Pune Crime News: 7 साल के मासूम के साथ टीचर की बर्बरता, केस दर्ज

Pune Crime News: एक स्कूल के संगीत टीचर ने सात साल के नाबालिग को बुरी तरह से पीटा है। जिसके मासूम के माता-पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। टीचर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा) और किशोर न्याय अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Pune Crime News
संगीत की टीचर ने की स्टूडेंट की बेरहनी से की पिटाई  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • एक स्कूल के टीचर की बर्बरता आई सामने
  • संगीत टीचर ने सात साल के नाबालिग को बुरी तरह से पीटा
  • स्कूल में छात्र के लिए अनिवार्य हैं संगीत की कक्षाएं

Pune Crime News: लोहेगांव के एक स्कूल टीचर की बर्बरता सामने आई है, जिसने अपने सात साल के स्टूडेंट की बेरहमी से पिटाई की है। घटना का पता चलने के बाद मासूम के पिता ने आरोपी टीचर के खिलाफ विमंतल पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। टीचर के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाने की सजा) और किशोर न्याय अधिनियम के अनुसार मामला दर्ज किया।

पुलिस ने बताया है कि, आरोपी स्कूल में संगीत टीचर है। पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार छात्र तीसरी कक्षा में पढ़ता है। बच्चे के स्कूल का समय सुबह 8:45 बजे से दोपहर 2:45 बजे तक है। स्कूल में छात्र के लिए संगीत की कक्षाएं अनिवार्य हैं। 

दीवार में धक्का दिया और कई थप्पड़ मारे

पुलिस के मुताबिक 15 सितंबर को बच्चा रोता हुआ घर लौटा और इससे उसके माता-पिता चिंतित हो गए। उसने खुलासा किया कि जब वह एक सहपाठी के साथ झगड़ा कर रहा था, उनके संगीत शिक्षक ने उसे दीवार में धक्का दिया, उसके सिर पर मारा, और उसे कई बार थप्पड़ मारा, जिससे उसको चोट आ गई और सिर में दर्द होने लगा। नाबालिग ने बताया है कि, इसके बाद शिक्षक ने बच्चे को धमकाया और उसे इस बारे में किसी को न बताने की चेतावनी दी। इसके बाद चिंतित माता-पिता बच्चे को इलाज के लिए अपने परिवार के डॉक्टर के पास ले गए।

स्कूल प्रशासन अभिभावकों को धमकाने लगा

अगले दिन, जब माता-पिता स्कूल पहुंचे और स्पष्टीकरण की मांग की, तो अधिकारियों ने कहा कि, टीचर दो दिनों के लिए छुट्टी पर था और उन्होंने उसका नाम बताने से इंकार कर दिया। उल्टा उन्होंने अभिभावकों को यह कहकर धमकी दी कि स्कूल पुलिस में शिकायत दर्ज कराएगा कि नाबालिग ने स्कूल के मैदान में हंगामा किया। इसके बाद लाचार माता-पिता थाने पहुंचे। मामले पर वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भरत जाधव ने कहा कि, मामले की जांच जारी है और वे जल्द ही मामले की सच्चाई का पता लगाएंगे और दोषी के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। पुलिस ने अभिभावकों और स्कूल प्रशासन के बयानों को दर्ज कर लिया है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर