Hanuman Jayanti 2022 Date, Puja Timings: आज है हनुमान जयंती, जानें इस दिन का महत्व और पूजा के लिए सही समय 

Hanuman Jayanti 2022 Date, Time, Puja Muhurat: आज हनुमान जयंती धूमधाम से मनाई जा रही है, यह हर वर्ष चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है। यहां जानें हनुमान जयंती पर पूजा का मुहूर्त कब बन रहा है और इस दिन का महत्व क्या है।

Hanuman Jayanti 2022 Date, Hanuman Jayanti Puja Muhurat And Mahatva
Hanuman Jayanti 2022 (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • चैत्र पूर्णिमा पर मनाई जाती है हनुमान जयंती।
  • इस वर्ष 16 अप्रैल के दिन पड़ रही है हनुमान जयंती।
  • विधि अनुसार करनी चाहिए भगवान हनुमान की पूजा।

Hanuman Jayanti 2022 Date, Time, Puja Muhurat: आज हनुमान जयंती है। हिंदू पंचांग के अनुसार, हर वर्ष चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की उदया तिथि पूर्णिमा पर हनुमान जी का जन्मोत्सव मनाया जाता है। इस दिन को पूरे भारत में हनुमान जयंती के नाम से जाना जाता है। चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि पर भगवान शिव के 11वें रुद्रावतार यानी संकटमोचन हनुमान का जन्म हुआ था। इस दिन पूरे विधि-विधान से भगवान हनुमान की उपासना की जाती है। मान्यताओं के अनुसार, हनुमान जी की पूजा-अर्चना करना भक्तों के लिए लाभदायक है। कहा जाता है जो भक्त हनुमान जयंती के दिन सच्चे मन से हनुमान जी की पूजा करता है उसके जीवन में सब कुछ मंगलमय हो जाता है। हनुमान जी की पूजा करने वाले भक्तों को कभी भी किसी भी चीज का भय नहीं रहता है। यहां जानें हनुमान पूजन के लिए मुहूर्त और हनुमान जयंती का महत्व।

Also Read: Hanuman Jayanti 2022 Date, Puja Muhurat: कब है संकटमोचन भगवान हनुमान की जयंती? नोट करें तिथि व शुभ मुहूर्त 

हनुमान जयंती की तिथि और पूजा मुहूर्त (Hanuman Jayanti 2022 Date And Puja Muhurat)

हनुमान जयंती की तिथि: 16 अप्रैल 2022, शनिवार 

पूर्णिमा तिथि प्रारंभ: 16 अप्रैल 2022 तड़के 02:25

पूर्णिमा तिथि समापन: 17 अप्रैल 2022 तड़के 12:24

हनुमान जी की पूजा के लिए शुभ मुहूर्त: सुबह 5:55 से सुबह 08:40 तक (इस दौरान रवि योग रहेगा)

Also Read: Hanuman Jayanti 2022: हनुमान जयंती पर चुटकी भर सिंदूर से कर लें ये अचूक उपाय, चमक जाएगी किस्मत

हनुमान जयंती का महत्व (Hanuman Jayanti Ka Mahatva)

हनुमान जयंती की धूम पूरे भारत में होती है। इस दिन हनुमान मंदिरों में भक्तों का भारी जमावड़ा लगता है। लोग विधि विधान से प्रभु श्री राम के परम भक्त हनुमान जी को प्रसन्न करने की कोशिश करते हैं। कहा जाता है हनुमान जयंती के दिन विधि अनुसार हनुमान जी की पूजा करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। हनुमान जयंती के दिन भगवान राम की पूजा-अर्चना करने से भी हनुमान जी प्रसन्न होते हैं। इसलिए लोग इस दिन भगवान राम की भी पूजा विधि अनुसार रहते हैं। हनुमान जयंती पर भगवान राम की पूजा किए बिना हनुमान जी की पूजा अधूरी मानी गई है। हनुमान जी की पूजा करने वाले भक्तों की सभी परेशानियां भी दूर हो जाती हैं। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर