Parashuram Jayanti 2022 Date: परशुराम जयंती 2022 में कब है, जानें तिथि और पूजा का शुभ मुहूर्त

Parashuram Jayanti 2022 Date (परशुराम जयंती 2022 कब है): हिंदू पंचांग के अनुसार वैसाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया को परशुराम जयंती मनाई जाती है। देखें परशुराम जयंती 2022 की डेट और मुहूर्त।

parshuram jayanti 2022 date, parshuram jayanti 2022 kab hai, parshuram jayanti 2022, parshuram jayanti 2022 date in india, parshuram jayanti 2022 in uttar Pradesh, parshuram jayanti 2022 mein kab hai, parshuram jayanti kab hai
परशुराम जयंती 2022 तिथि 
मुख्य बातें
  • सनातन धर्म में परशुराम जयंती का विशेष महत्व है।
  • भगवान परशुराम श्री हरि के छठे अवतार माने जाते हैं।
  • बताया जाता है कि भगवान परशुराम का जन्म कुत्रेष्ठि यज्ञ से जमदग्नि ऋषि के यहां हुआ था।

Parashuram Jayanti 2022 Date and Time in India: हिंदू पंचांग के अनुसार वैसाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को परशुराम जयंती मनाई जाती है। मान्यता है कि धरती पर ऋषि मुनियों और ब्राह्मणों पर हो रहे अत्याचार को समाप्त करने के लिए श्रीहरि भगवान विष्णु ने परशुराम का अवतार धारण किया था। इस दिन विधि विधान से भगवान परशुराम की पूजा अर्चना करने व ब्राह्मणों को दान पुण्य करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और विशेष फल की प्राप्ति होती है। तथा किसी पात्र व्यक्ति को दान पुण्य करने से भगवान परशुराम का आशीर्वाद अपने भक्तों पर सदैव बना रहता है। इस बार परशुराम जयंती 3 मई 2022, मंगलवार को है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार परशुराम, भगवान विष्णु के छठे अवतार हैं। शास्त्रों की मानें तो भगवान परशुराम का जन्म कुत्रेष्ठि यज्ञ से जमदग्नि ऋषि के यहां हुआ था, भगवान शिव ने इन्हें आशीर्वाद के रूप में परशु यानी फरशा दिया था। भगवान परशुराम की पूजा करने से किसी भी डर के प्रति साहस बढ़ता है और समस्त कष्टों का नाश हो जाता है। ऐसे में इस लेख के माध्यम से आइए जानते हैं इस बार कब है परशुराम जयंती, शुभ मुहूर्त और महत्व से लेकर संपूर्ण बातें।

Parashuram Jayanti 2022 Date, परशुराम जयंती 2022 कब है

हिंदू पंचांग के अनुसार वैसाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया को परशुराम जयंती मनाई जाती है। इस बार परशुराम जयंती 03 मई 2022, मंगलवार को है। तृतीया तिथि 03 मई, मंगलवार को सुबह 05 बजकर 20 मिनट से शुरू होकर 04 मई 2022, बुधवार को सुबह 7 बजकर 30 मिनट पर समाप्त होगी। मान्यता है कि इस दिन किया गया पुण्य कभी समाप्त नहीं होता।

Parashuram Jayanti 2022 Date And Shubh Muhurat, परशुराम जयंती 2022 तिथि और शुभ मुहूर्त

  • परशुराम जयंती 2022 – 3 मई 2022, मंगलवार
  • तृतीया तिथि की शुरुआत – 3 मई, मंगलवार प्रात: 5:20 से
  • तृतीया तिथि की समाप्ति – 4 मई 2022, बुधवार को सुबह 7:30 बजे तक


Parashuram Jayanti Imortance, परशुराम जयंती का महत्व

सनातन धर्म में परशुराम जयंती का विशेष महत्व है। मान्यता है कि इस दिन सुबह सूर्योदय से पहले किसी पवित्र नदी में स्नान कर विधि विधान से भगवान परशुराम की पूजा अर्चना करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है और समस्त कष्टों का निवारण होता है। संतान प्राप्ति के लिए भी परशुराम जयंती का विशेष महत्व है। मान्यता है कि परशुराम जयंती के दिन कुछ विशेष उपाय करने व भगवान परशुराम के मंत्रों का जाप करने से पुत्र संबंधी सभी समस्याओं का निवारण होता है।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर