति का अद्भुत नजारा देखने को मिलता है।

यह उपाय जरूर करें (Sharad Purnima Laxmi ji ke upay)
अगर आप अपने जीवन में धनवान बनना चाहते हैं और चाहते हैं कि समाज में आपका स्थान ऊंचा हो तो शरद पूर्णिमा के दिन श्रीसूक्त का पाठ करें, कनकधारा स्त्रोत का पाठ करें, विष्णु सहस्त्रनाम का जप करें। इस दिन माता लक्ष्मी को सफेद कमल का फूल चढ़ाना बेहद शुभ माना जाता है। इस दिन मछलियों को आटा जरूर खिलाना चाहिए। ऐसा करने से आपके जीवन की सभी समस्याएं दूर होंगी। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर