Dr Kafeel Khan News:डॉ कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट से राहत, एंटी सीएए स्पीच केस में मिली सशर्त जमानत

kafeel khan gets bail: करीब 9 महीने जेल में रहने के बाद डॉ कफील खान को राहत मिल गई है। एंटी सीएए स्पीच केस में सशर्त जमानत इलाहाबाद हाईकोर्ट से मिली है।

Dr Kafeel Khan News:डॉ कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट से राहत, भड़काऊ स्पीच केस में मिली सशर्त जमानत
डॉक्टर कफील खान पिछले 9 महीने से जेल में बंद 

मुख्य बातें

  • डॉ कफील खान को इलाहाबाद हाईकोर्ट से सशर्त राहत
  • एंटी सीएए स्पीच केस में इस वर्ष जनवरी में मुंबई से हुई थी गिरफ्तारी
  • अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में सीएए पर भड़काऊ भाषण देने में केस था दर्ज

प्रयागराज। डॉक्टर कफील खान का नाम आते ही बीआरडी मेडिकल कॉलेज की उस घटना की याद आती है जिसकी वजह से वो चर्चा में आए। लेकिन सुर्खियों में बने रहने का सिलसिला जारी रहा। दरअसल कफील खान पर आरोप लगा कि दिसंबर 2019 में सीएए के विरोध में उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में तकरीर की जो भड़काने वाली थी। उसके बाद उन्हें मुंबई से इसी साल जनवरी में गिरफ्तार किया गया और एनएसए लगाया गया। लेकिन इस पर जबरदस्त तरह से राजनीति हुई। कफील खान को इलाहाबाद से सशर्त राहत मिली है। अदालत ने उन्हें जमानत देने का फैसला सुनाया है। 


सीएए के विरोध में भड़काऊ स्पीच का आरोप
उस केस में अदालत से रिहा होने के बाद वो यूपी सरकार पर संगीन आरोप लगाते रहे। जब 2019 में नागरिकता संशोधन कानून अस्तित्व में आया तो देशभर में उसके खिलाफ आंदोलन और धरना प्रदर्शन शुरू हो गए। कफील पर आरोप लगा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में इस कानून के खिलाफ जिस भाषा और शब्दावली का इस्तेमाल किया वो देशद्रोह की कैटिगरी में आता है। इसी आधार पर उनकी गिरफ्तारी मुंबई से की गई हालांकि डॉ कफील कहते रहे कि उन्हें सिर्फ और सिर्फ राजनीतिक रंजिश की वजह से बलि का बकरा बनाया जा रहा है। 


कफील खान पर बीआरडी कॉलेज प्रकरण में आया था नाम
कफील खान वो शख्स जिनके ऊपर तरह के तरह आरोप लगते रहे हैं। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में जब ऑक्सीजन की कमी से नवजा बच्चों की मौत हुई उस वक्त इनके ऊपर संगीन आरोप लगा। यह कहा गया ऑक्सीजन के जिन सिलेंडरों को अस्पताल में होना चाहिए था, उसका व्यक्तिगत इस्तेमाल कफील खान अपने नर्सिंग होम के लिए कर रहे थे। उस केस में भी उनकी गिरफ्तारी हुई थी। 

Prayagraj News in Hindi (प्रयागराज समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर