Noida Development Authority: सेक्टर-32/25 की अब बदलेगी सूरत, जल्द बनेंगे होटल, मॉल और रेस्तरां

Noida Development Authority: नोएडा प्राधिकरण ने होटल, मॉल और रेस्तरां बनाने का फैसला किया है। यह सभी वेव ग्रुप की तरफ से प्राधिकरण की वापस की गई 4.5 लाख वर्गमीटर जमीन पर बनेगा। नोएडा के सेक्टर 32/25 की जल्द सूरत बदलने वाली है।

Noida News
नोएडा के सेक्टर 32/25 में बनेगा मॉल और रेस्तरां (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: फेसबुक
मुख्य बातें
  • नोएडा के सेक्टर 32/25 की जल्द सूरत बदलने वाली है
  • नोएडा प्राधिकरण ने होटल, मॉल और रेस्तरां बनाने का फैसला किया
  • नियोजन विभाग पूरी तैयारी में जुट गया है

Noida Development Authority: नोएडा के सेक्टर 32/25 की जल्द सूरत बदलने वाली है। यहां पर जल्द शानदार होटल, मॉल और रेस्तरां की बिलडिंग्स देखने को मिलेंगी। इस क्षेत्र में नोएडा प्राधिकरण ने होटल, मॉल और रेस्तरां बनाने का फैसला किया है। यह सभी एक ग्रुप की तरफ से प्राधिकरण की वापस की गई 4.5 लाख वर्गमीटर जमीन पर बनेगा। नोएडा प्राधिकरण इस जगह पर छोटे-छोटे प्लॉट काटकर वाणिज्यिक स्कीम लागू करेगा। 

इस बात की जानकारी प्राधिकरण के अधिकराकियों ने दी है। नोएडा के सेक्टर 32/25 पर होटल, मॉल और रेस्तरां बनाने के लिए प्राधिकरण का नियोजन विभाग पूरी तैयारी में जुट गया है। प्लॉट काटने का काम पूरा होते ही वाणिज्यिक स्कीम के जरिए इस जगह पर विकास किया जाएगा।

जमीन को एक ग्रुप ने प्राधिकरण को वापस लौटाया

दरअसल साल 2011 में नोएडा प्राधिकरण ने यह जमीन एक ग्रुप को लीज होल्ड के आधार पर 6.18 लाख वर्गमीटर जमीन आवंटित की थी। उस वक्त इस पूरी जमीन की कीमत करीब 1.07 लाख रुपये प्रति वर्गमीटर थी। इस दौरान रुपये भुगतान करने की अवधि पहले दो साल तक 16 अर्द्ध वार्षिक किस्तों में थी, लेकिन साल 2016 में नोएडा प्राधिकरण प्रोजेक्ट सेटलमेंट पॉलिसी लेकर आ गया। जिसके बाद 4.5 लाख वर्गमीटर जमीन को ग्रुप ने प्राधिकरण को वापस लौटा दिया था। 

नोएडा प्राधिकरण ने वाणिज्यिक स्कीम लागू करेगा

इसके बाद से सेक्टर 32/25 में 4.5 लाख वर्गमीटर जमीन खाली पड़ी हुई है। इस बात को ध्यान में रखते हुए नोएडा प्राधिकरण ने वाणिज्यिक स्कीम लागू कर इसका विकास करने का फैसला किया है। प्राधिकरण अब इसको बड़े प्लॉट के तौर पर नहीं बेचेगा। जिसका संचालन नियोजन विभाग करेगा। प्राधिकरण के अधिकारियों के अनुसार, 4.5 लाख वर्गमीटर जमीन में अब 10 से 12 हजार वर्गमीटर तक के प्लॉट काटे जाएंगे, जोकि प्लॉट होटल और मॉल के लिए इस्तेमाल करने के लायक होंगे। बाकि अन्य को छोटे प्लॉट के तौर पर बेचेगा। ऐसे में संभावना है कि 1 और 2 हजार के प्लॉट भी काटे जाएंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर