Pune City Crime News: पुलिस के हत्थे चढ़ा मोस्ट वांटेड ' चोर राजा ',100 से अधिक आपराधिक मामले हैं दर्ज

Pune Crime News: पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ में 100 से अधिक आपराधिक मामलों में वांछित एक कुख्यात अपराधी राजेश राम पापुल उर्फ 'चोर राजा' को पुणे शहर पुलिस की क्राइम ब्रांच यूनिट 2 ने उसके घर से गिरफ्तार किया था। कटराज निवासी 37 वर्षीय को 12 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

Pune Crime News
100 से भी ज्यादा अपराध करने वाले वांटेड चोर गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • 100 से अधिक आपराधिक मामलों में वांछित एक कुख्यात अपराधी को पुलिस किया गिरफ्तार
  • पुणे शहर पुलिस की क्राइम ब्रांच यूनिट 2 ने उसके घर से किया था गिरफ्तार
  • आरोपी को घरों में घुसने और लूटने की कला में हासिल थी महारत

Pune Crime News: पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ में 100 से अधिक आपराधिक मामलों में वांछित एक कुख्यात अपराधी राजेश राम पापुल उर्फ 'चोर राजा' को पुणे शहर पुलिस की क्राइम ब्रांच यूनिट 2 ने उसके घर से गिरफ्तार किया था। कटराज निवासी 37 वर्षीय को 12 सितंबर तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। पुलिस उपायुक्त (अपराध) रामनाथ पोकले द्वारा संचालित एक टीम ने चार से पांच महीने तक चोर राजा का पीछा करने के बाद उसे पकड़ा है। पुलिस उपायुक्त रामनाथ पोकले के अनुसार, राजा को बड़ी हाउसिंग सोसायटियों में घरों में घुसने और लूटने की कला में महारत हासिल थी और इसलिए अन्य चोर उसे 'राजा' के रूप में जानते थे।

रामनाथ पोकले ने बताया है कि राजा को ट्रैक करना बहुत मुश्किल था क्योंकि वह मोबाइल फोन या गैजेट्स का इस्तेमाल नहीं करता था। राजा ने सात साल की उम्र में लूटना शुरू कर दिया था। वह जानता था कि कैसे पुलिस एक अपराधी को ट्रैक करती है और उसने कभी मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं किया। इसलिए, उसे गिरफ्तार करने में समय लगा।

इस तरह पुलिस ने किया चोर राजा को गिरफ्तार

क्राइम ब्रांच यूनिट 2 के एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि, राजा की मंगेतर के जूते में जीपीएस मशीन लगाने के बाद ही वे उसे पकड़ने में सफल हो पाए। कोविड -19 लॉकडाउन के दौरान, राजा के लिए घर की चोरी को अंजाम देना मुश्किल था क्योंकि अधिकांश लोग घर से काम कर रहे थे लेकिन जैसे ही सरकार ने प्रतिबंध हटा लिया, उसने घर में फिर से चोरी शुरू कर दी। क्राइम ब्रांच यूनिट 2 के अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने राजा को ट्रैक करने के लिए 'चोर राजा' नाम से एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया, जहां राजा से संबंधित सभी अपडेट उनके द्वारा पोस्ट किए गए थे। पुलिस कांस्टेबल गजानन सोनुने को सूचना मिली कि राजा अपने घर आ रहा है, इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उसके लिए जाल बिछाया और अंत में उसे गिरफ्तार कर लिया।

चोर राजा के खिलाफ इन थानों में दर्ज हैं मामले 

राजा की गिरफ्तारी के साथ, अपराध शाखा ने पिछले दो वर्षों में शहर के अलग-अलग हिस्सों में 14 घर तोड़ने के मामलों को सुलझाने का दावा किया है। राजा के खिलाफ डेक्कन, बुंद गार्डन, भारती विद्यापीठ, दत्तावाड़ी, कोंढवा, वनोरी, सहकार नगर, विश्रामबाग, वारजे मालवाड़ी पुलिस स्टेशन में एक-एक और सिंहगढ़ और हडपसर पुलिस स्टेशन सहित अन्य पुलिस स्टेशनों में चोरी के मामले दर्ज हैं। शहर के पुलिस आयुक्त अमिताभ गुप्ता ने कहा कि राजा का चोरी का इतिहास रहा है और वह पुणे और पिंपरी-चिंचवड़ इलाके में ऐसे 100 से अधिक मामलों में शामिल था।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर