Pune Crime News: पुणे में शर्मनाक वारदात, 10 साल के बच्चे को ऑटो में बैठाया और फिर कर दी ऐसी घिनौनी करतूत

Pune Crime News: महाराष्ट्र के पुणे से एक शर्मनाक मामला सामने आया है, जहां एक 25 वर्षीय युवक और 17 साल के नाबालिग ने एक 10 साल के बच्चे के साथ घिनौनी करतूत की। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

Pune police
10 साल के बच्चे को ऑटो में बैठाया और फिर कर दी ऐसी घिनौनी करतूत  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • पुणे से सामने आई शर्मनाक हरकत
  • 10 साल के बच्चे के साथ गंदा काम
  • पुलिस ने एक को गिरफ्तार किया

Pune Crime News: महाराष्ट्र के पुणे शहर से एक शर्मनाक मामला सामने आया है, जहां एक 25 वर्षीय युवक ने 17 साल के नाबालिग संग मिलकर एक 10 साल के बच्चे साथ घिनौनी हरकत की। इस वारदात को अंजाम एक ऑटो रिक्शा के अंदर दिया गया। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़ित बच्चे की मां की शिकायत के आधार पुलिस ने एक्शन लिया है। आरोपियों के खिलाफ पोक्सो एक्ट भी लगाया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, यह मामला पुणे के पिंपड़ी के मोरवाड़ी का है। घटना से पहले बुधवार शाम पीड़ित बच्चा अपने दोस्त के साथ एक पब्लिक टॉयलेट के पास खेल रहा था। उस समय आरोपी एक पास खड़े ऑटो रिक्शा में बैठे हुए थे। जिसके बाद आरोपियों ने पीड़ित बच्चे को अपने पास ऑटो में बुलाया। जिसके बाद आरोपियों ने बच्चे को ऑटो में पकड़कर खींच लिया और उसके साथ घिनौनी हरकत को अंजाम दिया। इस दौरान बच्चा खूब चिल्लाया और छोड़ने के लिए कहा लेकिन आरोपियों ने एक न सुनी। 

पीड़ित की मां ने शिकायत दर्ज कराई

गंदी हरकत के बाद जब बच्चा अपने घर पहुंचा तो उसकी हालत देखकर मां ने कारण पूछा। तब बच्चे ने अपना सारा दर्द घरवालों को बताया, जिसे सुनकर उनके भी होश उड़ गए। आनन-फानन में बच्चे की मां पुलिस थाने पहुंची और आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कराया। पुलिस ने पीड़ित की मां की तहरीर के आधार पर दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करते हुए कार्रवाई शुरू की। जिसके बाद पुलिस ने 25 वर्षीय एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। वहीं दूसरा आरोपी नाबालिग है, जिसकी गिरफ्तारी की कोई खबर नहीं है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 377 और पोस्को एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। वहीं सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के आधार पर पीड़ित के नाबालिग होने की वजह से उसकी पहचान भी छुपा ली गई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर