Pune Crime News: महाराष्ट्र में किसान ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की ये अपील

Pune Crime News: पुणे में एक किसान की आत्महत्या ने हर किसी को हिलाकर रख दिया है। बारिश से प्याज खराब होने के बाद उसने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के साथ किसान ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा, जिसमें उसने पीएम नरेंद्र मोदी से प्याज और अन्य फसलों के लिए एमएसपी सुनिश्चित करने की अपील की है।

Pune Crime News
प्याज की फसल में नुकसान होने पर किसान ने की आत्महत्या  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • किसान ने प्याज के लिए एमएसपी नहीं मिलने पर खुदकुशी कर ली
  • खुदकुशी के साथ एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि प्याज और अन्य फसलों के लिए एमएसपी सुनिश्चित करें

Pune Crime News: बीते कुछ दिनों के अंदर महाराष्ट्र में कई किसानों ने आत्महत्या की है। अब पुणे जिले के 42 वर्षीय एक किसान ने कथित तौर पर प्याज के लिए एमएसपी नहीं मिलने पर खुदकुशी कर ली है। उसने खुदकुशी के साथ एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है, जिसमें उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं और आग्रह किया कि वह प्याज सहित अन्य फसलों के लिए एमएसपी सुनिश्चित करें।

पुलिस ने यह भी बताया है कि मृतक किसान ने सुसाइड नोट में सहकारी समिति से जुड़े लोगों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली अभद्र भाषा और उधारदाताओं की धमकी का भी जिक्र किया है। मृतक की पहचान जुन्नार तहसील के वडगांव आनंद गांव में रहने वाले किसान दशरथ केदारी के रूप में हुई है, जिसने शनिवार को तालाब में डूबने से पहले कीटनाशक दवा खा ली थी। मामले पर आले फाटा थाना के पुलिस निरीक्षक प्रमोद क्षीरसागर ने कहा है कि केदारी ने प्याज की खेती की थी, जिसका उसे उचित मूल्य नहीं मिला था। 

बारिश से प्याज खराब हो गया

अधिकारी ने कहा है कि फसल का संतोषजनक मूल्य नहीं मिलने के कारण केदारी ने 1.5 लाख से 2 लाख रुपये की कृषि उपज का भंडारण किया था। केदारी को उम्मीद थी कि उसे बेहतर कीमत मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। बारिश से प्याज खराब हो गया है। केदारी को सोयाबीन और टमाटर की फसल में भी नुकसान हुआ था। उसने एक सहकारी समिति से पैसा भी उधार लिया था। केदारी ने अपने सुसाइड नोट में पीएम मोदी से प्याज जैसी कृषि उपज के लिए एमएसपी देने अपील की है और उल्लेख किया है कि खेती जुआ बन गई है। पुलिस ने बताया है केदारी ने अपने सुसाइड नोट में मराठी भाषा में लिखा, 'आपकी निष्क्रियता के कारण आज मैं आत्महत्या करने को मजबूर हूं. कृपया उचित गारंटीकृत बाजार मूल्य दें।' 

प्याज और टमाटर की फसल से भी हुआ किसान को नुकसान

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुसाइड नोट पर हस्ताक्षर करने के बाद, केदारी ने नोट के निचले भाग पर पीएम मोदी को उनके जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। नोट में यह भी कहा गया है कि कोविड-19 और भारी बारिश के कारण भी उसको प्याज और टमाटर की फसल की अच्छी कीमत नहीं मिल सकी। किसान ने नोट में यह भी कहा है कि वह अपने जीवन से तंग आ चुका है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर