Pune Colleges Verification: जरूरी खबर: पुणे के 54 जूनियर कॉलेजों को शिक्षा विभाग का नोटिस, जानिए कारण

Pune Colleges Verification: शिक्षा विभाग ने पुणे के 54 जूनियर कॉलेजों को नोटिस भेजा है। यह नोटिस 11वीं के एडमिशन शुरू होने से पहले वेरिफिकेशन प्रक्रिया को पूरा नहीं करने को लेकर भेजा गया है।

Pune Education Department
पुणे के 54 जूनियर कॉलेजों को शिक्षा विभाग का नोटिस  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • पुणे में 54 जूनियर कॉलेजों को नोटिस
  • शिक्षा विभाग की ओर भेजा गया नोटिस
  • कई बड़े कॉलेजों को भी मिला नोटिस

Pune Colleges Verification: पुणे में 11वीं क्लास में एडमिशन लेने की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए जरूरी खबर है। दरअसल, शिक्षा विभाग की ओर से पुणे के 54 जूनियर कॉलेजों को नोटिस भेजा गया है। यह नोटिस पुणे शहर और पिंपरी-चिंचावड़ के जूनियर कॉलेजों को भेजा गया है। नोटिस भेजने की वजह 11वीं क्लास की ऑनलाइन प्रवेश प्रक्रिया के लिए समय से सत्यापन प्रक्रिया पूरी नहीं करना है। जबकि सभी जूनियर कॉलेजों को शिक्षा विभाग की ओर कहा गया था कि, वे समय से वेरिफिकेशन प्रक्रिया पूरी करा लें। सभी कॉलेजों को कई बार इस बारे में रिमांडर भी दिया लेकिन किसी भी कॉलेज ने कुछ एक्शन नहीं लिया।

मिली जानकारी के अनुसार, पुणे और पिंपरी-चिंचावड़ डिविजन के 54 जूनियर कॉलेजों को पुणे डिप्टी डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन की ओर यह नोटिस भेजा गया है। सबसे बड़ी बात है कि, जब तक इन सभी कॉलेजों को लेकर अगला आदेश नहीं आता है, तब तक वे एडमिशन की ऑनलाइन या ऑफलाइन प्रक्रिया शुरू नहीं कर सकते हैं। जिन कॉलेजों को नोटिस भेजा गया है, उनमें कई बड़े नाम जैसे एमआईटी जूनियर कॉलेज, सरदार दस्तूर कॉलेज, कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल एंड जूनियर कॉलेज भी शामिल हैं। इन कॉलेजों में एडमिशन के लिए पहले ही छात्र तैयारी कर रहे हैं। 

शिक्षा विभाग सख्त, ऑनलाइन ही नहीं, ऑफलाइन भी एडमिशन प्रक्रिया शुरू नहीं कर पाएंगे ये कॉलेज

अगर इन 54 कॉलेजों ने वेरिफिकेशन समय से नहीं कराया तो शिक्षा विभाग की ओर सख्त कार्रवाई की जाएगी, जिसका असर काफी संख्या में उन छात्रों पर पड़ेगा जो दाखिला लेने की तैयारी में हैं। पुणे डिप्टी डायरेक्टर ऑफ एजुकेशन ने इस संबंध में सख्ती से कहा कि अगर इन सभी कॉलेजों में इस साल एडमिशन नहीं हो पाएं तो इसकी जिम्मेदारी शिक्षा विभाग अपने सिर नहीं लेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि, इन कॉलेजों को सिर्फ ऑनलाइन ही नहीं, ऑफलाइन एडमिशन प्रक्रिया के लिए भी रोक दिया जाएगा। बता दें कि, शिक्षा विभाग के इस कदम से हड़कंप मच गया है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर