Ram Mandir Height in feet: राम मंदिर की ऊंचाई होगी 161 फीट, भव्यता और दिव्यता से परिपूर्ण होगा मंदिर

आध्यात्म
श्वेता सिंह
श्वेता सिंह | सीनियर असिस्टेंट प्रोड्यूसर
Updated Aug 05, 2020 | 10:54 IST

Ayodhya Ram Mandir: अयोध्या में राम मंदिर का आज भूमि पूजन होगा। अयोध्या में बननेवाला राम मंदिर कई मायने में दिव्य और भव्य होगा।

 Ayodhya Ram Mandir
अयोध्या राम मंदिर। 

मुख्य बातें

  • 2023 के अंत तक भव्य राम मंदिर बनकर होगा तैयार
  • त्रेता युग को एक बार फिर से दर्शाने के लिए सभी भवन पीले रंग के होंगे
  • मंदिर का गर्भगृह देश का सबसे बड़ा गर्भगृह होगा

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन प्रधानमंत्री पांच अगस्त को करेंगे। इस कार्यक्रम को लेकर पूरे देश में खुशियों का माहौल है।  रामलला के भक्तों के लिए शुभ घड़ी आयी है। उनके भगवान के लिए आज भव्य मंदिर के निर्माण की पहली ईंट रखी जाएगी। अद्भुद होगा वो क्षण जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर निर्माण का संकल्प ले भव्य मंदिर निर्माण की नींव की पहली ईंट रखकर करोड़ों भक्तों को कृतार्थ करेंगे। वर्षों से अपने भगवान को मंदिर दिलाने के लिए इन भक्तों ने बड़ी तपस्या की। रामलला के इस पांच मंजिला भव्य मंदिर के बारे में विस्तार से यहां जानिए। 

सोमपुरा को मंदिर निर्माण की जिम्मेदारी  

गुजरात के अक्षरधाम की तरह पूरे भारत में प्रतिष्ठित मंदिरों के निर्माण के लिए प्रसिद्ध सोमपुरा को राम मंदिर के निर्माण की जिम्मेदारी सौंपी गई। चंद्रकांत सोमपुरा ने मूल रूप से मंदिर को दशकों पहले डिज़ाइन किया था, उनके बेटे आशीष ने मूल ब्लूप्रिंट में कुछ संशोधन किए हैं। 

161 फीट ऊंचा होगा भव्य राम मंदिर  

भव्य राम मंदिर की ऊँचाई पहले 141 फीट तय की गई थी, लेकिन नए लेआउट के अनुसार इसके शिखर को और ऊँचा किया जाएगा। 161 फीट ऊँचा होगा भव्य राम मंदिर का शिखर। वास्तुकला की नगर शैली में निर्मित, मंदिर में तीन मंजिलें हैं, और पहले के दो की तुलना में पांच गुंबद हैं, जो मूल लेआउट के आकार से लगभग दोगुना है। 

भूतल में सिंह द्वार होगा  

भव्य राम मंदिर को इस तरह से बनाया जा रहा है कि अयोध्या में रामलला के दर्शनाभिलाषी के लिए इसे देखना किसी आश्चर्य से कम न हो। राम मंदिर के भूतल में सिंहद्वार, गर्भगृह, नृत्यद्वार, रंगमंडप बनेगा

मंदिर में होंगे 360 खंभे  

मंदिर की भव्यता को और शोभनीय बनाने के लिए इसमें 360 खंभे लगाए जाएंगे। मंदिर परिसर 57 एकड़ क्षेत्र में फैला होगा। 

श्रीराम लिखे 2 लाख ईंटों से बनेगी नींव  

भव्य राम मंदिर की नींव में राम ही राम विराजमान होंगे। मंदिर की नींव में श्रीराम लिखे हुए 2 लाख ईंटों का इस्तेमाल किया जाएगा।  

चांदी की 22.6 किलो की ईंट  

2 लाख ईंटों के अलावा भव्य राम मंदिर में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22.6 किलोग्राम की एक चांदी की ईंट रखी जाएगी।  

भव्य और विशाल गर्भगृह  

रामलला के भव्य मंदिर की संरचना अकल्पनीय है। मंदिर का गर्भगृह एक विशाल संरचना होगी। 20 बाई 20 फीट के आयाम वाला होगा गर्भगृह।  

2023 में भव्य मंदिर बनकर होगा तैयार  

भगवान राम के भव्य मंदिर को देखने के लिए लालायित लोगों के लिए ये दृश्य तीन साल में देखने को मिलेगा।   अयोध्या में दिवाली से पहले ही दीपावली जैसी रौनक है। ऐसा लग रहा है कि भगवान राम 14 सालों के बाद एक बार फिर से अयोध्या में अपने श्री चरणों से प्रवेश कर रहे हैं।  
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर