Parent tips: बच्चों को बुरी आदतों से माता-पिता ऐसे रखें दूर, भूलकर भी उनके सामने न करें ऐसी बातें

Tips for parents: बच्चों के सामने माता-पिता को कुछ बातों का हमेशा ख्याल रखना चाहिए। क्योंकि इससे उनके बच्चों पर गलत प्रभाव पड़ सकता है।

Tips for parents
बच्चों को बुरी आदतों से माता-पिता ऐसे रखें दूर 
मुख्य बातें
  • बच्चों को माता-पिता की परछाई बताया जाता है।
  • माता-पिता खराब शब्दों का प्रयोग करते हैं तो इससे बच्चों पर गलत असर पड़ सकता है।
  • वहीं माता-पिता को बच्चों के सामने ये बातें कभी नहीं करनी चाहिए।

अक्सर ऐसा कहा जाता है कि बच्चे माता-पिता की परछाई होते हैं। अगर माता-पिता खराब शब्दों का उपयोग करते हैं या दूसरों के साथ अच्छा व्यवहार नहीं करते हैं तो इसका असर बच्चों पर भी देखने को मिल सकता है। क्योंकि ये आदतें बच्चे भी सीख सकते हैं। बता दें कि माता-पिता बच्चों के पहले गुरु होते हैं, इसलिए उन्हें अपने शब्दों और व्यवहार के बारे में सावधान रहना चाहिए, खासकर जब बच्चे आसपास हों। वहीं यह जानना बहुत जरूरी है छोटे बच्चों के सामने आपको क्या कहना और क्या नहीं करना चाहिए।

कभी भी किसी का अपमान न करें- अगर आप किसी का अपमान कर रहे हैं चाहे वह पड़ोसी हो या फिर परिवार के लोग तो आप बच्चों के सामने एक गलत मिसाल कायम कर रहे हैं। तब आप एक गलत मिसाल कायम करेंगे। आपका लोगों के साथ मतभेद हो सकता हैं या आप कई कारणों से किसी को नापसंद कर सकते हैं। लेकिन बच्चों के सामने उनके लिए अपना गुस्सा बाहर न निकालें। अगर आप ऐसा करते हैं तो वे भी उस व्यक्ति का अपमान करना शुरू कर सकते हैं, भले ही वह एक अच्छा व्यक्ति ही क्यों न हो।
 

शिष्टचार बनाए रखें- जब बच्चे आसपास हो तो पति और पत्नी शिष्टचार बनाए रखें। बच्चों के सामने इस तरह की गतिविधियों को करने से बचें, जिससे उनपर गलत प्रभाव पड़ें। हमेशा व्यवस्थि‍त और बेहतर स्वभाव बनाए रखें।

फोन और टीवी पर कम से कम समय बिताएं- अगर आपका बच्चा आपको दिन भर टीवी या फिर फोन में चिपके हुए देखता है तो वह भी अपने समय का उपयोग इसी तरह से करेगा। ऐसे में टीवी और फोन पर कम से कम समय बिताएं। हालांकि अगर आप घर से काम कर रहे हैं तो इस दौरान अपने बच्चों को यह बताएं कि आप ऑफिस का काम कर रहे हैं, लेकिन जब आप काम खत्म कर लें। तो सोशल मीडिया पर टाइम बर्बाद न करें।

'बॉडी शेमिंग' की सोच से दूर रहें- किसी की भी शरीर या फिर रंग रूप को लेकर उन्हें शर्मिंदा न करें। इस तरह से आप किसी को परेशान कर सकते हैं। अगर आप इस तरह के बर्ताव लोगों के साथ करते हैं तो बच्चे भी आपके इस बर्ताव को फॉलो कर सकते हैं। इसके अलावा कोई माता-पिता भी नहीं चाहता हैं कि उनका बच्चा किसी के साथ खराब बर्ताव करें।

खाना बर्बाद न करें- बच्चों को खाने के महत्व को समझाएं, उन्हें बताएं कि खाने जीवन में खाने की क्या अहमियत है। ऐसे में खाना बर्बाद न करें, उनका सही इस्तेमाल करें। इसके साथ ही उन्हें यह बताए कि खाना बर्बाद करना एक बुरी आदत है।

बच्चों के सामने कभी भी चीखे-चिल्लाए नहीं- अगर कोई परेशान करता है तो काफी गुस्सा आता है, लेकिन इससे अपना टेंपर लूज न करें, खास कर जब बच्चे आसपास हो। इससे निपटने के लिए बेहतर होगा कि आप बच्चों को दूसरे कमरे में भेज दें और फिर उस व्यक्ति के साथ मुद्दों को सुलझाए जो आपको गुस्सा दिलाता है। अगर आप बच्चों के सामने चीखते या फिर चिल्लाते हैं तो उन्हें ऐसा लगेगा कि ऐसा करना ठीक है।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर