Sawan Recipe: घर पर बनाएं सावन स्पेशल मालपुएं, पर्व का बढ़ जाएगा महत्व

How To Cook Malpua in Sawan: सावन का महीना शुरू हो चुका है। सावन का महीना भगवान शिव को अति प्रिय है। सावन के महीने में भक्त भगवान शिव की भक्ति में लीन हो जाते हैं। सावन के महीने में प्रभु शिव का जलाभिषेक करने का विशेष महत्व है। इस सावन भगवान शिव को मालपुएं का भोग जरूर लगाएं।

Sawan 2022 Festival
Sawan Recipe  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • सावन के महीने में पहला सोमवार 18 जुलाई को पड़ेगा
  • सावन के महीने में शिव भक्त विधि-विधान से भगवान शिव की पूजा करते हैं
  • भगवान शिव प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं

Malpua Recipe In Sawan: भगवान भोलेनाथ का सबसे प्रिय महीना सावन की शुरुआत 14 जुलाई से हो चुकी है। सावन का महीना 12 अगस्त तक चलेगा। इस बार सावन के महीने में चार सोमवार के पड़ेंगे। पहला सोमवार 18 जुलाई को पड़ेगा। सावन का महीना जितना शिव भगवान को प्रिय है, उतना ही शिव भक्तों को भी प्रिय होता है। सावन के महीने में शिव भक्त विधि-विधान से भगवान शिव की पूजा करते हैं और भगवान शिव प्रसन्न होकर उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं। सावन के महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा की जाती है। इस दिन भगवान शिव और माता पार्वती को कई व्यंजनों से भोग लगाया जाता है। इन्हीं व्यंजनों में से एक है मालपुआ। मालपुआ से भगवान शिव व माता पार्वती को भोग लगाना शुभ माना जाता है। व्रत में भी मालपुआ का सेवन किया जा सकता है। आइए जानते हैं मालपुआ बनाने की रेसिपी।

Also Read- Sawan 2022: सावन के महीने में जरूर करें इन मंदिरों के दर्शन, बनी रहेगी भोलेनाथ की कृपा

बनाने की विधि

मलाई पूरी जिसे मलाई मालपुआ भी कहते हैं। यह हर जगह अलग अलग तरीकों से बनाई जाती है। इसे बनाने के लिए एक पैन में पानी और गुड़ डालकर गुड़ के पूरी तरह पिघलने तक पकाएं। गैस बंद कर दें और गुड़ के पानी को पूरी तरह से ठंडा कर लें। गुड़ की चाशनी को छान लें। मिश्रण को फेंटें और धीरे-धीरे गेहूं का आटा डालें। ध्यान रहे कि घोल में किसी तरह की गांठ न बने। अब इसमें इलायची पाउडर, सौंफ पाउडर और कुटी हुई काली मिर्च डालें और अच्छी तरह मिलाएं।

Also Read- Tulsidas Jayanti 2022: जानिए कब मनाई जाएगी तुलसीदास जयंती, पढ़ें उनके जीवन से जुड़ी रोचक बातें

बैटर को 1 घंटे के लिए ढककर रख दीजिए ताकि गेहूं का आटा अच्छी तरह से भीग जाए। फिर एक पैन में तेल गर्म करें, पैन के बीच में कलछी की मदद से घोल डालें। मध्यम आंच पर मालपुआ तलें और एक बार ऊपर से सिकने के बाद पलट दें और दोनों तरफ से सुनहरा होने तक पका लें। बादाम और पिस्ता से सजाएं और फिर सबसे पहले भगवान को भोग लगाएं बाद में सबको सर्व करें।

(डिस्क्लेमर : यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्स नाउ नवभारत इसकी पुष्टि नहीं करता है।)

देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | अध्यात्म (Spirituality News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर