Sunburn Home Remedy: कई घातक बीमारियों को न्योता देता है सनबर्न, जानिए इसके घरेलू इलाज

Sunburn Home Remedy: धूप में निकलने से सूरज से निकलने वाली पराबैंगनी किरणों का सीधा असर हमारी स्किन पर पड़ता है जिससे सनबर्न हो जाते हैं। यह आगे चलकर कई बड़ी बीमारियों का कारण बन जाता है। जानिए इसके घरेलू इलाज-

sunburn home remedy
सनबर्न का घरेलू इलाज 

मुख्य बातें

  • धूप में निकलने से सूरज से निकलने वाली पराबैंगनी किरणों का सीधा असर हमारी स्किन पर पड़ता है
  • सनबर्न आगे चलकर कई सारी घातक स्किन बीमारियों का कारण बन जाता है
  • सनबर्न से छुटकारा पाने के कई सारे घरेलू इलाज हैं

गर्मी का सीजन आ गया है और इस सीजन में जिस चीज से सबसे ज्यादा परेशानी होती है वह है सनबर्न। सूरज से निकलने वाली घातक पराबैंगनी किरणें (UV Rays) सीधे हमारे स्किन पर पड़ती है और वह उसे जला देती है। धूप में निकलने पर स्किन पर टैन पड़ जाते हैं जिससे स्किन गर्मियों में जल्दी ही काली हो जाती है। धूप में बाहर निकलने से शरीर का जो हिस्सा सूरज की किरणों से सीधे संपर्क में आता है उस पर इसका बेहद बुरा प्रभाव पड़ता है। 

गर्मियों में स्विमिंग, फिशिंग और पिकनिक करने में लोगों को बड़ा मजा आता है ऐसे में सनबर्न होना का खतरा ज्यादा रहता है क्योंकि ऐसे इवेंट में हमारी स्किन ज्यादा से ज्यादा देर तक सूरज के संपर्क में रहती है। ज्यादा सनबर्न हो जाने से स्किन पर लाल निशान पड़ जाते हैं और ये दर्दनाक हो जाता है। सूरज की किरणों में रहने से तुरंत सनबर्न नहीं होते हैं बल्कि 4 या 5 घंटों के भीतर इसका असर होने लगता है। अगर सही समय पर इस पर ध्यान नहीं दिया गया या इसका इलाज नहीं किया गया तो इससे स्किन कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।

इन बातों का रखें ध्यान

बाहर रहें तो सुबह 10 बजे से 4 बजे तक ही सूरज की किरणों से संपर्क में रहें। 
फुल कवर्ड कपड़े पहनें जिससे ज्यादा से ज्यादा आपकी स्किन ढंकी रहे। साथ में चौड़े सनग्लास और हैट भी पहनें।
दिन में कई बार स्किन पर सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।

सनबर्न का घरेलू इलाज

बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा में एंटीसेप्टिक का गुण होता है जो स्किन पर होने वाले एलर्जी से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। बाथटब में ठंडा पानी भर लें और इसमें एक कप बेकिंग सोडा डाल कर अच्छी तरह से मिला लें। अब इस पानी में अपने आप को 1 मिनट तक भिगो कर रखें। नहाने के बाद हवा में अपने शरीर को सुखा लें। जब तक आपको अच्छा रिजल्ट ना मिले रोजाना ये काम करें। 

इसके अलावा चार बड़े चम्मच बेकिंग सोडा में पानी मिलाकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को कॉटन की मदद से प्रभावित जगहों पर लगाएं। 10 मिनट तक रखने के बाद इसे साफ ठंडे पानी से धो दें। दिन में कम से कम दो बार ये करें।

ओटमील
यह स्किन में नेचुरल मॉइश्चर बनाए रखता है और स्किन इरिटेशन को खत्म करता है। एक बाथटब में ठंडा पानी भरें इसमें एक कप ओटमील डाल कर अच्छी तरह से मिला लें। इस पानी में 1 घंटे तक अपने आप को भिगो कर रखें। अब नहाकर बाहर निकलने के बाद अपने आप को हवा में सुखाएं। हर रोज ये काम करें जब तक आपको इसका फायदा ना दिखे।

इसके अलावा ओटमील को पानी में डाल कर अच्छी तरह से कुक कर लें। अब इसे ठंडा होने दें फिर इस पेस्ट को प्रभावित जगहों पर लगाएं ध्यान रखें इसे लगाने के बाद रगड़ें नहीं। करीब आधे घंटे तक इसे स्किन पर लगा रहने दें फिर ठंडे पानी से धो लें। दिन में कम से कम तीन बार ये प्रक्रिया दोहराएं।

एलोवेरा
एलोवेरा की पत्तियों से इसका गुदा निकाल लें। अब इस जेल को आधे घंटे के लिए फ्रिज में रख दें। अब इस ठंडे चिल्ड एलोवेरा जेल को स्किन पर प्रभावित जगहों पर लगाएं। अब इसे खुद से ही पूरा सूख जाने दें। सूखने के बाद इसे ठंडे पानी से धो लें। दिन में कई बार ये प्रक्रिया दोहराएं।

ब्लैक टी
दो से तीन टी बैग गर्म पानी में डाल कर रखें। इसे कुछ मिनटों तक उसमें रहने दें। टी बैग को निकालने के बाद इसे रुम टेम्प्रेचर पर ठंडा होने दें। अब इस पानी में कॉटन भिगो कर स्किन पर प्रभावित जगहों पर लगाएं। कुछ दिनों तक दिन में कम से कम तीन से चार बार इस प्रक्रिया को दोहराएं।

दूध
एक कप गर्म दूध में चार कप पानी मिलाएं। अब इसमें कुछ आइस क्यूब मिलाएं। अब इसमें कॉटन को अच्छी तरह से भिगो कर स्किन पर प्रभावित जगहों पर लगाएं। अब इसपर सूखा साफ तौलिया डाल कर अच्छे से सुखाएं। इसे धोएं नहीं। अब दिन में चार-चार घंटों में इस प्रक्रिया को दोहराएं। कई दिन तक ऐसा करें।

नारियल का तेल
माइक्रोवेव में कोकोनट ऑइल गर्म करें। अब इस गर्म नारियल तेल को प्रभावित त्वचा पर लगाएं और धीरे-धीरे मसाज करें। कुछ दिनों तक इस प्रक्रिया को दोहराएं।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए है, इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रुप में नहीं लिया जा सकता। कोई भी स्टेप लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर कर लें।)

अगली खबर