Surya grahan 2021: क्‍या सूर्य ग्रहण के दौरान सो सकती है गर्भवती मह‍िला, जानें प्रेग्‍नेंसी में ग्रहण के न‍ियम

2021 का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून यानी‌ ज्येष्‍ठ अमावस्या पर लगेगा। हिंदू मान्यताओं के अनुसार सूर्य ग्रहण काल में कुछ कार्य वर्जित माने जाते हैं। सूर्य ग्रहण पर गर्भवती महिलाओं को कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

what pregnant woman should do during solar eclipse, precautions pregnant woman should take suring solar eclipse, dos and donts for pregnant women during solar eclipse, सूर्य ग्रहण, सूर्य ग्रहण 2021, सूर्य ग्रहण पर गर्भवती महिलाएं क्या करें,
सूर्य ग्रहण पर गर्भवती महिलाओं को क्या करना चाहिए 

मुख्य बातें

  • हिंदू पंचांग के अनुसार, इस बार वर्ष 2021 का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून के दिन लगने वाला है।
  • इस दिन ज्येष्ठ अमावस्या, वट सावित्री व्रत तथा शनि जयंती जैसे पर्व भी पड़ रहे हैं।
  • सूर्य ग्रहण पर कुछ कार्य वर्जित माने गए हैं, इस दिन गर्भवती महिलाओं को अपना खास ध्यान रखना चाहिए।

गर्भवती मह‍िलाओं के ल‍िए सूर्य ग्रहण के न‍ियम : वर्ष 2021 का पहला सूर्य ग्रहण ज्येष्ठ मास में लगने वाला है। यह सूर्य ग्रहण ज्येष्ठ मास की अमावस्या यानी ज्येष्ठ अमावस्या पर लगेगा। ज्येष्ठ अमावस्या बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है क्योंकि इस दिन वट सावित्री व्रत तथा शनि जयंती जैसे शुभ पर्व भी मनाए जाते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, इस वर्ष ज्येष्ठ अमावस्या 10 जून को है। विशेषज्ञ बता रहे हैं कि इस बार भारत में यह सूर्य ग्रहण दिखाई नहीं देगा। इसी वजह से इस बार सुतक काल माना नहीं जाएगा और धार्मिक कार्यों पर पाबंदी नहीं होगी। मगर जानकारों के मुताबिक, सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ कार्य वर्जित माने जाते हैं। कहा जाता है कि किसी भी ग्रहण का प्रभाव गर्भवती महिलाओं पर सबसे ज्यादा पड़ता है इसीलिए उन्हें कुछ बातों का ध्यान अवश्य रखना चाहिए। मान्यताओं के अनुसार, सूर्य ग्रहण काल में गर्भवती महिला द्वारा किए गए कुछ काम मां और बच्चा दोनों के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं।  

solar eclipse impact on pregnant ladies, सूर्य ग्रहण 2021 में गर्भवती मह‍िला को क्‍या करना चाह‍िए 

नंगी आंखों से सूर्य ना देखें

ग्रहण काल के दौरान गर्भवती महिलाओं को नंगी आंखों से सूर्य को‌ देखने से बचना चाहिए ताकि वह सूर्य की किरणों से बची रहें और उनकी आंखों को नुकसान ना हो। यह भी कहा जाता है कि ऐसा करने से महिला के स्वास्थ्य और‌ गर्भ पर बुरा असर पड़ता है।

घर से बाहर ना निकलें

ग्रहण काल के दौरान गर्भवती महिला घर पर रहने का प्रयास करें। ग्रहण काल के दौरान बाहर नहीं निकलना चाहिए क्योंकि आपकी और गर्भ‌ में पल रहे शिशु की‌ त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। गर्भस्थ शिशु को ग्रहण की छाया से बचाना चाहिए।

नुकीली चीजों से रहें दूर

हिंदू मान्यताओं के अनुसार, गर्भवती महिला को ग्रहण काल‌ में नुकीली जी और काटने वाली चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। चाकू, कैंची, पिन आदि चीजों का इस्तेमाल करना शिशु का नुकसान पहुंचा सकता है।

ग्रहण काल ना करें भोजन

गर्भवती महिलाओं को यह हिदायत दी जाती है कि ग्रहण काल में वह सिर्फ फलाहार का सेवन करें और भोजन से दूर रहें।

Can a pregnant woman sleep during solar eclipse, गर्भवती महिलाएं सूर्य ग्रहण के दौरान ना‌ सोएं

गर्भवती महिलाएं इस बात पर विशेष ध्यान दें कि उन्हें सूर्य ग्रहण काल में नहीं सोना चाहिए। इस दौरान गर्भवती महिलाओं को घास पर बैठना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को सूर्य ग्रहण से पहले और बाद में स्नान अवश्य करना चाहिए, इससे सूर्य ग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर