Lohri 2022 muhurat : आज कब जलाएं लोहड़ी, जानें शुभ मुहूर्त, समय, सामग्री और सही व‍िध‍ि

Lohri 2022 Shubh Muhurat: आज पूरे भारत में लोहड़ी का त्यौहार हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है। यहां जानें, आज लोहड़ी जलाने का शुभ मुहूर्त, समय, सामग्री और विधि। 

Lohri 2022 Know Here Shubh Muhurat For Lohri 2022, Lohri Timing Today 2022 Know Here
लोहड़ी 2022 शुभ मुहूर्त (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • आज मनाया जा रहा है लोहड़ी का त्यौहार।
  • शुभ मुहूर्त पर जलाना चाहिए लोहड़ी।
  • लोहड़ी पर अग्नि में तिल डालने की है प्रथा।

Lohri 2022 Shubh Muhurat Today: आज पूरे भारत में लोहड़ी का त्यौहार उत्साह और उमंग के साथ मनाया जा रहा है। लोहड़ी का त्यौहार हर किसी के लिए नई खुशियां लेकर आता है। यह त्यौहार हर साल मकर संक्रांति से ठीक एक दिन पहले मनाया जाता है। नवविवाहित जोड़ों और नए जन्मे शिशुओं के लिए यह त्यौहार बहुत विशेष माना गया है। भारत के कई राज्यों में लोहड़ी को तिलोड़ी भी कहते हैं। लोहड़ी के दिन लोग नए कपड़े पहनते हैं और घर में पकवान बनाते हैं। शुभ मुहूर्त पर लोग एकत्रित होकर लोहड़ी जलाते हैं और इसके इर्द गिर्द लोहड़ी के गीत गाकर इस पर्व को मनाते हैं। मान्यताओं के अनुसार, लोहड़ी को हमेशा शुभ मुहूर्त पर जलाना चाहिए। अगर आप भी यह त्यौहार मना रहे हैं तो यहां जानें शुभ मुहूर्त, समय, सामग्री और विधि।

लोहड़ी जलाने का शुभ मुहूर्त आज कब है? (Lohri 2022 Timing Today)

लोहड़ी का त्यौहार आज यानी 13 जनवरी 2022 के दिन मनाया जा रहा है। शाम के 5:00 बजे से आज रोहिणी नक्षत्र शुरू हो जाएगा।‌ जिसके बाद शाम के 05:43 से लोहड़ी जलाने का शुभ मुहूर्त प्रारंभ होगा जो 07:25 पर समाप्त हो जाएगा। शाम 05:43 से शाम 07:25 के बीच में आप लोहड़ी जला सकते हैं।

Also Read: Happy Lohri 2022 Wishes Images, Messages: इन रंगबिरंगी तस्वीरों से भेजें लोहड़ी की शुभकामनाएं, दोस्‍तों से कहें हैप्‍पी लोहड़ी

Also Read: Happy Lohri 2022 Wishes, Images: अपने दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों को भेजें लोहड़ी के व‍िशेज, ये इमेज मैसेज आएंगे काम

लोहड़ी में क्यों अर्पित किया जाता है तिल?

लोहड़ी के दिन लोग अग्नि में तिल अर्पित करते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, लोहड़ी के दिन अग्नि में तिल अर्पित करना लाभदायक है। गरुड़ पुराण के मुताबिक, तिल भगवान विष्णु के शरीर से उत्पन्न हुआ है। ऐसे में लोग तिल का उपयोग धार्मिक कार्यों में करते हैं। माना जाता है कि लोहड़ी के दिन अग्नि में तिल अर्पित करने से अग्नि देव प्रसन्न होते हैं। आयुर्वेद की दृष्टि से देखा जाए तो अग्नि में तिल डालने से वातावरण शुद्ध हो जाता है। अग्नि में तिल डालने के बाद परिक्रमा करने से शरीर में गति उत्पन्न होती है। यह स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक माना गया है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर