Pune Crime News: बच्चे खेलते थे मोबाइल में गेम और फिर हो गई हैकर से दोस्ती, मां-बाप ने गवाएं 1.27 लाख रुपये

Pune Crime News: एक दंपत्ति से 1.27 लाख रुपये की ऑनलाइन ठगी की गई है। संदिग्धों ने उनके दो बच्चों से दोस्ती की, जब वे चुपके से मोबाइल फोन पर ऑनलाइन गेम खेलते थे। इस दौरान ठगों ने बैंक खाते की डिटेल मांगी और पैसे चुरा लिए।

Pune crime news
पुणे में हैकर ने बच्चे से दोस्ती कर दंपत्ति को लूटा लिया  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • एक दंपत्ति से 1.27 लाख रुपये की ऑनलाइन ठगी
  • संदिग्धों ने उनके दो बच्चों से की थी दोस्ती
  • बच्चों से बैंक खाते की डिटेल मांगी और पैसे चुरा लिए

Pune Crime News: एक दंपत्ति से 1.27 लाख रुपये की ऑनलाइन ठगी की गई है। संदिग्धों ने उनके दो बच्चों से दोस्ती की, जब वे चुपके से मोबाइल फोन पर ऑनलाइन गेम खेलते थे। इस दौरान आरोपियों ने बच्चों से वादा किया था कि, उन्हें गेम खेलने के लिए डायमंड मेंबरशिप मिलेगी। उन्होंने बैंक खाते की डिटेल मांगी और पैसे चुरा लिए। इस मामले में पहले साइबर थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी, जिसे बाद में वारजे थाने में ट्रांसफर कर दिया गया।

पुलिस के मुताबिक शीतल कदम ने ऑनलाइन फ्रॉड को लेकर शिकायत दर्ज कराई है। घटना 1 दिसंबर 2021 से 2 अगस्त 2022 के बीच की है। शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि, उसकी तबीयत ठीक नहीं थी और वह अपने घर पर सो रही थी। उसके 12 और 10 साल के दो बच्चे मोबाइल गेम खेल रहे थे। 

बच्चों से ऑनलाइन गेम के जरिए चैटिंग की

शिकायतकर्ता के अनुसार, उसके स्मार्टफोन में उसके पति के बैंक खाते से जुड़ा ऐप था। अज्ञात व्यक्ति ने मोबाइल पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी। बच्चों ने इसे स्वीकार कर लिया और ऑनलाइन गेम के जरिए चैटिंग करने लगे। आरोपियों ने मोबाइल नंबर मांगा, जिसे बच्चों ने दे दिया। वे लगातार बच्चों को मोबाइल फोन पर बुलाते थे और ऐप के जरिए पैसे ट्रांसफर करने के लिए उनसे छेड़छाड़ करते थे। बच्चों ने दो बार पैसे ट्रांसफर किए जबकि तीसरे मौके पर बैंक अकाउंट का पासवर्ड शेयर किया। इसके बाद संदिग्धों ने ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर किए।

आरोपी बच्चों को लगातार फोन करता था

महिला ने अपनी एफआईआर में कहा है कि, बच्चें गेम खेल रहे थे और उन्होंने संदिग्धों से दोस्ती की, जिन्होंने उन्हें डायमंड मेंबरशिप ऑफर की थी। हालांकि, दोनों बच्चों ने उनके इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया। उन्होंने आरोपियों से कहा कि, मेंबरशिप लेने पर उनके माता-पिता गुस्सा होंगे। तभी एक आरोपी ने लगातार बच्चों को फोन किया और पैसे मांगने लगा। बच्चों ने ऐप के जरिए 2,000 रुपये भेजे। तब अज्ञात लोगों ने बच्चों का विश्वास जीत लिया और जीमेल अकाउंट आईडी और पासवर्ड ले लिया, जिसे उन्होंने आरोपियों के साथ शेयर कर दिया। फिर उन्होंने ओटीपी लिया। बाद में बच्चों ने आरोपियों को 1,600 रुपये भेजे। मोबाइल फोन हैक करने के बाद उन्होंने कई बार पैसे ट्रांसफर किए। शिकायतकर्ता के पति ने बैंक स्टेटमेंट चेक किया और यह जानकर हैरान रह गया कि हैकर के खाते में बड़ी रकम ट्रांसफर हो गई है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर