Sawan 2020: गौरी नंदन भगवान गणपति को भी प्रिय है सावन, बुधवार के दिन जरूर करें ये 5 काम

Ganesh Amritwani, Ganapati Puja In Sawan: भगवान शिव-पार्वती के पुत्र गणपति जी को भी सावन मास बेहद प्रिय है। बुधवार के दिन गणपति की पूजा के साथ यदि 5 काम कर लिए जाएं तो हर कार्य में सफलता हासिल हो सकती है।

Lord Ganesha worshiped in the month of Sawan, सावन मास में गणपति जी की पूजा
Lord Ganesha worshiped in the month of Sawan, सावन मास में गणपति जी की पूजा 

मुख्य बातें

  • सावन में हर बुधवार को जरूर करनी चाहिए गणपति जी की पूजा
  • माता-पिता का प्रिय सावन मास गणपति जी को भी है बेहद खास
  • गणपति जी की आराधना करने से रुके कार्य पूरे हो जाते हैं

सावन मास में शिव जी के साथ शिव परिवार की पूजा करने का विधान है। यदि शिवजी की पूजा के साथ देवी पार्वती, पुत्र गणेश और कार्तिक की पूजा की जाए तो मनुष्य को विशेष पुण्यलाभ की प्राप्ति होती है। इसलिए सावन मास में सोमवार के अलावा मंगलवार को देवी पार्वती और बुधवार को गणपति जी की पूजा जरूर करना चाहिए। सावन मास में देवी पार्वती ने शिवजी को पाने के लिए कठोर तप किया था और प्रसन्न होकर शिवजी ने देवी पार्वती से विवाह किया था। यही कारण है कि गणपति जी को भी सावन मास विशेष प्रिय है। सावन के प्रत्‍येक बुधवार को गणपति जी की पूजा के साथ यदि पांच विशेष उपाय कर लिये जाएं तो मनुष्य पर शिव परिवार की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

ऐसे करें सावन मास में गणपति जी की पूजा

भगवान गणेश को सावन मास में बुधवार के दिन दूर्वा और लाल पुष्प चढ़ाएं। इसके बाद उनकी आरती करें और गणेश चालीसा का पाठ करें। इसके बाद भगवान को गुड़ और धनिया का भोग लगाएं। इसके अलावा बेसन के लड्डू को भी प्रसाद में चढ़ाएं। पूजा- अर्चना के बाद हरे रंग की चीजें दान में दें। जैसे हरी मूंग की दाल, हरे वस्त्र आदि। गाय को हरा चारा खिलाना भी बेहद पुण्यदायी होता है।

बुधवार के दिन जरूर करें ये पांच उपाय, मिलेगा सौभाग्य

  1. सावन मास में शिवजी की तरह मिट्टी से गणपति जी का भी निर्माण करें और उन्हें दूर्वा अर्पित करें। सावन मास में इन्हीं गणपति की पूजा करें।
  2. भगवान गणपति को सावन में गुड़- धनिया का भोग जरूर लगाएं और इस भोग को प्रसाद स्वरूप अधिक से अधिक बांटें। ऐसा करने से घर में धन की कभी कमी नहीं होती।
  3. गणपति जी को तांबे में मूंग रखकर चढ़ाएं और फिर इसे दान दे दें। ऐसा करने से घर में सुख-संपदा का वास होता है
  4.  यदि आप किसी कार्य से बाहर निकल रहे तो उसकी सफलता के लिए गणपति को को पहले सौंफ चढ़ाएं और प्रसाद स्वरूप इस सौंफ को खा कर ही घर से बाहर निकलें। इससे आपका कार्य जरूर सफल होगा।
  5. बुधवार के दिन गणपति पूजा में हमेशा हरे वस्त्र पहन कर ही पूजा करें। इस दिन हरी चीजों का सेवन करें और हरे वस्त्र ही धारण करें। इससे गणपति जी कि विशेष कृपा बनी रहेगी।

गणेश जी के इस मंत्र का जरूर करें जाप

ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं स: बुधाय नम: और ॐ नमो भगवते वासुदेवाय नम:' मंत्र का 108 बार जाप करें।

सावन मास में गणपति जी की ऐसे पूजा करने से आपके जीवन में आने वाली बाधाएं दूर होंगी और कार्य सफल होंगे।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर