July Vinayak Chaturthi 2022: विनायक चतुर्थी पर कर लें ये आसान उपाय, भगवान गणेश की कृपा से बनेंगे सारे काम

Ashadha Vinayak Chaturthi 2022: आषाढ़ शुक्ल विनायक चतुर्थी का व्रत 03 जुलाई को रखा जाएगा। इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने का विधान है। लेकिन इस दिन कुछ अचूक और आसान उपाय करने से आपके सारे बिगड़े काम सुधर जाएंगे।

Vinayak Chaturthi ​Upay
विनायक चतुर्थी 
मुख्य बातें
  • भगवान गणेश को चढ़ाएं हरा वस्त्र।
  • भगवान गणेश की पूजा में घी के दीपक का करें प्रयोग।
  • 03 जुलाई को है आषाढ़ शुक्ल विनायक चतुर्थी।

July Ashadha Shukla Vinayak Chaturthi 2022: हिंदू कैलेंडर के अनुसार हर माह के कृष्ण पक्ष को संकष्टी चतुर्थी और शुक्ल पक्ष को विनायक चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। दोनों ही चतुर्थी में भगवान गणेश की पूजा की जाती है और व्रत रखा जाता है। लेकिन आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली विनायक चतुर्थी का काफी महत्व होता है। इस बार जुलाई महीने में आषाढ़ विनायक चतुर्थी का व्रत रविवार, 03 जुलाई 2022 को रखा जाएगा। क्योंकि इस दिन भगवान गणेश की पूजा और व्रत के साथ ही कुछ उपाय करने से आपको सुख समृद्धि और सौभाग्य की प्राप्ति होती है। साथ ही सारे बिगड़े और रुके हुए कार्य भी संपन्न होने लगते हैं। विनायक चतुर्थी पर आसान और अचूक उपाय को करने से भगवान गणेश की कृपा भी प्राप्त होती है। जानते हैं इन उपायों के बारे में...

विनायक चतुर्थी तिथि और मुहूर्त

आषाढ़ चतुर्थी तिथि आरंभ- शनिवार 2 जुलाई 2022 दोपहर 03:16 मिनट से

आषाढ़ चतुर्थी तिथि समाप्ति- रविवार, 3 जुलाई शाम 05:06 तक

पूजा का शुभ मुहूर्त- 3 जुलाई सुबह 11:02 से 01:49  

विनायक चतुर्थी उपाय (Vinayak Chaturth ​Upay)

गणेशजी को सिंदूर लगाएं

विनायक चतुर्थी के दिन भगवान श्री गणेश की पूजा की जाती है और उन्हें चंदन और हल्दी का तिलक लगाया जाता है। लेकिन अगर आप विनायक चतुर्थी पर भगवान को सिंदूर का तिलक लगाते हैं तो इससे उनकी कृपा प्राप्त होती है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि भगवान को सिंदूर से तिलक करने के बाद अपने माथे पर सिंदूर का भी तिलक लगाएं। साथ ही तिलक लगाते समय 'सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम्। शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्॥' मंत्र का जाप करें।

Astro Tips: Swastik in Vastu Shastra: वास्तु शास्त्र के अनुसार इन जगहों पर लगाएं स्वास्तिक का निशान, चमक जाएगी किस्मत

पूजा में घी का करें प्रयोग

वैसे तो सभी पूजा-पाठ में दीपक जलाने का महत्व है। लेकिन भगवान गणेश की पूजा करते समय विनायक चतुर्थी पर आप घी का दीपक जलाएं। याद रखें इस दौरान सरसों, तिल या फिर किसी भी अन्य तेल के बजाय घी का प्रयोग करें।

गेंदे के फूल का उपाय

भगवान गणेश को गेंदे का फूल अतिप्रिय होता है और पूजा में उन्हें यही फूल अर्पित करनी चाहिए। विनायक चतुर्थी पर आप गेंदे के फूल की माला भगवान गणेश को पहनाएं और पूजा समाप्त होने के बाद इस माला को घर के मुख्य द्वार पर लग दें।

प्रेम संबंधी परेशानियां होंगी दूर

विनायक चतुर्थी के दिन अगर आप गणेशजी को हरा वस्त्र अर्पित करते हैं और पूजा में 5 लौंग और 5 इलायची चढ़ाते हैं तो इससे लव लाइफ की समस्या दूर होगी। साथ ही पति-पत्नी के रिश्ते में भी प्यार बढ़ेगा।

Astro Tips: Sawan Kanwar Yatra 2022: कब से शुरू हो रही है सावन कांवड़ यात्रा, जानिए इससे जुड़ी रोचक बातें

इस मंत्र का जरूर करें जाप

विनायक चतुर्थी पर ‘वक्रतुण्ड महाकाय, सुर्यकोटि समप्रभ:। निर्विघ्नम् कुरु मे देव, सर्वकार्येषु सर्वदा।।’ इस मंत्र का जाप जरूर करें। इससे गणेशजी की कृपा से सभी बाधाएं दूर होंगी और रुके हुए कार्य शीघ्र ही संपन्न होंगे।

(डिस्क्लेमर: यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्‍स नाउ नवभारत इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर