Solo travelling for ladies: सिक्कीम, शिलांग से कोवलम तक, महिलाओं की सोलो ट्रिप के लिए बेस्ट हैं ये शहर

Solo Travelling: एक सर्वे के मुताबिक लगभग 75 प्रतिशत महिलाएं सोलो ट्रैवलिंग का इरादा रखती हैं या घूम चुकी हैं। ऐसे में आज हम आपके लिए इस लेख के माध्यम से शानदार पर्यटन स्थलों की सूची लेकर आए हैं।

Solo Travelling
Solo Travelling 

मुख्य बातें

  • देश के पूर्वोत्तर भाग मे स्थित सिक्किम सोलो ट्रैवलिंग के लिए शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है।
  • इतिहास में रखती हैं रुचि तो करें कर्नाटक के महलों के शहर मैसूर की सैर।
  • प्रकृति प्रेमियों के लिए हिमाचल प्रदेश शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है।

नई दिल्ली. पुरुष प्रधान समाज की बेड़ियों को लांघते हुए महिलाएं आज तेजी से आत्मनिर्भरता की ओर अपने कदम बढ़ा रही हैं। पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाली महिलाएं पर्यटन के क्षेत्र में भी पीछे नहीं हैं। यहां भी महिलाएं अकेले घूमने के लिए परिवार या पति पर निर्भर नहीं हैं। 

एक सर्वे के मुताबिक लगभग 75 प्रतिशत महिलाएं सोलो ट्रैवलिंग का इरादा रखती हैं या घूम चुकी हैं। आश्चर्य की बात तो यह हैं कि इनमें से करीब 58 प्रतिशत शादीशुदा महिलाएं अकेले घूमना पसंद करती हैं, जो सोलो ट्रैवलिंग कर अपनी बेटियों को एक मिसाल देना चाहती हैं।

आज हम आपके लिए सोलो ट्रेवलिंग के शानदार पर्यटन स्थलों की सूची लेकर आए हैं। जो एक दिलचस्प स्थलों के साथ एक सेफ जगह हैं आइए जानते हैं।

सिक्किम
भारत का सबसे कम आबादी वाला राज्य होने के बावजूद भी सिक्किम प्रकृति प्रेमियों के लिए एक शानदार पर्यटन स्थलों में से एक। महिलाओं के सोलो ट्रेवलिंग के लिए यह खूबसूरत पर्यटन स्थल है। देश के पूर्वोत्तर भाग मे स्थित सिक्किम दक्षिण में पश्चिम बंगाल से घिरा हुआ है। 

अक्टूबर से मई के दौरान सिक्किम की यात्रा आपके जीवन का एक यादगार पल होगा। सुंदर पहाड़ों, गहरी घाटियों से घिरा यह राज्य अपनी हसीन वादियों से पर्यटकों का मनमोह लेता है। 

यहां गुरपडोंगमार झील, युथांग घाटी, त्सोंगमो झील, गंगटोक और हरे भरे पेड़ों पर चहकती चिडिंया नेशनल पार्क की खूबसूरती को बयां करती है।

मुन्नार
मुन्नार केरल के सबसे लोकप्रिय गंतव्यों में से एक है। यहां पर लगभग 80 हजार की मील की दूरी तक चाय के बागान फैले हुए हैं। पहाड़ी ढ़लानों ले हरी चायपत्ती के बागानों का खूबसूरत और मनोरम दृश्य वास्तव में आपको मंत्रमुग्ध कर देगा। 

मुन्नार महिलाओं के सोलो ट्रेवलिंग के लिए लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में से एक है। यहां पर साल भर में लगभग लाखों की संख्या में प्रयटक घूमने के लिए आते हैं। 

मुन्नार का मौसम आमतौर पर ठंडा होता है और यहां का खुशनुमा वातावरण आपको स्फूर्ती से भर देगा। ऐसे में यदि आफ दक्षिणी भारत या केरल घूमने की योजना बना रही हैं तो मुन्नार केरल के सबसे शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। 

इन जगहों की करें सैर
मुन्नार यात्रा के दौरान एराविकुलम नेशनल पार्क, देवीकुलम, मट्टुपेटी, टॉप स्टेशन, टाटा टी म्यूजियम, इंडो स्विस डेयरी फार्म आदि शानदार पर्यटन स्थलों की सैर करें। मुन्नार की यात्रा आपको जन्नत का अहसास करवाएगी। यहां पर यात्रा का उचित समय अक्टूबर से मई है। 

मैसूर
मैसूर को कर्नाटक के एक शाही शहर की सूची में शामिल किया जाता है। मैसूर को महलों का शहर भी कहा जाता है। कर्नाटक के इस शहर पर टीपू सुल्तान ने भी एक लंबे समय तक राज किया है। ऐसे में यदि आप इतिहास में रुचि रखती हैं तो मैसूर आपके लिए शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। 

कर्नाटक का यह शहर सिल्क की साड़ियों के लिए भी जाना जाता है। यहां पर आप खूबसूरत सिल्क की साड़ियों की भी खरीदारी कर सकती हैं। मैसूर की सैर के लिए अक्टूबर से मार्च का समय काफी अच्छा है। इस दौरान आप कर्नाटक के इस ऐताहासिक शहर की खूबसूरती को देख सकती हैं।

वाराणसी
वाराणसी जिसे बनारस और काशी के नाम से भी जाना जाता है। बनारस की संस्कृति का गंगा नदी औऱ धार्मिक महत्व से एक अटूट और अहम रिश्ता है। आध्यात्म की यह नगरी अपने साथ कई प्राचीन कहानियों को समेटे खड़ी है। 

यह शहर सनातन हिंदू धर्म का सबसे पवित्र औऱ पूज्यनीय स्थलों में से एक है। गंगा गाट से उगते और डूबते सूरज को देखना वास्तव में आपके लिए एक अद्भुत होगा। 

यहां पर आप गंगा घाट पर आरती के दौरान शामिल हो सकती हैं तथा आश्रम में हो रहे सत्संग में भाग ले सकती हैं। बनारस की सैर के लिए फरवरी से मार्च और अक्टूबर से नवंबर का समय घूमने के लिए सबसे शानदार है।

बनारस की सैर के दौरान आप काशी विश्वनाथ मंदिर, दशाश्वमेध घाट, मणिकार्णिका घाट और भारत माता मंदिर के दर्शन और अद्भुत नजारा देख सकते हैं।

कसौल
हिमाचल प्रदेश की खूबसूरती को अपने में समटे खड़ा कसौल खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है। सोलो प्रेमी कसौल घूमना बेहद पसंद करते हैं। यहां पर आप चे पहाड़ों, गहरी घाटियों औऱ प्रकृति की खूबसूरती को अपने कैमरे में कैद कर सकते हैं। 

वास्तव में हिमाचल प्रदेश का यह शानदार पर्यटन स्थल किसी स्वर्ग से कम नहीं है। ऐसे में यदि आप अकेले घूमने का इरादा बना रही हैं तो कसौल आपके लिए शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। आपको बता दें कसौल घूमने का सबसे सर्वोत्तम समय फरवरी से मार्च औऱ अक्टूबस से नवंबर है।

यहां पर आप यात्रा के दौरान खीरगंगा, तोश, पिन पार्वती पास आदि को अपने पर्यटन स्थलों में अवश्य शामिल करें। 

शिलांग
शिलांग प्रकृति प्रेमियों के लिए एक शानदार पर्यटन स्थलों में से एक है। यहां पर आप प्रकृति के मनोरम दृश्य को देख मंत्रमुग्ध हो उठेंगे। मेघालय की राजधानी शिलांग की खूबसूरती आपको जन्नत का अहसास कराएगी। 

शिलांग शहर से 15 किलोमीटर की दूरी पर स्थित शिलांग झील पर आप उगते हुए सूरज के मनमोह दृश्य को देख मंत्रमुग्ध हो उठेंगी। यहां पर यात्रा का सर्वोत्तम समय अक्टूबर से मार्च है।

कोवलम
केरल की राजधानी तिरुवंतपुरम से 16 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कोवलम शानदार पर्यटन स्थलों के लिए देश दुनिया में शुमार है। यहां पर आप प्रकृति की सुंदरता और आकाश का समुद्र से प्रतिबिंब होते देख मंत्रमुग्ध हो उठेंगे।

वास्तव में केरल का यह अद्भुत नजारा पर्यटकों के आकर्षण का प्रमुख केंद्र है। यहां पर यात्रा का सर्वोत्तम समय अक्टूबर से मार्च है। कोवलम यात्रा के दौरान आप लाइटहाउस बीच, हैल्सीन कैसल, हवा बीच, कोवलम बीच आदि की सैर अवश्य करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर