Vedic Rakhi for Brother: क्या होती है वैदिक राखी, क्यों है ये आपके भाई के लिए शुभ

Vedic rakhi Kya hoti hai: कोरोना महामारी में अपने भाई की कलाई पर बाजार की राखी नहीं, बल्कि वैदिक राखी बांधें। इसका बड़ा महत्व है और ये शुभ भी मानी जाती है।

Rakshabandhan 2020 what is Vedic Rakhi for Brother kaise banaye bhai ke liye vedic rakhi
Rakshabandhan 2020 Vedic Rakhi, क्‍या होती है वैद‍िक राखी   |  तस्वीर साभार: Shutterstock

मुख्य बातें

  • रक्षाबंधन के ल‍िए बहनें अपने भाइयों के ल‍िए शौक से राखी खरीदती हैं
  • इस बार आप भाई को वैद‍िक राखी भी बांध सकती हैं
  • इस राखी को बहुत पहले से भाइयों के लिए तैयार करने की परंपरा चली आ रही है और इसे शुभ भी माना जाता है

कोरोना महामारी में बाजार से बनी राखी खरीदने की बजाय आप भी वैदिक राखी का इस्तेमाल करें। भाई की कलाई पर इसे बांधे और उसे हर बुरी नजर से बचाएं। आज बहनों को हम वैदिक राखी से जुड़ी हर बात विस्तार से समझाएंगे। क्या होती है वैदिक राखी और क्यों है ये आपके भाई के लिए शुभ ? आइए जानते हैं। पहले देखें इस साल कब है राखी। 

रक्षाबंधन 2020, Rakshabandhan 2020 
अगर रक्षाबंधन की बात करें तो यह पारंपरिक तौर पर श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि (पूर्णिमा के दिन) के दिन मनाया जाता है। अगर इस साल यानी 2020 पर नजर डालें तो यह 3 अगस्त को मनाया जाएगा। रक्षा बंधन या राखी के त्योहार के दिन सुबह 9:28 बजे से रात 9:17 बजे के बीच कभी भी सूत्र बांधा जा सकता है। हालांकि, पवित्र धागा बांधने का सबसे अच्छा समय अपर्णा मुहूर्त के दौरान है जो दोपहर 1:48 बजे से शाम 4:29 बजे तक रहेगा।

क्या होती है वैदिक राखी
वैदिक राखी का पहले के समय में खूब इस्तेमाल होता था। दूब याने घास, अक्षत, चंदन, सरसों और केसर को मिलाकर जो राखी बनाई जाती है, उसे ही वैदिक राखी कहते हैं।  

कैसे बनाएं वैदिक राखी
वैदिक राखी बनाना कोई मुश्किल भरा काम नहीं हैं. इसे बनाना बहुत आसान है। दुर्वा यानी घास, अक्षत, चंदन, सरसों और केसर को एक रेशम के कपड़े में सही और अच्छे तरह से बांध लें। बांधने के बाद इसे आप सिल लें ताकि ये राखी के आकर का हो जाए। अब इसे कलावे में पिरोकर बेहतरीन बना सकती हैं. बन गई वैदिक राखी।  

Raksha Bandhan 2020 date, time and Shubh Muhurat

क्या है वैदिक राखी का महत्व
मान्यता ये है कि अगर वैदिक राखी को भाई की कलाई पर बांधी जाए, तो इससे संक्रामक रोगों से लड़ने की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है। इसके साथ ही ये रक्षा सूत्र भाई के अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है।  

क्‍या रखें राखी की थाली में वैद‍िक राखी के साथ 
राखी के शुभ पर्व पर राखी की थाली में रखी जाने वाली छह  चीजों का बहुत महत्व है। राखी को तो आप राखी की थाली में रखेंगी ही। इसके अलावा भाई के माथे पर त‍िलक के ल‍िए रोली, कुमकम या हल्‍दी रखें। रक्षाबंधन की थाली में अक्षत यानी खड़े चावल को भी जरूर रखें। राखी की थाली में भी दीपक रखा जाता है। ऐसी मान्यता है कि आरती उतारने से हर तरह की बुरी नजर से भाई की रक्षा होती है। साथ ही मुंह मीठा करवाने के ल‍िए मिठाई भी जरूर रखें। 

अपनी परंपरा से जुड़ने का ये सही मौका है। इस साल आप भी वैदिक राखी बनाइए। कहते हैं कि इस तरह की पहल हर संस्कृति के लिए बड़ी उपयोगी साबित होती है। 
 

अगली खबर