Noida Traffic System: नोएडा में जाम से राहत दिलाएगा बॉर्डर ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम, सर्वे का काम शुरू

Traffic Updates In Noida: दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर में अब जाम से राहत मिलेगी। इसके लिए ट्रैफिक विभाग ने बॉर्डर ट्रैफिक मैनेजमेंट योजना पर सर्वे का काम शुरू किया है। इससे बॉर्डर क्षेत्र में जाम की समस्या आसानी से दूर की जा सकेगी।

Noida traffic Jamm
नोएडा में अब जाम की समस्या से मिलेगा छुटकारा  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • नोएडा में अब जाम की समस्या से मिलेगा छुटकारा
  • ट्रैफिक विभाग ने बॉर्डर ट्रैफिक मैनेजमेंट योजना पर सर्वे का काम शुरू किया
  • बॉर्डर क्षेत्र में आसानी से दूर की जा सकेगी जाम की समस्या

Border Traffic Management System: दिल्ली और गाजियाबाद की सीमा पर अब जाम की समस्या से निजात मिलेगी। व्यस्त समय में सभी प्रमुख चौराहों में जाम लग जाता है। जिससे वाहन चालकों को काफी परेशानी होती है। लोगों को जाम की समस्या से बचाने के लिए गंभीरता से काम किया जा रहा है। गौतमबुद्धनगर जिले की सीमा पर जाम की समस्या को दूर करने के लिए ट्रैफिक विभाग ने बॉर्डर ट्रैफिक मैनेजमेंट योजना पर सर्वे का काम शुरू किया है। इससे बॉर्डर क्षेत्र में जाम की समस्या आसानी से दूर की जा सकेगी।

सेक्टर-14ए, चिल्ला बॉर्डर, कोंडली बॉर्डर, ओखला बैराज और सेक्टर-62 स्थित मॉडल टाउन और इलेक्ट्रॉनिक सिटी के पास जिले की सीमाएं गाजियाबाद और दिल्ली से लगती हैं। 

दिल्ली से आने वाले ट्रैफिक का हमेशा बना रहता है दबाव 

सेक्टर-62 मॉडल टाउन, इलेक्ट्रॉनिक सिटी, कोंडली, न्यू अशोक नगर के समीप गाजियाबाद और दिल्ली से आने वाले ट्रैफिक का दबाव हमेशा बना रहता है। मॉडल टाउन और इलेक्ट्रॉनिक सिटी के हाईवे से सटे होने के कारण यहां काफी लोगों का आना-जाना रहता है। यहां से ब्लू लाइन मेट्रो की भी कनेक्टिविटी है। यहां निजी वाहनों के अलावा व्यावसायिक वाहन व ऑटो, ई-रिक्शा चालकों का भी जमावड़ा लगा रहता है। 

कुछ जगहों पर ट्रैफिक का दबाव ज्यादा 

यही हाल गाजियाबाद के तरफ भी रहता है। इस बारे में डीसीपी ट्रैफिक गणेश प्रसाद साहा ने बताया कि जिले के बॉर्डर एरिया को जाम मुक्त बनाने का प्रयास किया जा रहा है। कुछ स्थानों पर ट्रैफिक का दबाव अधिक है। इससे निपटने के लिए बॉर्डर ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम के तहत दिल्ली और गाजियाबाद के साथ मिलकर गूगल के सहयोग से काम किया जाएगा। 

दिल्ली यातायात पुलिस ने बनाई आईटीएमएस की योजना 

उधर, राजधानी दिल्ली में भी जाम की समस्या में कमी लाने और वाहनों की तेज आवाजाही सुनिश्चित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। दिल्ली यातायात पुलिस ने एकीकृत यातायात प्रबंधन प्रणाली (आईटीएमएस) की योजना तैयार की है। नई प्रणाली ‘मशीन लर्निंग’ और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) पर काम करेगी। एंबुलेंस और दमकल जैसी आपात सेवा की गाड़ियों को तुरंत रास्ता देने में अहम भूमिका निभाएगी।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर