Maha Shivratri 2021: भगवान शिव को ये फूल चढ़ाने से होगी विशेष फल की प्राप्ति, जानिए हर फूल का महत्‍व

Maha Shivratri 2021: महाशिवरात्रि में अब गिनती के दिन बाकी हैं। इस पावन अवसर पर आप इन फूलों को भगवान शिव को चढ़ाकर मनचाहे वर की प्राप्ति कर सकते हैं। 

Maha shivratri 2021
Maha shivratri 2021 

मुख्य बातें

  • महादेव को अर्पित फूलों का अपना अलग अलग महत्व है
  • शिव को धतूरे का फल और फूल चढ़ाने से संतान सुख की होती है प्राप्ति
  • अलसी का फूल भगवान शिव को है अत्यंत प्रिय

Maha Shivratri 2021: होली, दीपावली औ रक्षाबंधन की तरह ही महाशिवरात्रि हिंदु धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है। भगवान शिव और माता पार्वती के मिलन उत्सव को भक्त महाशिवरात्रि के रूप में मनाते हैं। इस दिन जो भी भक्त आदिदेव महादेव की भक्ति में तल्लीन होकर भगवान शिव की पूजा अर्चना करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

इस साल महाशिवरात्रि का पावन पर्व 11 मार्च को है। महाशिवरात्रि को देश में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। ऐसे में आइए जानते हैं महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को कौन से पुष्प अर्पित करें। जिससे भगवान शिव प्रसन्न हों और आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हों।

गुड़हल

गुड़हल के फूल को आप सबने देखा होगा, लाल रंग के गुड़हल के फूल को अड़हल का फूल भी कहते हैं। गुड़हल का फूल भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है, इसे आप भगवान शिव को अर्पित कर सकते हैं। मान्यता है कि महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव औऱ माता पार्वती को गुड़हल के फूल अर्पित करने से भक्त को सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है और सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

परिजात

परिजात हिंदु देवी देवताओं का पसंदीदा फूल है। यह फूल भगवान श्री राम जी को अत्यंत प्रिय है, लेकिन आप यह फूल भगवान शिव को अर्पित कर सकते हैं क्योंकि भगवान शिव सुंदर और महक वाले फूलों के बेहद शौकीन हैं। मान्यता है कि महाशिवरात्रि के अवसर पर परिजात का फूल भगवान शिव को चढ़ाने से स्वास्थ्य लाभ होता मिलता है और व्यक्ति एक सुखी जीवन व्यतीत करता है। 

कमल का फूल

कमल का फूल माता लक्ष्मी को अत्यंत प्रिय है, यह फूल मां वैभव लक्ष्मी को अवश्य चढ़ाया जाता है। लेकिन इस फूल के शौकीन भगवान शिव भी हैं। कमल का फूल भगवान शिव को अर्पित करने से भोलेनाथ का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इसलिए प्रत्येक सोमवार औऱ खास कर इस महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को कमल का फूल अवश्य चढ़ाएं।

गुलाब का फूल

गुलाब का फूल सभी देवी देवताओं समेत भगवान शिव को भी अत्यंत प्रिय है। मान्यता है कि भगवान शिव को गुलाब का फूल अर्पित करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं। तथा व्यक्ति को अच्छी सेहत, लंबी आयु और खुशहाल जीवन के वरदान की प्राप्ति होती है। इसलिए महाशिवरात्रि के इस पावन पर्व पर भगवान शिव को गुलाब का फूल अवश्य चढ़ाएं।

चमेली का फूल

भगवान शिव को चमेली का फूल बेहद प्रिय है। वेदों में किए गए जिक्र के अनुसार भगवान शिव को चमेली का फूल अर्पित करने से मनुष्य के जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है और वाहन सुख की प्राप्ति होती है। साथ ही घर में कभी अनाज की कमी नहीं होती। आपके घर परिवार में अनाज का ढेर लगा रहता है। 

धतूरे का फल और फूल

धतूरा भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है। भगवान शिव की पूजा धतूरे के फल और फूल के बिना अधूरी मानी जाती है। जी हां महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को धतूरे का फल औऱ फूल अवश्य चढ़ाएं। मान्यता है कि भगवान शिव को धतूरे का फल औऱ फूल चढ़ाने से महादेव जल्दी प्रसन्न होते हैं तथा भक्तों पर वह सदैव अपनी कृपा बनाए रखते हैं। वहीं वेदों में भी धतूरे के फल औऱ फूल की व्याख्या की गई है, कहा जाता है कि जो भी दंपत्ति भगवान शिव को धतूरे का फल औऱ फूल अर्पित करता है सकी संतान प्राप्ति की मनोकामना जल्द पूर्ण होती है।

बेल पुष्प

बेल के पत्ते भगवान शिव को बहुत प्रिय है। आपको बता दें बेल पत्तो को ही बेलपत्र और बिल्वपत्र कहा जाता है। बेलपत्र के बिना भगवान शिव की अराधना और उपासना संपूर्ण नहीं मानी जाती। बेलपत्र भगवान शिव को अर्पित करते समय धयान रखें कि जब आप बेल पत्ते तोड़ते हैं तो उनमें तीन पत्ते एक साथ जुड़ें हों और इसे शिवलिंग पर चढ़ाते समय भी इस बात का ध्यान रखें। भगवान शिव को जब भी बेलपत्र अर्पित करें तो उसमें तीन पत्ते एक साथ जुड़े होने चाहिए। शिवलिंग पर बेलपत्र चढ़ाने से अच्छे जीवन साथी की प्राप्ति होती है।

जूही का फूल

यदि दुख दरिद्रता को घर से दूर भगाना है तो इस महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को जूही का फूल अर्पित करें। इस फूल से भगवान शिव की पूजा अर्चना करने से भक्तों को विशेष फल की प्राप्ति होती है और घर से दरिद्रता दूर होती है। ऐसे में इस महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को जूही का फूल अवश्य चढ़ाएं।

अलसी का फूल

भगवान शिव की अराधना के लिए अलसी का फूल विशेष महत्व रखता है। अलसी का फूल भगवान शिव को चढ़ाने से पापों से मुक्ति मिलती है। इस फूल की सुगंध भगवान शिव को अत्यंत प्रिय है। ऐसे में इस महाशिवरात्रि के अवसर पर भगवान शिव को अलसी का फूल चढ़ा सभी पापों से मुक्त हो सकते हैँ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर