Mangalvar Vrat Ki Vidhi: मंगलवार व्रत से होगा अमंगल का नाश, यहां जानें कैसे करें यह व्रत और पूजा विधि 

Mangalvar Vrat Vidhi: साहस, सम्मान, बल और पुरुषार्थ की प्राप्ति के लिए मंगलवार का व्रत किया जाता है। ‌यह व्रत करने से हनुमान जी की असीम कृपा प्राप्त होती है। यहां जानें मंगलवार का व्रत कैसे करना चाहिए। 

Mangalvar vrat, puja and udyapan vidhi, kaise kare mangalvar ka vrat
मंगलवार व्रत विधि (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • मंगलवार का व्रत करने से मिलती है हनुमान जी की असीम कृपा।
  • मंगलवार का व्रत करने से होता है शत्रुओं का नाश।
  • इस व्रत से होती है सुख-समृद्धि की प्राप्ति। 

Mangalvar Vrat Vidhi In Hindi: मंगलवार का व्रत करना श्री हनुमान के भक्तों के लिए लाभदायक होता है। मंगलवार का व्रत करने से कुंडली में मौजूद मंगल ग्रह शुभ फल देता है। यह व्रत करने से साहस, सामान, बल और पुरुषार्थ बढ़ता है। जो जातक मांगलिक दोष से पीड़ित होते हैं उन्हें यह व्रत जरूर करना चाहिए। मंगलवार का व्रत करने से संतान प्राप्ति होती है तथा संतान संबंधित समस्याएं दूर होती हैं। भगवान हनुमान की असीम कृपा की वजह से यह व्रत करने वाले लोगों को किसी प्रकार का भय नहीं रहता है। मंगलवार का व्रत करने से शत्रुओं का नाश होता है तथा शनि दोष से मुक्ति मिलती है। मंगलवार का व्रत करने से घर, वाहन आदि का सुख प्राप्त होता है। जो जातक यह व्रत प्रारंभ करना चाहते हैं उन्हें किसी भी महीने के शुक्ल पक्ष के पहले मंगलवार से यह व्रत प्रारंभ करना चाहिए। यह व्रत 21 या 45 मंगलवार तक रखा जाता है। कुछ लोग इसे आजीवन भी रखते हैं। 

मंगलवार व्रत पूजा विधि

मंगलवार का व्रत करने के लिए सुबह जल्दी उठें तथा स्नान करके स्वच्छ लाल कपड़े पहन लें। अगर पुरुष यह व्रत कर रहे हैं तो पूजा के दौरान सिले हुए लाल कपड़े ना पहनें। घर के ईशान कोण में चौकी रखें। अब भगवान हनुमान की मूर्ति या चित्र स्थापित करें। भगवान हनुमान की मूर्ति या चित्र के साथ भगवान राम और माता सीता की मूर्ति या चित्र अवश्य स्थापित करें। हाथ में जल लेकर भगवान हनुमान के सामने व्रत करने का संकल्प लें और प्रार्थना करें। धूप-दीप या दीया जलाकर भगवान राम और माता सीता की पूजा आराधना करें इसके बाद श्री हनुमान की पूजा करें। 

पूजा के दौरान श्री हनुमान को लाल वस्त्र, सिंदूर और लाल फूल अर्पित करें। अब रूई में चमेली का तेल डालकर भगवान हनुमान के सामने रख दें। कथा, सुंदर काण्ड और हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद आरती करें। फिर श्री हनुमान को गुड़ और चना का भोग लगाएं।  

मंगलवार व्रत में क्या खाएं क्या नहीं

मंगलवार व्रत के दौरान आपको गुड़ और गेहूं का भोजन करना चाहिए। इस दिन नमक ना खाएं। मंगलवार व्रत करने के दौरान मीठा भोजन ग्रहण करें। आप फल और दूध का सेवन भी कर सकते हैं।

मंगलवार व्रत का मंत्र

अगर आप मंगलवार का व्रत कर रहे हैं तो लाल चंदन की माला से 108 बार नीचे दिए गए मंत्र का जाप करें।

ऊं क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:

इस दिन क्या करें दान

अगर आप मंगलवार का व्रत कर रहे हैं तो इस दिन मसूर की दाल, सोना, तांबे का बर्तन, गुड़, तिल, लाल कपड़े, केसर में दे सकते हैं।

कैसे करें मंगलवार व्रत का उद्यापन

आपने जितने मंगलवार व्रत करने का संकल्प लिया है उसके अगले मंगलवार के दिन उद्यापन कर सकते हैं। यदि आपने 21 मंगलवार व्रत रखने का संकल्प लिया है तो 21 मंगलवार का व्रत रखने के बाद 22वें मंगलवार के दिन उद्यापन करें। विधि-विधान से भगवान हनुमान की पूजा करने के बाद हनुमान जी के लिए हवन करवाएं तथा उन्हें वस्त्र अर्पित करें। इस दिन ब्राह्मण भोजन करवाएं और दान देंं। 


 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर