Pune Road Accident: पुणे में बड़ा सड़क हादसा, पूर्व विधायक की मौत, पुणे एक्सप्रेस-वे पर हुई दुर्घटना

Pune Expressway: पुणे एक्सप्रेसवे पर सुबह ही भीषण सड़क हादसा हो गया। हादसे में पूर्व विधायक विनायक मेटे की मौत हो गई जबकि दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हैं। किसी अज्ञात वाहन ने पूर्व विधायक की कार को टक्कर मार दी,जिससे कार के परखच्चे उड़ गए।

Pune Crime News
पुणे एक्सप्रेस-वे पर सड़क हादसा, पूर्व विधायक की मौत  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • हादसे में दो लोग गंभीर रूप से घायल
  • एक वाहन से हुई थी टक्कर, पूर्व विधायक के कार हुई बुरी तरह से क्षतिग्रस्त
  • मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर हुआ हादसा

Pune News: मुंबई-पुणे एक्सप्रेस-वे पर भीषण सड़क हादसा हो गया। इस दुर्घटना में पूर्व विधायक विनायक मेटे की मौत हो गई। हादसे में पूर्व विधायक की कार के परखच्चे उड़ गए।जानकारी के लिए बता दें कि, विनायक मेटे शिव संग्राम पार्टी के नेता थे। पूर्व विधायक अभी 52 साल के थे। पूर्व विधायक मेटे महाराष्ट्र विधान परिषद के सदस्य भी रह चुके थे। विनायक मेटे मराठा लोगों को आरक्षण दिए जाने के बड़े पक्षधर थे। पुलिस के अनुसार सड़क हादसा आज (रविवार को) सुबह करीब 5 बजकर 15 मिनट पर हुआ।

ज्ञात हो कि पुलिस अधिकारी ने बताया है कि, ये हादसा रसायनी थाना इलाके में मडप टनल के पास हुआ। पूर्व विधायक विनायक मेटे अपने ड्राइवर और एक अन्य व्यक्ति के साथ गाड़ी में सवार थे। ये तीनों पुणे से मुंबई जाने वाले रास्ते पर सफर कर रहे थे। गाड़ी में सवार घायल दो अन्य लोगों की भी हालत गंभीर बताई जा रही है।

ऐसे हुआ हादसा

मिली जानकारी के मुताबिक, मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर मडप टनल के पास एक वाहन ने विनायक मेटे की कार को जोरदार टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी की कार के परखच्चे उड़ गए। जिसकी वजह से कार में सवार ड्राइवर समेत तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद आननफानन में घायलों को नवी मुंबई के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया। इस दौरान विनायक मेटे को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया गया।

मराठा आरक्षण के प्रबल समर्थक थे विनायक मेटे

जानकारी के लिए बता दें कि पूर्व विधायक विनायक मेटे बीड जिले के रहने वाले थे। वह मराठा आरक्षण के प्रबल समर्थक थे। वह एक बैठक में शामिल होने के लिए पुणे से मुंबई जा रहे थे। महाराष्ट्र के मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने बताया है कि, विनायक मेटे का निधन हैरान कर देने वाला है। वह वास्तव में मराठा आरक्षण के मुद्दे को सही आवाज दे रहे थे। यह हमारे और मराठा समुदाय के लिए बहुत बड़ी क्षति हुई है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर