Sawan shivratri 2021: साल 2021 में इस द‍िन होगी सावन मास की श‍िवरात्रि, जानें क्‍या महत्‍व रखती है ये त‍िथ‍ि

Sawan shivratri 2021 Date in India: सनातन धर्म में सावन मास की शिवरात्रि बहुत महत्वपूर्ण मानी गई है। इस दिन भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए जलाभिषेक अवश्य करना चाहिए।

sawan 2021, sawan shivratri 2021, sawan shivratri 2021 date, सावन 2021, सावन शिवरात्रि 2021
जानें कब है सावन 2021 की मासिक शिवरात्रि (Pic: Istock) 

मुख्य बातें

  • शिव पुराण में उल्लेखित है सावन शिवरात्रि का महत्व, भगवान शिव की विशेष पूजा से भक्तों की मनोकामनाएं होती हैं पूरी।
  • इस वर्ष 6 अगस्त को पड़ रही है सावन मास की शिवरात्रि, 7 अगस्त को किया जाएगा सावन मास की शिवरात्रि का पारण।
  • सावन शिवरात्रि पर भोलेनाथ का जलाभिषेक करना भक्तों के लिए माना गया है अत्यंत लाभदायक।

Sawan shivratri 2021: शिव पुराण में सावन महीने का खास महत्व बताया गया है। शिव भक्तों के लिए सावन मास अत्यंत महत्वपूर्ण है। ‌सावन का महीना विशेष रूप से भगवान शिव को समर्पित है और इस महीने में पूजा-पाठ के कार्य करना अत्यंत लाभदायक माना जाता है। कहा जाता है कि सावन मास में पड़ने वाली शिवरात्रि बहुत अनुकूल है। इस शिवरात्रि को कामना पूर्ति शिवरात्रि माना गया है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार, सावन मास की शिवरात्रि पर भगवान शिव की पूजा करने से भक्तों की सभी इच्छाएं पूरी होती हैं। सावन शिवरात्रि पर भगवान शिव का जलाभिषेक करना भक्तों के लिए लाभकारी माना गया है। इस दिन भगवान शिव के साथ माता पार्वती की पूजा करना मंगलमय माना जाता है। जानें, सावन‌ 2021 में शिवरात्रि कब पड़ रही है।

sawan shivratri 2021 date in india, सावन शिवरात्रि कब है 2021, सावन शिवरात्रि 2021 में कब है, 

सावन शिवरात्रि 2021 : - 6 अगस्त 2021, शुक्रवार 

निशीथ काल: - 6 अगस्त 2021, रात 12:06 से रात 12:48 तक 

शिवरात्रि पारण मुहूर्त: - 7 अगस्त 2021, सुबह 05:46 से दोपहर 03:45 तक 

Sawan shivratri ka mahatva, सावन शिवरात्रि का महत्व

हर महीने की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि भगवान शिव को समर्पित है। इस दिन भगवान शिव की पूजा-आराधना करना भक्तों के लिए लाभकारी माना गया है। इस तिथि पर भोलेनाथ का जलाभिषेक करना लाभदायक है। जलाभिषेक करने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं तथा अपने भक्तों की सभी मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। जो कुंवारी कन्याएं इस दिन व्रत रखती हैं उन्हें योग्य वर की प्राप्ति होती है। 


 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर