Pune Fraud News: पुणे में निवेश के नाम पर कारोबारियों से एक करोड़ की ठगी, चार के खिलाफ मामला दर्ज

Pune Fraud: पुणे में शेयर मार्केट में निवेश का झांसा देकर दो करोबारियों के साथ एक करोड़ से ज्‍यादा की ठगी की गई है। आरोपियों ने पहले दोस्‍ती कर रिश्‍ता बढ़ाया और फिर निवेश पर अच्‍छे रिटर्न का वादा कर दोनों करोबारियों से करीब 1.2 करोड़ रुपये ठग लिए। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Pune Fraud
कारोबारियों के साथ कारोड़ों रुपये की ठगी   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • आरोपियों ने दोस्‍ती कर दिया निवेश पर अच्‍छे रिटर्न का झांसा
  • पीड़ितों का भरोसा जीतने के लिए किया था लिखित समझौता
  • कई लोगों के साथ करोड़ों की ठगी कर सभी आरोपी दुबई भागे

Pune Fraud: कंपनी में निवेश करने पर ज्यादा रिटर्न्स का झांसा देकर दो कारोबारियों से एक करोड़ से भी ज्यादा राशि की ठगी किए जाने का मामला सामने आया है। पिंपरी-चिंचवड से सटे तलेगांव दाभाड़े में ठगी के इस मामले में कारोबारी जितेंद्र शिंदे की तरफ से तलेगांव दाभाडे़ पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया गया है। पुलिस ने पीड़ित कारोबारी द्वारा दी गई शिकायत के आधार पर जेबीसी कंपनी के निदेशक राहुल जाखड़ व इनकी पत्‍नी, रामहरी मुंडे और इनके ऑफिस की प्रमुख अज्ञात महिला के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 406, 420, 34 और महाराष्ट्र निवेशकों (वित्तीय संस्था) हितसंबंधों का संरक्षण अधिनियम 1999 की धारा 4, 5 के तहत मामला दर्ज किया है।

पीड़ित कारोबारी ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया कि जेबीसी कंपनी के निदेशक राहुल जाखड़ और रामहरी मुंडे से उसकी एक दोस्‍त की मदद से परिचय हुआ था। जिसके बाद हमारी अच्‍छी बनने लगी थी। पीड़ित ने बताया कि इन दोनों ने आश्वासन दिया कि अगर वे उनकी मदद से शेयर बाजार में पैसा लगाते हैं तो उन्‍हें अच्छा रिटर्न मिलेगा। आरोपियों ने झांसे में लेने के लिए पीड़ित के साथ एक लिखित समझौता भी किया। इसके बाद एक बार में 59.50 लाख रुपये और दूसरी बार में 33.36 लाख रुपये ले लिए। आरोपियों ने ये पैसा कैश और चेक द्वारा लिया था।

तलेगांव दाभाड़े पुलिस कर रही मामले की जांच

पीड़ित ने अपनी शिकायत में बताया कि इसके कुछ दिनों बाद आरोपियों ने बाजार में तेजी की बात कर और ज्‍यादा निवेश करने को कहा, साथ ही बताया कि उसके द्वारा निवेश किए गए पैसे से कुछ ही दिन में उसे लाखों रुपये का फायदा हुआ है। पीड़ित ने बताया आरोपियों से फायदे की की बात सुनकर उसने अपने एक मित्र संदीप शिंदे से भी 10 लाख रुपये निवेश के नाम पर इन आरोपियों को दिलवा दिया। पीड़ित ने बताया कि इस निवेश के कुछ दिनों बाद ही इन आरोपी पुणे में कंपनी के सभी ऑफिसों को बंद करके भाग गए। पीड़ितों ने बताया कि बाद में पता चला कि इन आरोपियों ने इसी तरह लोगों से निवेश के नाम पर कई करोड़ रुपये ठगे हैं और इस समय दुबई में रह रहे हैं। पुलिस अब मामले की जांच में जुटी है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर